• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pali
  • Pali News rajasthan news awe of swine virus last farewell to the retired employee after wearing a mask two suspected patients found

स्वाइन वायरस का खौफ - मास्क पहनकर रिटायर्ड कर्मचारी को दी अंतिम विदाई, दो संदिग्ध मरीज मिले

Pali News - पाली. स्वाइन फ्लू से पीड़ित एक मरीज ने जोधपुर में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मंगलवार को उसका शव पाली पहुंचा। बापू...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 05:26 AM IST
Pali News - rajasthan news awe of swine virus last farewell to the retired employee after wearing a mask two suspected patients found
पाली. स्वाइन फ्लू से पीड़ित एक मरीज ने जोधपुर में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। मंगलवार को उसका शव पाली पहुंचा। बापू नगर निवासी इस मरीज की अंतिम यात्रा में शरीक हुए लाेगों ने भी सतर्कता बरतते हुए अपने मुंह पर मास्क लगा रखे थे। हिंदू सेवा मंडल के मोक्षधाम में जब मरीज का अंतिम संस्कार किया जा रहा था, तभी भी सभी लोगों के मुंह पर मास्क थे। शहर में स्वाइन से इस सीजन में यह तीसरी मौत है।

स्वाइन फ्लू से जुड़े सभी प्रश्न जो आप जानना चाहते हैं, दूर कीजिए अपना वहम

1 प्रश्न. क्या स्वाइन फ्लू की संभावना होने पर स्वाइन फ्लू की जांच की हमेशा जरूरत है ?

उत्तर : नहीं, स्वाइन फ्लू के इलाज के लिए मरीज के लक्षण मात्र से इलाज किया जाता है। जांच मात्र कुछ ही मरीजों में की जाती है, जिसका मुख्य उद्देश्य मरीज के इलाज में बदलाव न होकर आंकड़े एकत्र करना होता है, जिससे एपिडेमिक इत्यादि की स्थिति पर नजर रखी जा सके। प्राइवेट में जांच जहां 6 से 8 हजार की है। वहीं सरकारी अस्पतालों में या तो उपलब्ध नहीं है या 2 से 5 दिन में रिपोर्ट आती है, जिससे मरीज घबराते हैं कि जांच नहीं हो पा रही, जबकि लगभग सभी मरीजों में मात्र लक्षणों के आधार पर दवा आरंभ करना होती है।

2 प्रश्न : स्वाइन फ्लू के लक्षण क्या है ?

स्वाइन फ्लू को गंभीरता के लक्षणों के आधार पर 3 श्रेणी में बांटा गया है।


3 प्रश्न : क्या स्वाइन फ्लू बेहद खतरनाक है?

उत्तर : नहीं, 90 प्रतिशत से अधिक केस स्वतः ठीक हो जाते हैं। बाकी में कैटेगरी बी के समय टेमीफ्लू दिए जाने से कोई खतरा नहीं होता। गलती सिर्फ केटेगरी बी लक्षणों को नजरअंदाज करने या चिकित्सक द्वारा लक्षण न पकड़ पाने से होती है। इसलिए कैटेगरी बी लक्षण के 48 घंटों के भीतर ही टेमीफ्लू आरंभ कर देना बेहद कारगर होता है।

(जैसा एक्सपर्ट चिकित्सकों ने बताया...)



स्वाइन फ्लू के दो संदिग्ध मिले, आज आएगी रिपोर्ट

स्वाइन फ्लू प्रभारी डॉ. चौधरी ने बताया कि बुधवार को स्वाइन फ्लू के दो संदिग्ध मरीज मिले है। दोनों मरीजों की जांच की गई है। स्वाइन फ्लू की रिपोर्ट गुरुवार को आएगी। इसमें एक व्यक्ति की हालात गंभीर होने पर उसे आईसीयू में भर्ती किया गया है। इधर, बुधवार को बांगड़ अस्पताल में सर्दी-जुकाम से जुड़े 241 मरीजों की ओपीडी हुई, जिसमें ए कैटेगरी के 74 और बी कैटेगरी के 68 मरीज मिले। बी कैटेगरी के मरीजों को टेमीफ्लू दी गई है। उन्होंने बताया कि जिलेभर में अब तक स्वाइन फ्लू पॉजिटीव के 34 मरीज मिले है, जिसमें पाली क्षेत्र के 14 है। वहीं अब तक स्वाइन फ्लू से 2 के मौत की पुष्टि हुई है। वहीं तीसरे व्यक्ति की रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है।

एडीएम व एसडीएम ने बांगड़ अस्पताल का किया निरीक्षण

राजकीय बांगड़ अस्पताल में व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए बुधवार को एडीएम भागीरथ विश्नोई व एसडीएम रोहिताश्वसिंह तोमर ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कंप्यूटर खिड़की व निशुल्क दवा की दुकान का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान एडीएम विश्नोई ने पीएमओ डॉ. एडी राव से हॉस्पिटल के व्यवस्थाओं की जानकारी ली। वहीं स्वाइन फ्लू प्रभारी डॉ. एचएम चौधरी से भी स्वाइन फ्लू के मरीजों की जांच, संदिग्ध मरीज मिलने पर सर्वे करने के निर्देश दिए। इस मौके पर चिकित्सा विभाग के कई अधिकारी मौजूद थे।

X
Pali News - rajasthan news awe of swine virus last farewell to the retired employee after wearing a mask two suspected patients found
COMMENT