• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pali
  • Rajasthan News rajasthan news godrej warns loss of growth rate due to increased violence and intolerance

गोदरेज ने चेताया- बढ़ती हिंसा व असहिष्णुता से विकास दर काे नुकसान

Pali News - मुंबई | उद्याेगपति अादि गाेदरेज ने शनिवार काे चेताया कि बढ़ती असहिष्णुता, नफरत से जुड़े अपराध अाैर माेरल पुलिसिंग...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:35 AM IST
Rajasthan News - rajasthan news godrej warns loss of growth rate due to increased violence and intolerance
मुंबई | उद्याेगपति अादि गाेदरेज ने शनिवार काे चेताया कि बढ़ती असहिष्णुता, नफरत से जुड़े अपराध अाैर माेरल पुलिसिंग देश की अार्थिक वृद्धि काे गंभीर नुकसान पहुंचा सकती है। हालांकि, नए भारत और देश की अर्थव्यवस्था काे दाेगुना कर 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंचाने के विशाल नजरिए के लिए उन्हाेंने पीएम नरेंद्र मोदी को बधाई भी दी।



सेंट जेवियर्स काॅलेज की 150वीं वर्षगांठ पर अायाेजित कार्यक्रम में गाेदरेज ने कहा कि देश में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। भारी गरीबी देश को सता रही है। यह स्थिति विकास की रफ्तार काे गंभीर नुकसान पहुंचा सकती है और हमें अपनी क्षमताएं पहचानने से रोक सकती है। उन्हाेंने कहा कि देश में जाति-धर्म को लेकर हिंसा, महिलाअाें के खिलाफ हिंसा और दूसरे तरह की असहिष्णुता बढ़ रही है। यह सामाजिक समरसता के लिए अच्छी बात नहीं। सामाजिक माेर्चे के इन चिंताजनक हालात का असर वृद्धि दर पर भी पड़ सकता है। उन्हाेंने कहा कि देश में बेराेजगारी दर 6.1% है। यह 4 दशक में सबसे ज्यादा है। यह हालात जल्द से जल्द काबू करने जरूरी हैं। भारी जल संकट, प्लास्टिक का बढ़ता इस्तेमाल, लड़खड़ाती चिकित्सा सुविधाएं और हेल्थकेयर पर कम खर्च ऐसे मुद्दे हैं, जिन्हें संभालने के लिए युद्धस्तर पर कोशिशों में जुटने की जरूरत है।

------

नारायण मूर्ति बाेले- देश के हालात पर युवाअाें काे खुलकर बाेलना हाेगा:

इंफाेसिस के सह संस्थापक नारायण मूर्ति ने शनिवार काे कहा कि देश के विभिन्न हिस्साें में हाे रही घटनाअाें पर युवाअाें काे खुलकर बाेलना हाेगा। उन्हें कहना हाेगा कि यह वह देश नहीं है, जिसके लिए हमारे पूर्वजाें ने अाजादी हासिल की थी। इंफाेसिस के पहले नाॅन प्रमाेटर सीईअाे विशाल सिक्का के साथ अपने टकराव की अाेर इशारा करते हुए उन्हाेंने कहा- जब मैंने देखा कि इंफाेसिस के बुनियादी मूल्य कूड़ेदान में फेंके जा रहे हैं, तब मुझे बाेलना पड़ा था। सिक्का ने 2017 में इस्तीफा दे दिया था। सेंट जेवियर्स के कार्यक्रम में मूर्ति ने कहा, “एग्जीक्यूटिव के काम काे लेकर मैंने सार्वजनिक ताैर पर एक भी शब्द नहीं कहा है। लेकिन जब अाप देखते हैं कि 33 साल पुराने मूल्य कूड़ेदान में फेंके जाते हैं ताे अापकाे उठकर गुस्सा दिखाना हाेता है। नहीं ताे हम उन गलतियाें काे जारी हाेते रहने देंगे। 2014 में सीईअाे (सिक्का) का वेतन 55% बढ़ा। सीअाेअाे का वेतन 30% बढ़ा। मिडिल लेवल पर काम करने वाले किसी व्यक्ति का वेतन नहीं बढ़ा। सिक्याेरिटी गार्ड्स काे वेतन वृद्धि या अाेवरटाइम के बिना एक दिन ज्यादा काम करने काे कहा गया। यह मूल्याें का घाेर उल्लंघन है।’

X
Rajasthan News - rajasthan news godrej warns loss of growth rate due to increased violence and intolerance
COMMENT