• Hindi News
  • Rajasthan
  • Parbatsar
  • पालिका का कैशियर गबन का दोषी, 3 साल कैद की सजा, पांच हजार रुपए जुर्माना लगाया
--Advertisement--

पालिका का कैशियर गबन का दोषी, 3 साल कैद की सजा, पांच हजार रुपए जुर्माना लगाया

Parbatsar News - सरकारी राशि के दुरुपयोग और गबन के मामले में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने परबतसर पालिका के तत्कालीन...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:35 PM IST
पालिका का कैशियर गबन का दोषी, 3 साल कैद की सजा, पांच हजार रुपए जुर्माना लगाया
सरकारी राशि के दुरुपयोग और गबन के मामले में अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने परबतसर पालिका के तत्कालीन कैशियर को दोषी माना है। उसे तीन साल के साधारण कारावास और पांच हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई गई है।

एपीपी पंकज कुमार गुप्ता ने बताया कि 3 मई 2007 को परबतसर नगर पालिका के तत्कालीन अधिशासी अधिकारी किशनलाल कुमावत ने परबतसर थाने में मामला दर्ज करवाया था। इसमें बताया कि कनिष्ठ लिपिक जयचंद जाट नगर पालिका में कैश का काम देखता है। उसने पालिका की सरकारी राशि को निजी उपयोग में ले लिया और कैश बुक में कांट-छांट की। रिपोर्ट में बताया कि पन्नालाल माली ने भूरूपांतरण के लिए 29951 रुपए पालिका में जमा करवाई थी। लिपिक जयचंद ने यह राशि अपने निजी काम में ले ली।

उसने कैश बुक में भी कांट-छांट भी की। पुलिस ने मामले में जांच कर जयचंद के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र पेश किया। विभाग ने उसे निलंबित करके उसका तबादला भी कर दिया था। एसीजेएम ज्योति के सोनी ने जयचंद को सरकारी राशि का दुरुपयोग करने और कैश बुक में कांट-छांट करने का दोषी माना है। उसे भारतीय दंड संहिता की धारा 409 में 3 साल कारावास व 5 हजार रुपए जुर्माना, धारा 467 में 3 साल कारावास व 5 हजार रुपए जुर्माना और धारा 468 में 3 साल कारावास व 5 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। तीनों सजा साथ-साथ चलेंगी।

X
पालिका का कैशियर गबन का दोषी, 3 साल कैद की सजा, पांच हजार रुपए जुर्माना लगाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..