• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pali
  • Pali News rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
--Advertisement--

सवालों के घेरे में है शंभूपुरा थाने की डेढ़ करोड़ की अफीम बरामदगी की कहानी

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 05:52 AM IST

Pali News - भास्कर टीम| चित्तौड़गढ़/शंभुपुरा/पाली विधानसभा चुनाव की गहमागहमी के बीच 16 नवंबर 18 को चित्तौड़गढ़ जिले में...

Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
भास्कर टीम| चित्तौड़गढ़/शंभुपुरा/पाली

विधानसभा चुनाव की गहमागहमी के बीच 16 नवंबर 18 को चित्तौड़गढ़ जिले में शंभूपुरा थाने के घटियावाली गांव के पास तस्करों द्वारा पुलिस पर फायरिंग व उनसे 102 किलो डोडा तथा 100 किलो अफीम बरामदगी पर सवाल उठ रहे हैं। शंभूपुरा पुलिस मामले में जो कहानी बता रही है और जो एफआईआर दर्ज की है, उसमें खुद ही उलझती नजर आ रही है। सीसीटीवी फुटेज, घटना से जुड़े गवाह व सबूत उसके खिलाफ हैं। नवंबर में ही स्थानीय लोगों ने इस घटना पर सवाल खड़े कर दिए थे। लेकिन पुलिस ने अनदेखी कर दी। पुलिस ने मामले में जालोर के करडा, हाल पाली में रोहट निवासी चुन्नीलाल व बाड़मेर के सिवाणा निवासी सुरेश को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। इनके परिजनों ने 3 जनवरी को एसपी चित्तौड़गढ़ से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। भास्कर ने अपने स्तर पर आरटीआई में टोल नाके से सीसीटीवी फुटेज जुटाए तथा इससे जुड़े हर आदमी तक पहुंचा। सामने आया कि पुलिस जो कहानी बता रही है, तथ्य उसके उलट हैं।


सबूतों पर यकीन करें तो ऐसी कहानी : शंभूपुरा पुलिस ने पहले खुद गढ़ी डेढ़ करोड़ की अफीम तस्करी की कहानी, किरदार तय किए और दिखा दी वारदात

बड़ा सवाल

एफआईआर में पुलिस की यह कहानी

एक जीप में थानाधिकारी सहित 10 लोग गए नाकेबंदी के लिए ? : शंभूपुरा थाना पुलिस द्वारा दर्ज रिपोर्ट के अनुसार 16 नवंबर शाम 5.31 बजे थानाधिकारी प्रभुदयाल, एएसआई मदनलाल, हैडकांस्टेबल कुंदनसिंह, सकेंद्रसिंह, प्रवीणसिंह, बिंदु सिंह, कांस्टेबल गोपाल लाल, धर्मेंद्रसिंह, किशनलाल व चालक देवकिशन जीप नंबर-आरजे09, यूए9089 में नाकेबंदी के लिए निकले। साथ में इलेक्ट्रॉनिक कांटा, लैपटॉप व प्रिंटर भी लिया।

5.50 बजे थाने से 14 किमी दूर घटियावाली तिराहे पहुंचे, पहुंचते ही तस्करों से सामना, फायरिंग : रिपोर्ट के अनुसार 5.50 बजे पुलिस टीम घटियावाली से गढ़वाड़ा जाने वाले तिराहे पर पहुंची। सामने से आ रही फॉर्च्यूनर कार नंबर आरजे 27, यूबी 0292 को रोकने का इशारा किया। कार पुलिस जीप से रगड़ खाकर निकली। उसमें ड्राइवर सहित दो लोग थे, जिन्होंने फायरिंग की। जीप से रगड़ खाने से फॉर्च्यूनर वाहन का लेफ्ट साइड का पीछे का टायर फूट गया। फायरिंग में ड्राइवर देवकिशन के हाथ में चोट लगना बताया।

पुलिस ने पीछा किया, उतरकर भागते हुए एक व्यक्ति फॉर्च्यूनर के नीचे आ गया- फायरिंग के बाद पुलिस ने जीप घुमाकर पीछा किया। घटियावाली से एक किमी पहले एक व्यक्ति फॉर्च्यूनर से उतरकर भागा। इसी दौरान वह उसके नीचे आ गया और फॉर्च्यूनर का पीछे का टायर उसके ऊपर से निकल गया।

कार बंद हुई, भागते हुए ड्राइवर को पुलिस ने पकड़ा- पुलिस के अनुसार आगे जाकर फॉर्च्यूनर बंद हो गई। ड्राइवर उतरकर भागने लगा जिसे पकड़ लिया।

कार से बरामद किया देसी कट्टा, दो कारतूस, 100 किलो अफीम, 102 किलो डोडा- पुलिस ने इसके बाद 6.30 मिनट पर मौके से गुजर रहे दो लोगों को गवाह बनाकर वाहन की तलाशी ली। कार्रवाई में 100 किलो अफीम, 102 किलो डोडा व देसी कट्टा के साथ दो जिंदा कारतूस बरामद किया। पुलिस ने मौके पर ही पूरी कार्रवाई की, थाने पहुंचकर रात 1.08 बजे एफआईआर दर्ज की।

आखिर 100 किलो अफीम व 102 किलो डोडा बरामदगी की कहानी का असली सूत्रधार कौन: पुलिस, तस्कर या कोई और?

V/S

ओचरी टोलनाके के सीसीटीवी फुटेज सहित अन्य सबूत बता रहे कि हुआ अलग, पुलिस ने बताया कुछ और

पुलिस 5.31 पर नाकेबंदी के लिए निकली, 10 मिनट पहले ही स्थानीय मीडिया में फायरिंग व अफीम-डोडा बरामदगी के समाचार

पुलिस के अनुसार वह शाम 5.31 बजे नाकेबंदी के लिए निकली थी। एक जीप में 10 लोग?‌ फिर इलेक्ट्रॉनिक कांटा, अनुसंधान बॉक्स और प्रिंटर साथ क्यों लिया? साथ ही 5.21 बजे ही स्थानीय पोर्टल “सीधा सवाल’ पर खबर जारी हो चुकी थी कि घटियावाली के निकट पुलिस व तस्करों में आमना-सामना हुआ। तस्करों ने पुलिस पर फायर किया है, पुलिस ने बड़ी मात्रा में अफीम व डोडा चूरा पकड़ा है।

एफआईआर में बरामद बताए डोडापोस्त के आठ कट्टे, वजन सिर्फ 6 कट्टों का, 2 कहां गए?

एफआईआर में शंभूपुरा पुलिस ने फॉर्च्यूनर कार की डिक्की में से 5 कट्टों में अफीम व 8 में डोडा बताया। जबकि डोडा के 6 कट्टों के ही वजन करने की जानकारी है। दो कट्टों में कितना डोडा था? यह अभी तक सवाल ही है?

उच्च स्तरीय जांच जरूरी

मौके के सारे सबूत पुलिस के खिलाफ

दोपहर 3.18 बजे जो वाहन पुलिस के कब्जे में, उसी से शाम 6.10 बजे तस्करों से भिड़ंत, फायरिंग और 202 किलो अफीम-डोडा बरामद बताया

दोपहर 3.18 मिनट पर वही फॉर्च्यूनर पुलिस का ड्राइवर चलाकर ले गया ओचरी टोल नाके से, पीछे थानाधिकारी थे निजी कार में

ओचरी टोल नाके के सीसीटीवी फुटेज के अनुसार जिस फॉर्च्यूनर कार में पुलिस शाम 6.50 बजे अफीम व डोडा बरामदगी बता रही है, वही दोपहर 3.18 मिनट पर टोलनाके से गुजरी, जिसे पुलिसकर्मी चला रहा है, उसका लेफ्ट साइड पीछे का टायर फूटा हुआ है। इसी के पीछे थानाधिकारी प्रभुदयाल खुद निजी कार आरजे14 सीडब्ल्यू 5356 में बिना वर्दी में दिख रहे हैं। इससे 10 मिनट पहले ही 3.08 मिनट पर टोल नाके से पुलिस जीप आरजे09 यूए 9089 निकली। जिसे हैडकांस्टेबल सकेंद्रसिंह चला रहे हैं। जीप में अन्य जाब्ता भी है।

जो कथित तस्कर कार के नीचे आकर घायल हुआ उसका थाने में इलाज, पुलिसकर्मी को चोट प्रतिवेदन बनाने भेजा चित्तौड़गढ़ अस्पताल

पुलिस रिपोर्ट के अनुसार सिपाही देवकिशन तस्करों द्वारा फायरिंग में घायल हुआ। इसके बाद भी जीप चलाता रहा। उसे रात 2 बजे चित्तौड़गढ़ अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया। उसका पूरा चोट प्रतिवेदन बनवाया। जबकि जो तस्कर फॉर्च्यूनर के पहिए से दबकर घायल हुआ वह इतनी देर मौके पर पड़ा रहा। अस्पताल में उसका सिर्फ स्वास्थ्य परीक्षण हुआ।

3.18 बजे निकली फॉर्च्यूनर, पुलिसकर्मी चला रहा था- पुलिस को देख मैंने हटाया था बैरियर - टोल कर्मी

भास्कर टीम ने पड़ताल में टोल फुटेज खंगाले। तैनात टोलकर्मी से बात की। उसने बताया कि 16 नवंबर को दिन में करीब सवा तीन बजे फॉर्च्यूनर गाड़ी निकली थी। उसे कोई पुलिसकर्मी चला रहा था। कार का खाली साइड का टायर फूटा हुआ था उसके पीछे ही थानेदार एक निजी कार में निकले थे। इससे कुछ देर पहले पुलिस जीप निकली थी। -भास्कर के पास बातचीत की रिकॉर्डिंग उपलब्ध है।

क्योंकि पुलिस कार्रवाई पर उठ रहे सवाल? आखिर ऐसा क्या हुआ, जिसमें खुद को या किसी और बचाने के लिए पुलिस ने रची ऐसी कहानी ?

Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
X
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Pali News - rajasthan news the story of the one hundred crore opium seizure of the shambhupura police station
Astrology

Recommended

Click to listen..