--Advertisement--

महिलाओं ने पेयजल समस्या को लेकर किया प्रदर्शन

शहर के वार्ड 6 में हुई पानी की समस्या को लेकर मंगलवार को कई महिलाओं ने अपने हाथों में खाली मटके लेकर विरोध-प्रदर्शन...

Dainik Bhaskar

May 02, 2018, 06:30 AM IST
महिलाओं ने पेयजल समस्या को लेकर किया प्रदर्शन
शहर के वार्ड 6 में हुई पानी की समस्या को लेकर मंगलवार को कई महिलाओं ने अपने हाथों में खाली मटके लेकर विरोध-प्रदर्शन किया। इसके पहले महिलाएं सुबह जलदाय विभाग के कार्यालय भी पहुंची। लेकिन कार्यालय में विभागीय अधिकारी नहीं मिलने पर गुस्साई महिलाओं ने पेयजल संकट के विरोध में कार्यालय के बाहर मटका फोड़ प्रदर्शन करने की चेतावनी दी।

छावणी क्षेत्र के वार्ड की कई महिलाएं सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे पानी की समस्या का निस्तारण कराने की मांग को लेकर जलदाय विभाग कार्यालय पहुंची। वहां पर पता किया तो विभागीय अधिकारी किसी काम के लिए ग्राम ध्रुबाना जाने की जानकारी दी। कार्यालय में अधिकारी नहीं मिलने से महिलाओं की नाराजगी ओर बढ़ गई और उन्होंने पानी की समस्या के विरोध में जल्द ही मटका फोड़ प्रदर्शन करने की चेतावनी दी। आक्रोशित हुई महिलाओं का कहना था कि वार्ड 6 में करीब 2 महिनों से पानी की समस्या चल रही है, लेकिन अधिकारी कोई ध्यान नहीं दे रहे है। विभाग की ओर से जवाई बांध व ओपन कुंओं में पर्याप्त पानी होने के बावजूद भी एकांतरे जलापूर्ति दी जा रही है। पानी की सप्लाई का समय कम होने और नलों में पानी का प्रेसर काफी धीमा होने से घरों में दो-तीन मटके ही पानी नसीब होता है। ऐसे में बड़े परिवार वाले कई लोगों को निजी टैंडरों से पानी खरीदना पड़ता है। वार्ड में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति व आर्थिक स्थिति से कमजोर वर्ग के लोग ही अधिक रहते है, जिसमें कई परिवार निजी टैंकर से प्रतिदिन पानी खरीद भी नहीं पा रहे है। नगर पालिका के पार्षद प्रकाश कुमार मीणा ने भी वार्ड 6 में पानी की गंभीर समस्या बताई है। उन्होंने बताया कि तेज व असहनीय गर्मी में कम से कम प्रति व्यक्ति के लिए रोजाना 100 लीटर पानी की जरूरत होती है, लेकिन वार्ड में दी जा रही एकांतरे जलापूर्ति से 30-40 लीटर प्रतिदिन पानी उपलब्ध नहीं रहा है, ऐसे में पेयजल संकट के कारण कई लोगों के सामने पानी की समस्या हो गई है।

शिवगंज. पेयजल समस्या को लेकर प्रदर्शन करती महिलाएं।

प्रेशर से नहीं आता पानी

वार्ड में पानी सप्लाई की लाइन के पाइप छोटे ही लगे हुए है, जिससे नलों में पानी भी प्रेसर से नहीं आ रहा है। महिलाएं अपने हाथों में खाली मटके लेकर आई थी और अधिकारी नहीं होने पर वे सड़क पर मटका प्रदर्शन करते हुए वापस अपने घरों की ओर लौट गई। प्रदर्शन कार्यक्रम में पुष्पा देवी, हंजा बाई, चंपा देवी, धापु बाई, गहरी देवी, मोहिनी बाई, मंजु देवी समेत कई महिला व युवतियां मौजूद थी।

स्टोरेज की हो रही समस्या

उधर, विभागीय सूत्रों के अनुसार शहर की जलापूर्ति में सुधार लाने के लिए दो उच्चालाशयों का निर्माण पूर्ण हो गया। पहले पानी के स्टोरेज की समस्या होने से उपभोक्ताओं को एकांतरे जलापूर्ति दी जा रही है। नव निर्मित उच्चालाशयों से पानी का स्टोरेज बढ़ जाएगा। जिसका शीघ्र ही लोकार्पण करवाया जाएगा। इसके बाद शहर की जलापूर्ति भी सुव्यवस्थित हो जाएगी।

X
महिलाओं ने पेयजल समस्या को लेकर किया प्रदर्शन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..