11 साल अलग रहे, लोक अदालत में दंपती ने िफर थामा एक-दूजे का हाथ

Pali News - 11 साल पहले आपसी झगड़े के कारण जुदा हुए दंपती ने आपसी समझाइश के बाद शनिवार काे फिर से एक दूसरे का हाथ थामा। जिला...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:10 AM IST
Pali News - rajasthan news 11 years aside the couple again in the lok adalat39s hand
11 साल पहले आपसी झगड़े के कारण जुदा हुए दंपती ने आपसी समझाइश के बाद शनिवार काे फिर से एक दूसरे का हाथ थामा। जिला न्यायालय परिसर में शुरू राष्ट्रीय लोक अदालत में न्यायाधीश के समक्ष दंपती ने एक-दूसरे काे वरमाला पहनाकर खुशी-खुशी विदा हुए।

जानकारी के अनुसार 11 वर्ष पूर्व किस्तू प|ी राजू वाल्मीकि ने आपसी विवाद के चलते लड़ाई-झगड़ा करके अपने पुत्र-पुत्रियों के साथ अपने पति राजू को छोड़कर अपने पीहर चली गई। राजू भी दुखी होकर पाली छोड़कर जोधपुर चला गया। इसके बाद किस्तू ने राजू के विरुद्ध पारिवारिक न्यायालय में वर्ष 2009 में भरण-पोषण के लिए दावा प्रस्तुत किया, जिसकी वसूली पिछले 10 साल से न्यायालय में विचाराधीन थी। दंपती के न्याय मित्र अधिवक्ता मनोज बैरवा, अरिहंत चौपड़ा तथा पारिवारिक न्यायालय की न्यायाधीश मोहिता भटनागर ने इस दंपती के बीच समझाइश करवाई, इससे प्रभावित होकर 11 साल से अलग रह रहे पति-प|ी साथ रहने के लिए तैयार हो गए। शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत में दाेनाें ने एक-दूसरे को न्यायालय परिसर में न्यायाधीश मोहिता भटनागर, न्यायाधीश प्रवीर भटनागर, विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष न्यायाधीश आरिफ मोयल चायल व अपने पुत्र-पुत्रियों की मौजूदगी में एक-दूसरे को माला पहनाकर मुंह मीठा करवाकर न्यायालय से राजी-खुशी विदा हुए। इधर, शनिवार को पाली एवं तालुका विधिक सेवा समिति बाली, सोजत, जैतारण, सुमेरपुर, मारवाड़ जंक्शन, देसूरी, बर, सादडी, रायपुर न्यायालय परिसर में न्यायालयों में लंबित विभिन्न प्रकृति के प्रकरणों एवं प्री लिटिगेशन विवादों से संबंधित राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत आरंभ करने से पूर्व पौधे लगाने, पेड़ों को गोद लेने एवं पर्यावरण सुरक्षा का संदेश दिया। इस मौके पर स्थायी लोक अदालत के अध्यक्ष अजयकुमार ओझा, अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश रेनू श्रीवास्तव, मोटरयान दुर्घटना दावा अधिकरण न्यायाधीश दीपा गुर्जर, पारिवारिक न्यायालय न्यायाधीश मोहिता भटनागर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव आरिफ मोहम्मद खान चायल, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट नवीन मीणा, अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ज्योतिकुमार सोनी समेत कई जने मौजूद थे।

7520 में से 1444 प्रकरणों का निस्तारण राजीनामे से किया

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव चायल ने बताया कि लोक अदालत में संपूर्ण पाली न्यायक्षेत्र में पोस्ट लिटिगेशन एवं प्रि-लिटिगेशन के कुल 7520 प्रकरणों को रखे गए थे, जिसमें 1444 प्रकरणों का निस्तारण राजीनामा से करवाया गया। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन रविवार को भी किया जाएगा। लोक अदालत को सफल बनाने में बार एसोसिएशन अध्यक्ष नंदकिशोर बंसल, बैंच सदस्य अधिवक्ता मानसिंह आशिया, शंकरलाल गहलोत, जगदीशसिंह राजपुरोहित, किशनलाल साहू, विक्रम सिंह, किशोरसिंह राजपुरोहित, गजेंद्रसिंह मेड़तिया समेत कई अधिवक्ताओं का सहयोग रहा।

पाली. राष्ट्रीय लाेक अदालत में 11 साल बाद फिर एक हुए दंपती।

X
Pali News - rajasthan news 11 years aside the couple again in the lok adalat39s hand
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना