• Hindi News
  • Rajya
  • Rajasthan
  • Pali
  • Bar News rajasthan news on the birthday younger brother kishore passed away then grandfather muni never celebrated his birthday

जन्मदिन के दिन छोटे भाई किशोर गुजरेे तो फिर दादा मुनि ने कभी नहीं मनाया बर्थडे

Pali News - बॉलीवुड दो महान कलाकार... दोनों सगे भाई... दाेनों में अापसी प्यार भी बहुत था। रिश्ता ऐसा गहरा कि बड़े भाई अशोक कुमार के...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:06 AM IST
Bar News - rajasthan news on the birthday younger brother kishore passed away then grandfather muni never celebrated his birthday
बॉलीवुड दो महान कलाकार... दोनों सगे भाई... दाेनों में अापसी प्यार भी बहुत था। रिश्ता ऐसा गहरा कि बड़े भाई अशोक कुमार के जन्मदिन के दिन ही छोटे भाई किशोर कुमार ने जिंदगी को अलविदा कहा। आज ही वह दिन है। यहां हम दाेनों की चुहलबाजी, प्यार-स्नेह से जुड़े कुछ किस्से पाठकों से शेयर कर रहे हैं।

किशोर के मुंह से पहली बार निकला ‘दादा मुनी’

जब किशोर एक साल के थे तब बड़े भाई अशोक पढ़ाई के लिए बाहर चले गए। किशोर के 4 साल के होने पर वह छुट्टियों में घर आए। किशोर उनसे अपरिचित थे। उस दिन मां ने खीर बनाई। किशोर को वह बहुत पसंद थी तो वे खीर के इंतजार में बैठ गए। लेकिन मां ने खीर का कटोरा अशोक कुमार के आगे रख दिया। यह देखकर किशोर झट से मां के पास पहुंचे और पूछा…मां इस हट्टे-कट्टे मुश्टंडे को इतनी खीर क्यों दे रही हो? तब मां ने बताया कि वो तुम्हारे बड़े भाई हैं। उस दिन किशोर दा ने झट से उन्हें गले लगाकर कहा-‘दादा मुनी’। इसलिए अशोक कुमार काे दादा मुनी नाम से भी जाना जाता था।

भाई की खातिर पैसे नहीं छोड़े

बिमल राय के निर्देशन में ‘परिणिता’ (1953) बन रही थी, जिसके निर्माता वह मुख्य हीरो अशोक कुमार थे। इसके गाने, ‘ऐ बांदी तुम बेगम बनो…’ की रिकॉर्डिंग चल रही थी। किशोर कुमार और आशा भोंसले आ चुके थे। रिकॉर्डिंग पूरी हो गई तो वादकों को पैसा दिया जाने लगा। अचानक किशोर कुमार को मसखरी सूझी और उछल कर सामने आए और कहा कि हमारा पइसा कहां है? बांटने वाले चेहरा ताकने लगे कि प्रोड्यूसर साहब के भाई ही पैसा मांग रहे हैं। बात अशोक कुमार को पता चली, तो आते ही उन्होंने किशोर को डांटकर कहा, ‘चुप रह, क्या तू मेरी ही फिल्म के लिए मुझसे पैसा मांगेगा। मसखरी छोड़ और सीधे घर जा।’ मगर किशोर कुमार नहीं माने। बड़े भाई पर दबाव बनाने हाथ-पांव पटकने लगे। आखिर इज्जत बचाने अशोक कुमार को उन्हें एक हजार रुपए देने पड़े।

भाई की मौत से टूट गए अशोक कुमार:

13 अक्टूबर 1987 को अशोक कुमार का 76वां जन्मदिन मनाया जाना था। उस दिन किशोर ने अपने चहेते दादा मुनि के सम्मान में एक बड़ी पार्टी का प्लान किया था। पूरे बॉलीवुड को न्योता भेजा गया। किशोर का बेटा अमित भी लंदन से पढ़ाई पूरी करके आ रहा था। जश्न जैसा इंतजाम था। उसी शाम 4 बजकर 45 मिनट पर किशोर की हार्ट अटैक से मौत हो गई। अपने छोटे भाई की मौत से अशोक कुमार इतने टूट गए कि उन्होंने इसके बाद फिर कभी अपना जन्मदिन नहीं मनाया।

शूट कराकर ही माने: किशोर कुमार कोई पैंतरा खेलकर एक्टिंग से बचकर भाग जाते थे। एक बार एक सीन में अशोक कुमार ने किशोर के दोनों पैरों पर अपना पैर रख दिया और उन्हें हिलने का मौका भी नहीं दिया, तब जाकर कहीं ये सीन शूट हो सका।

Bar News - rajasthan news on the birthday younger brother kishore passed away then grandfather muni never celebrated his birthday
X
Bar News - rajasthan news on the birthday younger brother kishore passed away then grandfather muni never celebrated his birthday
Bar News - rajasthan news on the birthday younger brother kishore passed away then grandfather muni never celebrated his birthday
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना