चूरू की ओपीजेएस यूनिवर्सिटी ने किया ‌Rs.24.51 लाख का स्कॉलरशिप घोटाला

Pali News - सीकर/राजधानी हरियाणा| चूरू के ओपीजेएस यूनिवर्सिटी में सिलाई सिखाकर स्कॉलरशिप के फर्जी दाखिले दिखाकर घोटाला करने...

Sep 14, 2019, 07:10 AM IST
सीकर/राजधानी हरियाणा| चूरू के ओपीजेएस यूनिवर्सिटी में सिलाई सिखाकर स्कॉलरशिप के फर्जी दाखिले दिखाकर घोटाला करने का बड़ा मामला सामने आया है। जांच में सामने आया है कि 41 स्टूडेंट्स का फर्जी एडमिशन दिखाकर 24.51 लाख का घोटाला किया गया है।

यूनिवर्सिटी ने सांठगांठ करके हरियाणा की कुछ छात्राओं के फर्जी दाखिले दिखा दिए। इसके आधार पर सरकार से स्कॉलरशिप उठाई गई। हरियाणा में इसकी शिकायत हुई और विजिलेंस ने जांच की तो फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। विजिलेंस टीम ने जिन छात्राओं के दाखिले दिखाए गए, उन्हें बुलाकर यूनिवर्सिटी में कोर्स में एडमिशन के बारे में पूछा तो छात्राओं ने कहा कि उन्होंने कहीं पर दाखिला नहीं लिया है और उन्होंने ओपीजेएस यूनिवर्सिटी का नाम ही नहीं सुना।

मामले में पंचकूला विजिलेंस ने विवि के चेयरमैन व रजिस्ट्रार के अलावा चार और लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। जबकि दूसरे मामले में पंचकूला एवं यमुनानगर में हुए गबन के मामलों में अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के एक उप निदेशक व एक रिटायर्ड उपनिदेशक समेत छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इन लोगों ने करीब 64 लाख रुपए का घोटाला किया है। तीनों मामलों में गरीब बच्चों के नाम पर करीब 88 लाख रुपए हड़प लिए गए।













विजिलेंस की जांच रिपोर्ट में बताया गया है कि यमुनानगर में 41 विद्यार्थियों का ओपीजेएस विश्वविद्यालय चूरू में अलग-अलग कोर्सों में पढ़ना दिखाकर स्कॉलरशिप ली गई। जबकि इन विद्यार्थियों ने बताया कि उन्होंने न तो कभी विश्वविद्यालय में पढ़ाई की और न ही कभी स्कॉलरशिप के लिए आवेदन किया। पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप घोटाले में यमुनानगर और पंचकूला जिले की जांच रिपोर्ट आने के बाद विजिलेंस ब्यूरो ने पंचकूला विजिलेंस थाने में दो एफआईआर दर्ज कर ली है। विश्वविद्यालय के चेयरमैन व रजिस्ट्रार के अलावा चार और लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। जबकि दूसरे मामले में पंचकूला एवं यमुनानगर में हुए गबन के मामलों में अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के एक उप निदेशक व एक रिटायर्ड उपनिदेशक समेत छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इन लोगों ने करीब 64 लाख रुपए का घोटाला किया है। तीनों मामलों में गरीब बच्चों के नाम पर करीब 88 लाख रुपए हड़प लिए गए।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना