--Advertisement--

जनसुनवाई

पीपलू में रात्रि चौपाल बनी महज खानापूर्ति पीपलू में रात्रि चौपाल बनी महज खानापूर्ति पीपलू |पीपलू में...

Danik Bhaskar | Feb 18, 2018, 06:50 AM IST
पीपलू में रात्रि चौपाल बनी महज खानापूर्ति

पीपलू में रात्रि चौपाल बनी महज खानापूर्ति

पीपलू |पीपलू में शुक्रवार रात को रखी गई चौपाल में कलेक्टर के नहीं आने से महज कागजी खानापूर्ति साबित हुई। चौपाल जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश जांगिड़ की अध्यक्षता में हुई। जिसमें समस्याएं तो सुनीं गई, लेकिन मौके पर एक भी समस्या का निस्तारण नहीं हुआ। वहीं डीएसओ व महिला बाल विकास विभाग से अधिकारी नहीं आने से इन विभागों की समस्या का सीईओ कोई जवाब नहीं दे सके। उपखण्ड अधिकारी ने समस्याएं लेकर रख ली। जिससे यह चौपाल नाश्ता पानी करने और साफा बंधवाने की औपचारिकता के साथ पूरी हो गई। कलेक्टर चौपाल में आते तो इन समस्याओं के समाधान होने की आमजन को उम्मीद थी। ग्रामीणों ने समस्याओं के निस्तारण को लेकर हंगामा भी किया, लेकिन उनकी किसी ने भी नहीं सुनी। श्रीराज साहू, घासीलाल चौधरी आदि ने बताया कि जलदाय विभाग में पीपलू को रोजाना पानी देने को लेकर एक करोड़ से अधिक की राशि खर्च कर पाइप लाइन बिछाने, टंकी, भूमि टैंक बनाने के कार्य किए हुए हैं। मगर इसके बाद भी विभाग 30 दिन का बिल लेकर 15 दिन पानी देता है। उन्होंने नियमित जलापूर्ति की मांग की, जिसका कोई संतोषप्रद जवाब नहीं मिला। यूथ कांग्रेस ने इस पर हंगामा भी किया, लेकिन अधिकारियों ने कोई ध्यान नहीं दिया। पीपलू में इन दिनों बिजली की अघोषित कटौती की जा रही है, यहां तक कि रात्रि चौपाल में भी बिजली की कटौती की गई, जिससे 20 मिनट तक चौपाल लालटेन के उजाले में चलती रही।

हमारे अधिकार में नहीं है

भाजपा मण्डल अध्यक्ष जगदीश सिंह राजावत, कांग्रेस नेता घासीलाल चौधरी ने चिकित्सालय की प्रतिनियुक्ति निरस्त करने की मांग की तो सीईओ ने कहा कि यह राज्य सरकार का मामला है, हमारे अधिकार में नहीं है। सैनी समाज ने पीपलू में खुदरा सब्जी मण्डी की मांग की तो पंचायत ने बजट का अभाव बताया। सीईओ ने सांसद या एमएलए कोष से राशि लेने को कहा। बीपीएल कजोड़ नायक ने चीनी दिलवाने की मांग की। इस पर सीईओ ने जवाब दिया कि ऐसा कोई प्रावधान नहीं है।

चार्ज दे दो, काम हो जाएगा

सड़क पर लगे अनुपयोग बिजली पोल हटाने की यूथ कांग्रेस के श्रीराज साहू ने मांग की। विभाग के अधीक्षण अभियंता ने कहा कि हटाने का चार्ज मिलता है, तो हटा दिए जाएंगे। सैनी समाज ने डाक बंगला रोड के श्मशान घाट में नल कनेक्शन की मांग की तो जलदाय अभियंता ने कनेक्शन चार्ज जमा कराने को कहा। चौपाल में सरपंच प्रतापसिंह राजावत, सचिव सदाकत हसन, उपखण्ड अधिकारी अर्पिता सोनी, विकास अधिकारी अनुपमा सक्सेना, सार्वजनिक निर्माण विभाग सहायक अभियंता सी.एल. बुनकर, सहायक कृषि अधिकारी ताराचंद तर्क, कृषि पर्यवेक्षक रामावतार गुर्जर, ब्लाक सीएमएचओ कमलेश चांवला, सीएचसी पीपलू प्रभारी डॉ. आसिफ, बिजली एईएन आरडी मीना, पीपलू थाना एएसआई फरहतुल्ला खां, तहसीलदार दौलतसिंह, पंचायत प्रसार अधिकारी शिवजीराम खोखर, जल संसाधन एईएन अशोक जैन, गिरदावर जगदीश, पटवारी बाबूलाल बैरवा मौजूद रहे।

पीपलू |पीपलू में शुक्रवार रात को रखी गई चौपाल में कलेक्टर के नहीं आने से महज कागजी खानापूर्ति साबित हुई। चौपाल जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश जांगिड़ की अध्यक्षता में हुई। जिसमें समस्याएं तो सुनीं गई, लेकिन मौके पर एक भी समस्या का निस्तारण नहीं हुआ। वहीं डीएसओ व महिला बाल विकास विभाग से अधिकारी नहीं आने से इन विभागों की समस्या का सीईओ कोई जवाब नहीं दे सके। उपखण्ड अधिकारी ने समस्याएं लेकर रख ली। जिससे यह चौपाल नाश्ता पानी करने और साफा बंधवाने की औपचारिकता के साथ पूरी हो गई। कलेक्टर चौपाल में आते तो इन समस्याओं के समाधान होने की आमजन को उम्मीद थी। ग्रामीणों ने समस्याओं के निस्तारण को लेकर हंगामा भी किया, लेकिन उनकी किसी ने भी नहीं सुनी। श्रीराज साहू, घासीलाल चौधरी आदि ने बताया कि जलदाय विभाग में पीपलू को रोजाना पानी देने को लेकर एक करोड़ से अधिक की राशि खर्च कर पाइप लाइन बिछाने, टंकी, भूमि टैंक बनाने के कार्य किए हुए हैं। मगर इसके बाद भी विभाग 30 दिन का बिल लेकर 15 दिन पानी देता है। उन्होंने नियमित जलापूर्ति की मांग की, जिसका कोई संतोषप्रद जवाब नहीं मिला। यूथ कांग्रेस ने इस पर हंगामा भी किया, लेकिन अधिकारियों ने कोई ध्यान नहीं दिया। पीपलू में इन दिनों बिजली की अघोषित कटौती की जा रही है, यहां तक कि रात्रि चौपाल में भी बिजली की कटौती की गई, जिससे 20 मिनट तक चौपाल लालटेन के उजाले में चलती रही।

हमारे अधिकार में नहीं है

भाजपा मण्डल अध्यक्ष जगदीश सिंह राजावत, कांग्रेस नेता घासीलाल चौधरी ने चिकित्सालय की प्रतिनियुक्ति निरस्त करने की मांग की तो सीईओ ने कहा कि यह राज्य सरकार का मामला है, हमारे अधिकार में नहीं है। सैनी समाज ने पीपलू में खुदरा सब्जी मण्डी की मांग की तो पंचायत ने बजट का अभाव बताया। सीईओ ने सांसद या एमएलए कोष से राशि लेने को कहा। बीपीएल कजोड़ नायक ने चीनी दिलवाने की मांग की। इस पर सीईओ ने जवाब दिया कि ऐसा कोई प्रावधान नहीं है।

चार्ज दे दो, काम हो जाएगा

सड़क पर लगे अनुपयोग बिजली पोल हटाने की यूथ कांग्रेस के श्रीराज साहू ने मांग की। विभाग के अधीक्षण अभियंता ने कहा कि हटाने का चार्ज मिलता है, तो हटा दिए जाएंगे। सैनी समाज ने डाक बंगला रोड के श्मशान घाट में नल कनेक्शन की मांग की तो जलदाय अभियंता ने कनेक्शन चार्ज जमा कराने को कहा। चौपाल में सरपंच प्रतापसिंह राजावत, सचिव सदाकत हसन, उपखण्ड अधिकारी अर्पिता सोनी, विकास अधिकारी अनुपमा सक्सेना, सार्वजनिक निर्माण विभाग सहायक अभियंता सी.एल. बुनकर, सहायक कृषि अधिकारी ताराचंद तर्क, कृषि पर्यवेक्षक रामावतार गुर्जर, ब्लाक सीएमएचओ कमलेश चांवला, सीएचसी पीपलू प्रभारी डॉ. आसिफ, बिजली एईएन आरडी मीना, पीपलू थाना एएसआई फरहतुल्ला खां, तहसीलदार दौलतसिंह, पंचायत प्रसार अधिकारी शिवजीराम खोखर, जल संसाधन एईएन अशोक जैन, गिरदावर जगदीश, पटवारी बाबूलाल बैरवा मौजूद रहे।

कलेक्टर के नहीं आने से एक भी समस्या का नहीं हुआ निस्तारण

कलेक्टर के नहीं आने से एक भी समस्या का नहीं हुआ निस्तारण