पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Rajasthan News Rajasthan News For The First Time In 50 Years Khetlaji Locker And Guest House Locked

50 साल में पहली बार खेतलाजी भोजनशाला व गेस्ट हाउस पर ताला

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

प्रवासी लोग गांवों में पहुंच रहे हैं,प्रशासन अलर्ट

देसूरी. कोरोना के चलते मुम्बई, पूना सहित अन्य शहरों स्कूल, कॉलेजों सहित दुकानें बंद होने के कारण अब प्रवासी लेाग अपने गांव पहुंच रहे हैं। प्रवासी लोगों के गांवों मंे अाने के साथ ही प्रशासन अलर्ट हो गया है। पुलिस ऐसे लोगों पर बराबर नजर बनाए रख रही है, जो अन्य शहरों से गांवों में पहुंचे हैं।

देसूरी. श्री सोनाणा खेतलाजी सारंगवास धाम पर जहां दिनभर भक्तों का तांता लगा रहता था। वहां पर सन्नाटा छाया हुआ है। वहीं 50 वर्षों में पहली बार कोरोना को लेकर श्री सोनाणा खेतलाजी ट्रस्ट कमेटी से भोजनशाला एवं गेस्ट हाउसों पर ताला लगाकर कार्मिकों को छुट्टी पर भेज दिया है। जबकि खेतलाजी मंदिर में पूजा-अर्चना को लेकर पुजारी मौजूद रहेंगे। शुक्रवार की शाम चेन्नई से साइकिल यात्री संघ खेतलाजी धाम पहुंचा था,जिसको ट्रस्ट की ओर से समझाइश कर शनिवार की सुबह रवाना कर दिया। जबकि नवरात्रि पर्व में खेतलाजी धाम पर हर रोज बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने के लिए आते हैं। मगर इस बार ट्रस्ट कमेटी ने कोरोना को देखते हुए मेला स्थगित कर दिया। श्री सोनाणा खेतलाजी ट्रस्ट कमेटी सारंगवास ने मंदिर पर भोजन और ठहरने की सुविधा पर रोक लगा दी। शनिवार की सुबह ट्रस्ट अध्यक्ष खरताराम चौधरी, कोषाध्यक्ष भगाराम चौधरी, व्यवस्थापक सोहनलाल टांक,कल्याणसिंह,गौत्तमसिंह की उपस्थिति में कोरोना को देखते हुए 50 वर्षों के बाद पहली भोजनशाला को भक्तों के लिए बंद करते हुए ताला लगा दिया है। वहीं गेस्ट हाउस को भी श्रद्धालुअाें के लिए बंद कर दिया है। ऐसे में सारंगवास खेतलाजी धाम पर आने वाले भक्तों के लिए 31 मार्च तक न तो भोजन एवं न ठहरने की कोई व्यवस्था होगी।
खबरें और भी हैं...