पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Rajasthan News Rajasthan News 97 Years Ago The British Showered Bullets On The Tribals In Liludi Badli Here Tomorrow Will Celebrate Tribal Day For The First Time

97 साल पहले लीलूड़ी बड़ली में आदिवासियों पर अंग्रेजों ने बरसाई थी गोलियां, यहां कल पहली बार मनाएंगे आदिवासी दिवस

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | सिरोही/रोहिड़ा

जिले के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र भूला गांव के लीलूड़ी बड़ली में प्रस्तावित शहीद स्मारक स्थल पर 9 अगस्त को पहली बार जिला प्रशासन की ओर से विश्व आदिवासी दिवस मनाया जाएगा। लीलूड़ी बड़ली में 5 मई 1922 को एकी आंदोलन के प्रणेता मोतीलाल तेजावत के नेतृत्व में लगान के विरोध में जुटे सैकड़ों आदिवासियों पर अंग्रेजों ने गोलियां चलाकर मौत के घाट उतार दिया था, जो इतिहास में राजस्थान का जलियावाला कांड के नाम से दर्ज है। इन आदिवासियों की शहादत की याद में यहां शहीद स्मारक भी प्रस्तावित है, जिसका शिलान्यास मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 5 जून 2013 को किया था।

राज्य सरकार के आदेश पर शुक्रवार को जिला प्रशासन यहां पहली बार आदिवासी दिवस मनाएगा। कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर कलेक्टर के निर्देश पर जनजाति परियोजना विकास अधिकारी व यूआईटी सचिव कुशल कोठारी ने भूला सरपंच कन्हैयालाल अग्रवाल एवं पूर्व जिलाध्यक्ष गरासिया समाज नींबाराम गरासिया के साथ कार्यक्रम स्थल का जायजा लिया। कार्यक्रम में जिले की सभी जनजाति छात्रावासों के विद्यार्थी भाग लेंगे। आदिवासी समाज की प्रतिभाओं को मंच पर बोलने का मौका दिया जाएगा। इस दौरान आदिवासी लोक नृत्य के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

एकी आंदोलन का साक्षी है यह वट वृक्ष

आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र भूला गांव के लीलूड़ी बड़ली स्थित इसी बड़ के वृक्ष के नीचे 5 मई 1922 को लगान के विरोध में सैकड़ों आदिवासी जुटे थे। इस दौरान अंग्रेजों ने उन पर गोलियां बरसांई थीं। इसी स्थान पर पूर्व की कांग्रेस सरकार ने स्मारक बनाने की घोषणा की थी। फोटो : प्रकाश माली

दानवाव जनजाति छात्रावास में भी होगा आयोजन

आबूरोड़ | आदिवासी दिवस पर जनजाति आवासीय विद्यालय दानवाव में भी आयोजन होगा। जनजाति विकास विभाग के परियोजना अधिकारी ने बताया कि विश्व आदिवासी दिवस जिला स्तरीय कार्यक्रम लीलूड़ी बड़ली शहीद स्मारक भूला व ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम जनजाति आवासीय विद्यालय दानवाव में किया जाएगा, जिसमें क्षेत्र के संचालित आश्रम छात्रावास के छात्र-छात्राएं भाग लेंगे और प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएगी।

प्रतिभाओं के सम्मान कार्यक्रम पर भी की चर्चा

लीलूड़ी बड़ली शहीद स्मारक स्थल पर आदिवासी दिवस के जिला स्तरीय कार्यक्रम को लेकर जनजाति विकास परियोजना अधिकारी व यूआईटी सचिव कुशल कोठारी ने जनजाति बालिका छात्रावास में जनप्रतिनिधियों व समाज के प्रबुद्ध लोगों के साथ बैठक की। आदिवासी विश्व दिवस पर भील ऑटोनोमस कौंसिल डीसीसी सिरोही एवं एकलव्य भील युवा सेवा समिति सिरोही के तत्वावधान में तृतीय प्रतिभावान छात्र-छात्रा सम्मान समारोह पूर्व में सुनियोजित था जिसको लेकर समिति सदस्य मुकेश गमेती से चर्चा की। इस मौके एडीईओ भोपाराम मेघवाल, टीएडी कनिष्ठ लिपिक सुनील गुप्ता, भूला सरपंच कन्हैयालाल अग्रवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष गरासिया समाज नीबाराम गरासिया, पीईओ हीरालाल पुरोहित, जनजाति बालिका छात्रावास वार्डनर आरती गरासिया, अर्जुनराम कलबी सहित आदिवासी ग्रामीण उपस्थित रहे।

मंच पर साकार होगी आदिवासी संस्कृति, विद्यार्थियों से करेंगे साझा

कार्यक्रम में कलेक्टर सुरेंद्र कुमार सोलंकी समेत जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहेंगे। आदिवासी लोक नृत्य व गीतों की प्रस्तुतियों के साथ समाज के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं से मंच साझा किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रतिभाओ का सम्मान भी किया जाएगा। आयोजन में भूला, वालोरिया, वासा समेत आसपास के गांवों से लोग भी शामिल होंगे। जिला प्रशासन आयोजन की तैयारियों में जुट गया है।

खबरें और भी हैं...