रानी कलां सरपंच संतोष भाटी चार महीने बाद हुई निलंबित

Pali News - शिक्षक पति के साथ रिश्वत लेने का मामला भास्कर न्यूज | रानी करीब 4 महीने पहले रानी कला गांव में 10 हजार रुपए की...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 05:36 AM IST
Rani News - rajasthan news rani kalan sarpanch santosh bhati suspended after four months
शिक्षक पति के साथ रिश्वत लेने का मामला

भास्कर न्यूज | रानी

करीब 4 महीने पहले रानी कला गांव में 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार की गई महिला सरपंच संतोष भाटी को ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग ने निलंबित कर दिया है। सरपंच के साथ उसका शिक्षक पति भी रिश्वत लेने में सहयोग करने के आरोप में पकड़ा गया था। गत 1 नवंबर को रानी कलां के रहने वाले रमेश कुमार सैन ने जोधपुर एसीबी के समक्ष परिवाद देकर आरोप लगाया था कि उसके मित्र शंकरलाल सुथार की महादेव ट्रॉली वर्क्स नाम से रानी गांव में ही फैक्ट्री है। ग्राम पंचायत की तरफ से नाला का निर्माण कराया जा रहा है। सरपंच संतोष भाटी तथा उसके पति नारायणलाल से फैक्ट्री से कुछ ही दूरी पर नाला निर्माण कराने का आग्रह किया। इस पर 10 हजार रुपए की रिश्वत मांगी गई। इस पर जोधपुर से पहुंचे एसीबी अधिकारियों ने 3 नवंबर को सुबह 10.10 बजे रमेश कुमार सैन से 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए सरपंच को गिरफ्तार कर लिया था। रिश्वत मांगने में उसके शिक्षक पति नारायणलाल की भूमिका होने पर उसे भी पकड़ लिया था।

जमानत पर रिहा होते ही वापस पंचायत में काम संभाला, ग्रामीणों में पनप रहा था गुस्सा

रिश्वत के मामले में गिरफ्तारी के बाद सरपंच तथा उसके पति की जमानत होने के बाद भी वे ग्राम पंचायत में आने का माेह नहीं छोड़ पा रहे थे। वे लगातार ग्राम पंचायत में अपनी उपस्थिति देते हुए सरकारी कामकाज में भी हस्तक्षेप कर रहे थे। इसको लेकर ग्रामीणों में काफी गुस्सा था। उप सरपंच की अगुवाई में इस बारे में कई बार उच्चाधिकारियों को शिकायत भी की गई थी। इसको लेकर उपसचिव एवं उपायुक्त जांच मोहम्मद अबुबक्र ने रानीकला सरपंच संतोष को धारा 38(4) के तहत निलम्बित करने के आदेश जारी किये उपायुक्त जांच मोहम्मद अबुबक्र ने निलंबित करने के आदेश जारी किए।

विवादों की फेहरिस्त काफी लंबी, अधिकारियों के आदेश भी नहीं सुनती थीं

अपने क्षेत्र से निर्दलीय पंचायत समिति सदस्य जीते नेता की दुकान तोड़ने के बाद हर दिन सरपंच संतोष भाटी का नाम विवाद से जुड़ता रहा। उसके कार्यकाल में गांव में कई पट्टाशुदा मकानों के ऊपर भी लोगों को पट्टे जारी कर दिए। ऐसे 20 से अधिक मामले है, जिन पर लोगों का कब्जा होने तथा उनके पास अधिकृत पट्टा होने के बाद भी ग्राम पंचायत से अपने दबाव से पट्टा जारी करवा दिया था। ऐसी शिकायतें कलेक्टर से लेकर रानी पंचायत समिति के बीडीओ तक पहुंची थी। अब भी 12 मामलों में जांच चल रही है। बताया जाता है कि रानी गांव के ही भीमाराम खटीक के मामले में तो कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा तथा बीडीओ ने पट्टे के ऊपर जारी किए गए पट्टे से हुए कब्जे को हटाने के आदेश जारी किए थे, मगर सरपंच ने उनके आदेश को भी दरकिनार कर दिया था।

X
Rani News - rajasthan news rani kalan sarpanch santosh bhati suspended after four months
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना