अमेरिका ने हमारे मुजाहिदीनों को ट्रेनिंग दी, अब उन्हें आतंकी कहना गलत: इमरान

Pali News - पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अब अमेरिका पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। इमरान ने...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:10 AM IST
Bar News - rajasthan news america trained our mujahideen now it is wrong to call them terrorists imran
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अब अमेरिका पर आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है। इमरान ने अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की मौजूदगी को लेकर भी सवाल उठाए हैं। शुक्रवार को उन्होंने कहा कि सोवियत संघ के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका ने खुद पाकिस्तान के मुजाहिदीनों को जिहाद के नाम पर ट्रेनिंग दी थी। अब लंबी लड़ाई के बाद जब अमेरिकियों को अफगानिस्तान में जीत नहीं मिली तो हमें दोषी ठहराया जा रहा है, जो पूरी तरह से गलत है। हमने इस लड़ाई में 70 हजार लोगों को खो दिया। 7 लाख करोड़ रुपए की अर्थव्यवस्था गंवा दी। यह पाकिस्तान के साथ ठीक नहीं हुआ।

इमरान ने कहा कि 1980 के दशक में हमने मुजाहिदीन लोगों को सोवियत संघ के खिलाफ जिहाद करने के लिए प्रशिक्षित किया था, जब उन्होंने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था। इसलिए पाकिस्तान ने मुजाहिदीनों को तैयार किया और इसमें अमेरिका के सीआईए ने पूरी मदद की थी। इसके 10 साल बाद अमेरिकी अफगानिस्तान में आए। अब अमेरिकी अफगानिस्तान में हैं, इसलिए इस जिहाद को आतंकवाद कहा जा रहा है। यह बड़ा विरोधाभास है। मैं मानता हूं कि पाकिस्तान को तटस्थ होना चाहिए था, क्योंकि जिहाद में शामिल होकर ये समूह हमारे खिलाफ हो गए।

इमरान 2 हफ्ते में दूसरी बार पीओके में मुजफ्फराबाद पहुंचे

तस्वीर ट्वीटर से ली गई है। पाक क्रिकेटर शाहिद अाफरीदी भी पीओके पहुंचे।

रावलपिंडी और एबटाबाद से लाए लोग, रैली पूरी तरह फ्लॉप रही

कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के बाद से बौखलाए इमरान खान दो हफ्ते में दूसरी बार पीओके पहुंचे। शुक्रवार को भी वह पीओके के मुजफ्फराबाद पहुंचे। यहां उन्होंने कश्मीरी नागरिकों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए जलसा कार्यक्रम को संबोधित किया। पर यह रैली पूरी तरह फ्लॉप रही, पीओके के एक्टिविस्ट अमजद अयूब मिर्जा ने कहा कि इस रैली के लिए लोगों को पाक के रावलपिंडी और एबटाबाद से ट्रकों में लाया गया था। जलसे में इमरान ने कहा कि मैं संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर का मसला उठाऊंगा और दुनिया को इसके बारे में जानकारी दूंगा। कश्मीर मसले पर पाक को मुस्लिम देशों से समर्थन नहीं मिला, क्योंकि उनके भारत के साथ आर्थिक हित जुड़े हुए हैं। मैं जानता हूं कि आप में से कई लोगों एलओसी पर जाना चाहते हैं, लेकिन मैं कहता हूं कि अभी एलओसी पार करने की जरूरत नहीं है। आप लोग तब ही एलओसी पर जाना, जब मैं आपसे जाने को कहूं। इमरान ने पीएम मोदी को कायर बताया।

इमरान पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में जाएंगे, 2 बार ट्रम्प से मिलेंगे

इमरान पहली बार संयुक्त राष्ट्र महासभा के किसी सत्र में हिस्सा लेने के लिए इस माह के आखिर में अमेरिका जाएंगे। इस दौरान वह अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से दो बार मुलाकात करेंगे। इमरान महासभा के 74 वें सत्र में भाग लेने के लिए 21 सितंबर को न्यूयॉर्क पहुंचेंगे। वह 27 सितंबर को महासभा को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम के अनुसार ट्रम्प और इमरान की पहली मुलाकात दोपहर के भोजन पर, दूसरी चाय पर होगी। यह इमरान की अमेरिका की दूसरी यात्रा होगी।

Bar News - rajasthan news america trained our mujahideen now it is wrong to call them terrorists imran
X
Bar News - rajasthan news america trained our mujahideen now it is wrong to call them terrorists imran
Bar News - rajasthan news america trained our mujahideen now it is wrong to call them terrorists imran
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना