• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pali
  • Pali News rajasthan news if you take more than 50 thousand cache then keep proof with it otherwise it will be seized the gift will also be examined
विज्ञापन

50 हजार से ज्यादा कैश ले जाएं तो प्रूफ साथ रखें, नहीं तो जब्त होंगे, गिफ्ट की भी होगी जांच

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 05:20 AM IST

Pali News - लोकसभा चुनाव की तारीखें तय हो जाने के बाद से ही कोड ऑफ कंडक्ट लागू हो चुका है। इससे अब नेता ही नहीं बल्कि आम आदमी पर...

Pali News - rajasthan news if you take more than 50 thousand cache then keep proof with it otherwise it will be seized the gift will also be examined
  • comment
लोकसभा चुनाव की तारीखें तय हो जाने के बाद से ही कोड ऑफ कंडक्ट लागू हो चुका है। इससे अब नेता ही नहीं बल्कि आम आदमी पर भी कई तरह की सख्ती लागू हो जाएंगी। 50 हजार रुपए से ज्यादा कैश ले जाने पर इसका पूरा हिसाब-किताब देना होगा। अगर नहीं दिया तो पैसा जब्त कर लिया जाएगा। राजनीतिक पार्टियां या उनके एजेंट्स वोटर्स को प्रभावित करने के लिए कोई भी तरीका न अपना सकें, इसके लिए इलेक्शन कमीशन की तरफ से कई प्रोविजन किए गए हैं।

बैंक अकाउंट्स की भी ली जाएगी रिपोर्ट : अगर किसी बैंक अकाउंट में पिछले दो-तीन महीने में एक लाख रुपए से ज्यादा की ट्रांजेक्शन नहीं हुई और चुनावों के दौरान ऐसी ट्रांजेक्शन मिली तो इस तरह की एक्टीविटी पर रिपोर्ट ली जाएगी। अकाउंट से आरटीजीएस से आगे कई अकाउंट्स में ट्रांजेक्शन की जाती है तो भी बैंकों को रिपोर्ट सब्मिट करनी होगी। अगर 10 लाख रुपए से भी ज्यादा की ट्रांजेक्शन किसी अकाउंट से होती है तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नोडल ऑफिसर को जानकारी इलेक्शन डिपार्टमेंट की तरफ से भेजी जाएगी। एनजीओ और सेल्फ हेल्प ग्रुप्स के पास होने वाली फंडिंग पर भी नजर रहेगी। मैरिज हॉल या कम्युनिटी हॉल्स में किए जाने वाले प्रोग्राम, जहां किसी तरह के गिफ्ट दिए जाएंगे तो टीम कार्रवाई करेगी। चुनाव के दौरान टोकन देकर गिफ्ट या कैश चेंज करने का काम होता है, इस पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

कैश पर नजर रखेगी स्पेशल टीम

चुनाव के लिए फ्लाइंग स्क्वायड और स्टेटिक सर्विलांस टीम बनाई गई हैं। अगर फ्लाइंग स्क्वायड या स्टेटिक सर्विलांस टीम चेकिंग करती है और किसी से 50 हजार रुपए से ज्यादा का कैश मिलता है तो उसे इसकी पूरी जानकारी देनी होगी। यह कैश कहां से आया और कहां लेकर जाना है, इसके पूरे डॉक्यूमेंट्स देने होंगे। अगर कैश को लेकर सही जानकारी नहीं दी तो टीम में शामिल ऑफिसर्स इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को सूचित करेंगे। ये कैश सीज कर लिया जाएगा। अगर आप 50 हजार रुपए से ज्यादा का कैश लेकर आ जा रहे हैं तो डॉक्यूमेंट साथ रखें।

भास्कर संवाददाता | पाली

लोकसभा चुनाव की तारीखें तय हो जाने के बाद से ही कोड ऑफ कंडक्ट लागू हो चुका है। इससे अब नेता ही नहीं बल्कि आम आदमी पर भी कई तरह की सख्ती लागू हो जाएंगी। 50 हजार रुपए से ज्यादा कैश ले जाने पर इसका पूरा हिसाब-किताब देना होगा। अगर नहीं दिया तो पैसा जब्त कर लिया जाएगा। राजनीतिक पार्टियां या उनके एजेंट्स वोटर्स को प्रभावित करने के लिए कोई भी तरीका न अपना सकें, इसके लिए इलेक्शन कमीशन की तरफ से कई प्रोविजन किए गए हैं।

बैंक अकाउंट्स की भी ली जाएगी रिपोर्ट : अगर किसी बैंक अकाउंट में पिछले दो-तीन महीने में एक लाख रुपए से ज्यादा की ट्रांजेक्शन नहीं हुई और चुनावों के दौरान ऐसी ट्रांजेक्शन मिली तो इस तरह की एक्टीविटी पर रिपोर्ट ली जाएगी। अकाउंट से आरटीजीएस से आगे कई अकाउंट्स में ट्रांजेक्शन की जाती है तो भी बैंकों को रिपोर्ट सब्मिट करनी होगी। अगर 10 लाख रुपए से भी ज्यादा की ट्रांजेक्शन किसी अकाउंट से होती है तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के नोडल ऑफिसर को जानकारी इलेक्शन डिपार्टमेंट की तरफ से भेजी जाएगी। एनजीओ और सेल्फ हेल्प ग्रुप्स के पास होने वाली फंडिंग पर भी नजर रहेगी। मैरिज हॉल या कम्युनिटी हॉल्स में किए जाने वाले प्रोग्राम, जहां किसी तरह के गिफ्ट दिए जाएंगे तो टीम कार्रवाई करेगी। चुनाव के दौरान टोकन देकर गिफ्ट या कैश चेंज करने का काम होता है, इस पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

गिफ्ट या लालच देने वालों की चैकिंग...

पार्टी कैंडिडेट, उसका एजेंट, वर्कर अगर किसी भी गाड़ी में इलेक्शन से संबंधित सामान, शराब, ड्रग्स, हथियार या 10 हजार रुपए तक की वैल्यू का गिफ्ट और 50 हजार रुपए से ज्यादा का कैश लेकर जा रहा होगा तो उसकी चेकिंग की जाएगी।

X
Pali News - rajasthan news if you take more than 50 thousand cache then keep proof with it otherwise it will be seized the gift will also be examined
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन