--Advertisement--

एनजीटी की एक्सपर्ट टीम ने फैक्ट्रियों का निरीक्षण कर कलेक्टर से जाने हालात

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 05:56 AM IST

Pali News - नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश पर शहर की प्रदूषण समस्या के ताजा हालात जानने के लिए रविवार को भी तीन...

Pali News - rajasthan news ngt39s expert team inspects the factories from the collector
नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के आदेश पर शहर की प्रदूषण समस्या के ताजा हालात जानने के लिए रविवार को भी तीन सदस्यों की एक्सपर्ट टीम पाली में ही रही। जोधपुर से सुबह आते ही सबसे पहले पुनायता औद्योगिक क्षेत्र की 5 फैक्ट्रियों का अचानक निरीक्षण किया।

टीम को देखकर उद्यमी एकबारगी हैरत में पड़ गए। टीम के सदस्यों ने फैक्ट्री में लगे सैटेलाइट युक्त फ्लोमीटर, प्रोसेसिंग का तरीका तथा उपयोग किए जाने वाले केमिकल की विस्तृत जानकारी ली। वे प्रत्येक मशीन के पास भी गए। वहां पर श्रमिकों से भी कपड़ा उत्पादन को लेकर काफी देर तक चर्चा की। ट्रीटमेंट प्लांटों का निरीक्षण कर वहां से पानी के सैंपल भी लिए। दिन में कलेक्टर दिनेश कुमार जैन भी एक्सपर्ट टीम से मिलने के लिए राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण मंडल कार्यालय में पहुंचे। कमेटी में पिलानी बिट्स कॉलेज के प्रोफेसर अजय प्रतापसिंह, राजस्थान यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एडी गुप्ता तथा केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण मंडल के सेवानिवृत्त सदस्य सचिन अकोलकर शनिवार को नेहड़ा बांध, बांडी नदी तथा ट्रीटमेंट प्लांटाें का निरीक्षण करने के बाद देर शाम को जोधपुर चले गए थे। रविवार सुबह पाली पहुंचकर पुनायता औद्योगिक क्षेत्र की फैक्ट्रियों में पहुंचे। वहां से निकलने वाले रंगीन पानी के आउटलेट को देखा। साथ ही फैक्ट्रियों में पता किया कि सैटेलाइट युक्त फ्लोमीटर चल रहे है या बंद हैं। उन्होंने प्रबंधकों से प्रदूषण बोर्ड की तरफ से जारी कंसेंट-टू-ऑपरेट भी मंगवाकर देखी। यहां से टीम के सदस्यों ने ट्रीटमेंट प्लांट-4 का निरीक्षण किया। यहां पर कुछ कमियों को देखने के बाद उद्यमियों का कहना था कि वे इस प्लांट का अपग्रेडेशन करवा रहे हैं। इसके लिए टेक्निकल बीड्स हो चुकी है।

किसानों प्रतिनिधियों ने दोहराया, नदी में फैक्ट्रियों का एक बूंद भी पानी नहीं आना चाहिए : किसान पर्यावरण संघर्ष समिति के महामंत्री तथा कांग्रेस नेता महावीरसिंह सुकरलाई की अगुवाई में किसानों के प्रतिनिधिमंडल ने एक्सपर्ट कमेटी के सदस्यों से मुलाकात कर उनको प्रदूषण से जुड़ा रिकॉर्ड सौंपा। साथ ही कहा कि फैक्ट्रियों के पानी ने किसानों को कंगाली के हालत पर खड़ा कर दिया है। इस पानी से पर्यावरण खराब होने के साथ लोग कई बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं।

सुकरलाई ने साफ तौर पर कहा कि बांडी नदी में ट्रीट या अनट्रीट पानी की एक बूंद भी नहीं आनी चाहिए। साथ ही किसानों की खराब हुई जमीन का मुआवजा दिलाने व बांडी नदी तथा नेहड़ा बांध भराव क्षेत्र की मिट्टी को सुधारने का कार्यक्रम लागू करने की मांग की।

पाली. ट्रीटमेंट प्लांट में एनजीटी टीम ने केया निरीक्षण।

कलेक्टर से भी एक्सपर्ट टीम ने ली जानकारी

कलेक्टर दिनेश कुमार जैन ने भी एक्सपर्ट कमेटी के सदस्यों से मिलकर प्रदूषण को लेकर पूरी जानकारी ली। राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण मंडल में कलेक्टर ने टीम के साथ करीब एक घंटे तक रूककर प्रशासन के समक्ष आने वाली चुनौतियों के बारे में जानकारी देने के साथ ही उनको सुझाव भी दिए।

X
Pali News - rajasthan news ngt39s expert team inspects the factories from the collector
Astrology

Recommended

Click to listen..