Hindi News »Rajasthan »Parbatsar» धर्म के मामा ने किया था नाबालिग का अपहरण व दुष्कर्म, अब 7 साल की सजा

धर्म के मामा ने किया था नाबालिग का अपहरण व दुष्कर्म, अब 7 साल की सजा

अच्छे स्कूल और छात्रावास में प्रवेश दिलाने का झांसा देकर नाबालिग का अपहरण और दुष्कर्म करने के आरोपी युवक को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jul 05, 2018, 05:40 AM IST

अच्छे स्कूल और छात्रावास में प्रवेश दिलाने का झांसा देकर नाबालिग का अपहरण और दुष्कर्म करने के आरोपी युवक को परबतसर एडीजे कोर्ट ने सात साल कारावास और 15 हजार रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है। दोषी युवक पीड़िता की मां का धर्म भाई बना हुआ था।

अपर लोक अभियोजक नारायण पारीक ने बताया कि परबतसर निवासी एक व्यक्ति ने 1 जुलाई 2010 को परबतसर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि सीकर में लक्ष्मणगढ़ के जाखला गांव निवासी महेंद्र पिलानिया परबतसर में रहता है और उसकी प|ी का धर्म भाई बना हुआ है। उसकी सलाह पर उसने अपनी बेटी का सीकर के एक निजी स्कूल और छात्रावास में प्रवेश करवाया। बाद में बेटी ने कहा कि छात्रावास में सुविधा अच्छी नहीं है। इस पर महेंद्र ने उसे और परिजनों को विश्वास में लिया और दूसरी स्कूल व छात्रावास में प्रवेश दिलाने की बात कहकर साथ ले गया। फिर उसने कहा कि बेटी को अच्छे स्कूल व छात्रावास में प्रवेश दिला दिया है। परीक्षा खत्म होने पर 15 मई 2010 तक महेंद्र उसकी बेटी को लेकर नहीं आया। इस पर परिजनों की चिंता बढ़ गई। उससे फोन पर बात की तो उसने कहा कि उनकी बेटी घर पर है। चिंता की कोई बात नहीं। समय मिलने पर 15 दिन में वह उसे लेकर आ जाएगा। इसके बाद महेंद्र को फोन किया तो पता चला कि वह 8 महीने से छात्रा को लेकर लापता है। पुलिस ने मामला दर्ज कर पीड़िता को बरामद किया और आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में उसके खिलाफ चालान पेश किया। एडीजे अनीश दाधीच ने आरोपी महेंद्र पिलानिया को भादंसं की धारा 366 में 3 साल कारावास और 5 हजार का अर्थदंड और धारा 376 में 7 साल कारावास व 10 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Parbatsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×