धर्मसभा में संताें ने बताई सत्संग की महिमा

Pali News - धर्मसभा में संताें ने बताई सत्संग की महिमा भास्कर न्यूज | साेजत महामंडलेश्वर विशाेकानंद भारती ने कहा कि...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:35 AM IST
Rajasthan News - rajasthan news saints have glorified satsang in the congregation
धर्मसभा में संताें ने बताई सत्संग की महिमा

भास्कर न्यूज | साेजत

महामंडलेश्वर विशाेकानंद भारती ने कहा कि जीवन में कभी अहंकार नहीं करें। वे शनिवार काे दिल्ली दरवाजा राेड पर अायाेजित धर्मसभा में प्रवचन दे रहे थे। उन्हाेंने कहा कि अहंकार से मनुष्य का पतन हाे जाता है। उन्हाेंने कहा कि संत वही है जाे स्वयं के साथ लाेगाें काे सद्गुणाें के जरिए उनमें देवत्व उत्पन्न कर उसे ईश्वर की अाेर ले जाए। वर्तमान में जीव दुनिया की चकाचाैंध में नश्वरता के साथ अपना संबंध बना रहा है। यह दुनिया केवल अाने-जाने का एक मेला है। यहां स्थाई निवास किसी का भी नहीं है। गुरु नानक देव साहब ने जिंदगी काे एक धर्मशाला कहा है, जहां किराया पूरा हाेते ही जीव काे उसे छाेडना पड़ता है। इस दाैरान स्वामी शंकरानंद भारती ने कहा िक प्रत्येक धर्म में भक्ति व अाराधना का बड़ा महत्व है। इससे पूर्व सत्संग अायाेजक भाेमाराम साेलंकी, रणछाेडराम साेलंकी, पारसमल साेलंकी व परिजनाें द्वारा संताें का माल्यार्पण कर बधावणा किया गया। इस दाैरान साेजत राेड से अाई सुंदरकांड मंडली ने संगीतमय सुंदरकांड की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर गाेरधनलाल गहलाेत, नेमीचंद गहलाेत, सुरेश अाेझा, सुरेन्द्र अाेझा, कैलाश सांखला अादि माैजूद थे।

X
Rajasthan News - rajasthan news saints have glorified satsang in the congregation
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना