‘संघर्ष कभी खत्म ना होने वाली एक प्रक्रिया है’

Pali News - ‘जितना अधिक आप इतिहास के बारे में जानते हैं, उतना ही आप अपने बारे में जानते हैं। कोरेटा स्कॉट किंग ने एक बार कहा था...

Oct 13, 2019, 07:01 AM IST
‘जितना अधिक आप इतिहास के बारे में जानते हैं, उतना ही आप अपने बारे में जानते हैं। कोरेटा स्कॉट किंग ने एक बार कहा था ‘संघर्ष कभी खत्म न होने वाली एक प्रक्रिया है। स्वतंत्रता कभी जीती नहीं जाती है। आप इसे अर्जित करते हैं और इसे हर दौर में हासिल करते हैं।’

ऐसे लोग हैं जो सोचते हैं कि जीवन एक मैराथन है तो मैं इससे सहमत नहीं हूं। मुझे लगता है जीवन तो स्प्रिंट की एक श्रृंखला है। आपको बार-बार शुरुआत करने का मौका मिलता है और हमेशा आपके सामने लंबी, घुमावदार सड़क होती है। आपको विफलताएं मिलेंगी, लेकिन यदि आप इन विफलताओं को फीडबैक के रूप में देखना चाहते हैं तो यह अगली योजना बनाने में आपकी मदद करेगा।

मैं इसे समझाती हूं। जब बहुत समय पहले टेनिस खेला करती थी। हर आती गेंद मुझे नया अवसर लगती थी। एक नैनोसेकंड से कम में मुझे यह तय करना होता था कि मैं इसे कहां हिट करने जा रही हूं। अगर मैं गेंद को हिट करती हूं और यह वाइड हो जाती है, तो मैं उस जानकारी को लेती हूं, मैं इसके बारे में अपने दिमाग में सुधार तैयार करती हूं, मैं इसे अपने कम्प्यूटर यानी मस्तिष्क में दर्ज करती हूं ताकि मैं अगली बार के लिए तैयार हो जाऊं। जब मुझे वैसा ही शॉट मिलेगा, तो मैं सुधार कर सकती हूं। तो आपको क्या लगता है ... यह विफलता है या प्रतिक्रिया ? यह वास्तव में प्रतिक्रिया है, विफलता नहीं।

वॉरेन बफेट और बिल गेट्स से एक बार एक जैसा सवाल पूछा गया। उन्हें यह अलग-अलग पूछा गया और उन्हें नहीं पता था कि ऐसा कुछ है। सवाल था- ‘बढ़िया काम करने से जुड़ा हुआ सबसे अच्छा शब्द कौन-सा है?’ और दोनों का एक ही जवाब था, ‘फोकस’। मैं चाहती हूं कि आप सावधान रहें और ध्यान दें। अपने शरीर की सुनें क्योंकि स्वास्थ्य ही धन है। आपको अपने भविष्य के बारे में आशंका हो सकती है - आपके पास कौन सी नौकरी होगी, आप पांच साल और 25 साल में कहां होंगे। अभी आपके पास सभी जवाब नहीं हैं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि आप बैठे रहकर जवाबों का इंतजार नहीं करेंगे।

इस क्लास की लड़कियां वास्तव में अपने पेशेवर जीवनकाल में समान काम के लिए समान वेतन हासिल करने वाली महिलाओं की पहली पीढ़ी हो सकती हैं। ऐसा करने के लिए बहुत-सी चीजों को जगह देनी होगी। मैंने एक नया शोध पढ़ा है जिसमें कहा गया कि विकसित बाजारों में सभी महिलाएं पहली पीढ़ी की होंगी जो ‘जेंडर पे गैप’ को करीब से देख सकेंगी। लेकिन यह तभी संभव है जब अगर 2017 की इस क्लास और आपके समकालीन लोग, रणनीतिक विकल्प बनाते हैं और अधिक डिजिटल स्किल्स हासिल करते हैं। इसी तरह व्यवसाय, सरकार और शिक्षा से जुड़े लोग भी अपना महत्वपूर्ण समर्थन प्रदान करते हैं। संभवत: यह विकसित देशों में 2044 में होगा, और विकासशील देशों के लिए यह 2066 तक हो सकता है। मैं उम्मीद कर रही थी कि मैं इसे अपने जीवनकाल में देखूंगी, लेकिन मुझे ऐसा होता दिख नहीं रहा है। समान कार्य के लिए समान वेतन एक सपना नहीं होना चाहिए। यह आपकी पीढ़ी के लिए आजादी के इनाम में से एक होना चाहिए। इस दुनिया को बेहतर बनाने के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है। पिछले रविवार की रात, मैं टोनी अवार्ड्स देख रही थी। मैं 23 साल के बेन प्लाट की एक्सेप्टेंस स्पीच से बहुत प्रभावित हुई। उन्होंने कहा, ‘घर पर देख रहे सभी युवाओं के लिए यह कह रहा हूं। किसी और की तरह बनने की कोशिश में समय बर्बाद मत करो, क्योंकि जो चीजें आपको अजीब बनाती हैं वे ही चीजें आपको शक्तिशाली बनाती हैं।’

हम हर समय उनके बारे में बात करते रहे जिन लोगों को आंतरिक और बाहरी सफलता मिली है। ये लोग कौन हैं? उनके पास क्या है? हम तीन आसान चीजों पर पहुंचे। पहला, रिश्ते सब कुछ हैं - खुद के लिए, दूसरों के लिए, सभी के लिए ...। दूसरा, कभी सीखना बंद मत करो, यह सीखना भी बंद मत करो कि कैसे सीखा जाता है। तीसरा है समस्या का समाधान करने वाले बनो।’(16 जून, 2017 को नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी में अमेरिका की पूर्व टेनिस खिलाड़ी, बिली जीन किंग)

बिली जीन किंग

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना