दो सोनोग्राफी में जुड़वां बच्चे, सीजेरियन के बाद डॉक्टर बोले- एक ही हुआ

Pali News - जयपुर। सोनोग्राफी में जुड़वां बच्चे और डिलीवरी हुई एक ही बच्चे की। दूसरा बच्चा कहां गया, इसे ना तो डॉक्टर बता पा...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 10:00 AM IST
Nana Bera News - rajasthan news twin children in two sonography after the cesarean the doctor said the same thing happened
जयपुर। सोनोग्राफी में जुड़वां बच्चे और डिलीवरी हुई एक ही बच्चे की। दूसरा बच्चा कहां गया, इसे ना तो डॉक्टर बता पा रहे हैं और ना ही अस्पताल प्रशासन। यह अजब वाक्या हुआ चांदपोल स्थित जनाना अस्पताल में। मामले को लेकर परिजनों ने जमकर हंगामा किया और दूसरे बच्चे की मांग करने लगे। चार घंटे से अधिक समय तक चले हंगामे के दौरान पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन मामला इतना बढ़ा कि वह भी परिजनों को शांत नहीं करा सकी। मामले में परिजनों ने अस्पताल लिखित शिकायत दी है, जिसमें लिखा गया है कि उन्होंने जुड़वां बच्चों की बात कही गई थी और एक ही हुआ है तो स्टाफ ने कहा कि- हो सकता है कि बच्चे आपस में झगड़ लिए होंगे इसलिए एक मर गया। वहीं अस्पताल प्रशासन ने भी मामले में हतप्रभ है कि आखिर ऐसा कैसे हुआ। 9 जुलाई को जनाना अस्पताल में जयपुर के हाथोज निवासी रमादेवी भर्ती हुई। यहां डॉ. सयुंता गुप्ता ने सोनोग्राफी की और जुड़वां बच्चे बताए। 10 जुलाई को डॉ. अनिल गुर्जर ने सीजेरियन डिलीवरी कराई और परिजनों को बच्चा सौंप दिया। परिजनों ने कहा कि एक ही बच्चा क्यों, जुड़वां बताए थे, तो डॉक्टर्स ने कहा कि एक ही हुआ है। दूसरा था ही नहीं। इसके बाद परिजनों को समझा दिया गया और मामला शांत हुआ। गौरतलब है कि इससे पहले निजी लैब पर कराई गई जांच में भी जुड़वां बच्चे बताए गए थे। शनिवार को रमादेवी के कई परिजन आए और पूरे मामले का पता लगने के बाद उन्होंने अस्पताल प्रशासन से रिकॉर्ड मांगा। लेकिन अस्पताल प्रशासन ने वह देने से मना कर दिया। अस्पताल ने कहा कि डिस्चार्ज के समय ही दस्तावेज दे सकते हैं। इस पर बात बढ़ी और परिजनों ने कहा कि उन्हें दूसरा बच्चा चाहिए। यदि बच्चा नहीं हुआ तो वह कहां गया। क्योंकि खुद अस्पताल प्रशासन इस बात को मान रहा है कि बच्चे तो जुड़वां थे। इसके बाद परिजनों ने अस्पताल प्रशासन के खिलाफ जमकर हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस मौके पर पहंुची और समझाइश करने लगी। लेकिन परिजनों ने कहा कि वे एफआईआर कराएंगे। जनाना की अधीक्षक लता राजोरिया का कहना है कि सोनोग्राफी में दो ही बच्चे बताए गए हैं। लेकिन सीजेरियन के दौरान एक ही बच्चा होना सामने आया है। ऐसा कैसे हुआ, हमारे भी समझ के परे है। लेकिन हमने पूरे मामले की जानकारी 10 जुलाई को दे दी थी।

X
Nana Bera News - rajasthan news twin children in two sonography after the cesarean the doctor said the same thing happened
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना