• Hindi News
  • Rajasthan
  • Parbatsar
  • राष्ट्रीय लोक अदालत 14 को, राजीनामे से निपटाएंगे मामले
--Advertisement--

राष्ट्रीय लोक अदालत 14 को, राजीनामे से निपटाएंगे मामले

ताल्लुका विधिक सेवा समिति के तत्वावधान में 14 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। एडीजे अनीश दाधीच व...

Dainik Bhaskar

Jul 08, 2018, 05:40 AM IST
राष्ट्रीय लोक अदालत 14 को, राजीनामे से निपटाएंगे मामले
ताल्लुका विधिक सेवा समिति के तत्वावधान में 14 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। एडीजे अनीश दाधीच व एसीजेएम ज्योति सोनी ने बताया कि इस ‘तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत’ में प्री-लिटिगेशन को शामिल करते हुए लंबित प्रकरणों में शमनीय दांडिक अपराध, अंतर्गत धारा 138 परक्राम्य विलेख अधिनियम, बैंक रिकवरी मामले, एमएसीटी मामले, पारिवारिक विवाद, वैवाहिक विवाद, श्रम-विवाद, भूमि अधिग्रहण मामले, बिजली व पानी के बिल (अशमनीय के अलावा), मजदूरी, भत्ते और पेंशन भत्तों से संबंधित सेवा मामले, राजस्व मामले (केवल जिला एवं उच्च न्यायालयों में लंबित), अन्य सिविल मामले (किराया, सुखाधिकार निषेधाज्ञा दावे एवं विनिर्दिष्ट पालना दावे) आदि प्रकार के मामलों का निस्तारण किया जाएगा। पक्षकारान उक्त प्रकार के मामलों को ‘तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत’ में रखवाकर राजीनामा के माध्यम से इनका शीघ्र निस्तारण करवा सकते हैं। जिससे समय व धन की बचत होगी तथा प्रकरणों का अंतिम रूप से निस्तारण हो सकेगा। लोक अदालत में निस्तारित प्रकरणों को संबंधित न्यायालय से उक्त लोक अदालत के दिन या इससे पहले किसी भी दिनांक पर लोक अदालत में रखने का आग्रह कर सकते हैं, जहां आपका प्रकरण लंबित हैं। ‘तृतीय राष्ट्रीय लोक अदालत’ के इस अवसर पर ताल्लुका विधिक सेवा समिति परबतसर एवं बार एसोसिएशन परबतसर द्वारा शनिवार को चर्चा की गई कि अधिक से अधिक प्रकरणों को इस लोक अदालत में रखवाकर इसका लाभ दिलावें। बैंकों व विभागों से संबंधित प्री-लिटिगेशन (अर्थात न्यायालयों में संस्थित होने से पूर्व) प्रकरणों का लोक अदालत की भावना से राहत देते हुए निस्तारण किया जाएगा तथा सिविल मामलों में राजीनामा होने पर कोर्ट फीस भी वापिस की जाएगी तथा बैंक प्रकरणों में नियमानुसार ब्याज आदि की छूट भी दी जाएगी।

X
राष्ट्रीय लोक अदालत 14 को, राजीनामे से निपटाएंगे मामले
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..