उन्होंने डेब्यू के 38 साल बाद पहली बार गोल्ड जीता

Pali News - गोल्ड जीतने के बाद सिंगापुर की टीम। क्रिस्टीना ने 12 साल की उम्र में पहली बार 1981 में गेम्स में डेब्यू किया था ...

Dec 07, 2019, 08:05 AM IST
Bar News - rajasthan news he won gold for the first time after 38 years of his debut
गोल्ड जीतने के बाद सिंगापुर की टीम।

क्रिस्टीना ने 12 साल की उम्र में पहली बार 1981 में गेम्स में डेब्यू किया था

मनीला | फिलीपींस में चल रहे साउथ ईस्ट एशियन गेम्स में कई खिलाड़ियों की यादगार कहानियां हैं। उनमें से एक चर्चित कहानी है सिंगापुर की खिलाड़ी क्रिस्टीना थैम की। 50 साल की क्रिस्टीना ने 1981 में पहली बार इन गेम्स में हिस्सा लिया था। लेकिन गोल्ड अब जाकर 2019 में जीत सकी हैं, डेब्यू के 38 साल बाद। क्रिस्टीना ने डेब्यू के लगभग चार दशक बाद इन गेम्स में पहली बार गोल्ड जीता। वो भी एक नहीं दो। इससे पहले, वे कभी भी इन गेम्स में गोल्ड नहीं जीती थीं। स्विमर क्रिस्टीना ने सिंगापुर को अंडरवॉटर हॉकी के दो गोल्ड दिलाए। उन्होंने 4x4 और 6x6 इवेंट दोनों में गोल्ड जीते।

50 साल की स्विमर क्रिस्टीना को साउथ ईस्ट एशियन गेम्स में गोल्ड

2005 में प्रोफेशनल इवेंट में क्रिस्टीना ने वापसी की थी, बोलीं-अब रुकने वाली नहीं

क्रिस्टीना ने 7 साल की उम्र में स्वीमिंग शुरू की थी। एक बार वे परिवार के साथ मलेशिया घूमने गई थीं। वहां केनोइंग करते समय उनके पिता डूबते-डूबते बचे थे। उन्हें स्वीमिंग नहीं आती थी। इसके बाद पिता ने फैसला किया कि सभी को स्वीमिंग सीखनी चाहिए। वे कहती हैं, ‘मुझे साउथ ईस्ट एशियन गेम्स में वापसी की उम्मीद नहीं थी। न ही स्कोर करने और गोल्ड जीतने की। मैंने कभी नहीं सोचा था कि इतने बड़े गेम्स में एक बार फिर हिस्सा लेने का मौका मिलेगा।’

क्रिस्टीना ने 12 साल की उम्र में फिलीपींस में पहली बार इन गेम्स में हिस्सा लिया। उन्होंने 4x100 मी मिडले रिले में सिल्वर जीता था। वे कहती हैं, ‘तब मैं काफी छोटी थी। मुझे अपनी उस उपलब्धि का महत्व नहीं पता था।’ दो साल बाद उन्होंने इन गेम्स में 200 मी ब्रेस्टस्ट्रोक में सिल्वर जीता। इसके बाद उन्होंने कानून के क्षेत्र में करिअर बनाने के लिए खेल से दूरी बना ली। उन्हाेंने वकालत की पढ़ाई की और सिंगापुर में एक रियल एस्टेट कंपनी के लीगल डिपार्टमेंट को हेड करने लगीं। क्रिस्टीना बताती हैं, ‘2005 में मैंने अखबार में अंडरवॉटर हॉकी से जुड़ा एक आर्टिकल देखा। मुझे उसमें रुचि जागी। मैंने टीम स्पोर्ट्स से जुड़ने का फैसला किया। काफी ट्रेनिंग के बाद मुझे सिंगापुर की अंडरवॉटर हॉकी टीम में चुना गया। मुझे खुशी है कि 38 साल बाद मैंने वहीं वापसी की, जहां से मैंने शुरुआत की थी। अब मैं यहीं रुकने वाली नहीं हूं।’

Bar News - rajasthan news he won gold for the first time after 38 years of his debut
X
Bar News - rajasthan news he won gold for the first time after 38 years of his debut
Bar News - rajasthan news he won gold for the first time after 38 years of his debut
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना