Hindi News »Rajasthan »Peplu» रानोली अस्पताल में हंगामा, सूचना पर आए तहसीलदार

रानोली अस्पताल में हंगामा, सूचना पर आए तहसीलदार

रानोली आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर डॉक्टर के अनुपस्थित रहने तथा चिकित्साकर्मियों द्वारा प्रसुता को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 12, 2018, 04:30 AM IST

रानोली अस्पताल में हंगामा, सूचना पर आए तहसीलदार
रानोली आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर डॉक्टर के अनुपस्थित रहने तथा चिकित्साकर्मियों द्वारा प्रसुता को निजी अस्पताल में उपचार के लिए ले जाने की बात कहे जाने को लेकर ग्रामीणों ने केंद्र पर हंगामा कर दिया। तहसीलदार दौलतसिंह राठौड द्वारा डॉक्टर की रजिस्टर में अनुपस्थिति लगाने सहित मौका रिपोर्ट तैयार करने तथा नानेर से आए डॉक्टर द्वारा उपचार शुरू किए जाने के बाद ग्रामीण शांत हुए। नवरंगपुरा गांव से प्रसुता को एंबूलेंस 104 के जरिए रानोली अस्पताल ले जाया गया। प्रसुता के परिजनों ने जब कार्मिक से डॉक्टर के बारे में जानकारी ली तो कार्मिक ने प्रसुता को निजी अस्पताल में ले जाने को कह दिया। इस पर ग्रामीणों ने हंगामा किया। हंगामे का पता चलने पर सरपंच बाबूलाल मीणा मौके पर पहुंचे तथा कार्मिक से उक्त मसले पर बहस की। काफी देर तक दोनों पक्षों में नोंकझौंक चलती रही। सरपंच बाबूलाल ने एसडीएम अर्पिता सोनी को मामले से अवगत कराया। एसडीएम के निर्देश पर तहसीलदार दौलतसिंह राठौड नानेर आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। यहां डॉक्टर की रजिस्टर में अनुपस्थिति लगाने सहित मौका रिपोर्ट तैयार करने का ग्रामीणों को आश्वासन दिया। प्रशासन से सूचना मिलने के बाद बीसीएमएचओ ने नानेर से एक डॉक्टर रानोली पीएचसी भेजा। डॉक्टर के आने रोगियों की जांच व उपचार शुरू हुआ। इसकके बाद ग्रामीण शांत हुए।

रोगी करते रहे इंतजार

बुधवार सुबह 11 बजे तक अस्पताल में सिर्फ दवा वितरक एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी उपस्थित थे। जबकि 3 प्रसुताएं सहित अन्य बीमारी दिखाने आए दो दर्जन से अधिक मरीज अस्पताल में डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे थे।

रानोली अस्पताल में डॉक्टर नहीं होने की सूचना मिली है, उन्होंने नानेर अस्पताल के डॉक्टर को मौके पर भेजा है। वहीं गलत दवा लिखे जाने से लड़की की मौत होने के मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही वास्तविकता सामने आ पाएगी। - डॉ. कमलेश चावला, बीसीएमएचओ, टोंक।

पति को किया गिरफ्तार

निवाई|गांव रामनगर में गत दिनों एक विवाहिता द्वारा अपने 6 माह के पुत्र के साथ फन्दा लगाकर आत्महत्या करने के मामले में दतवास थाना पुलिस ने मृतका के पति को गिरफ्तार किया है। थानाधिकारी दयाराम चौधरी ने बताया कि गत 26 फरवरी को मीरा प|ी दिलखुश मीणा ने टीनशेड के पाईप के रस्सी से फंदा लगाकर अपने 6 माह के पुत्र खुशीराम के साथ आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में मृतका के पिता गांव जस्टाना बौंली निवासी रामधन पुत्र लोहडीराम मीणा ने दहेज हत्या का मामला दर्ज करवाया था। थानाधिकारी ने बताया कि जांच के बाद मृतका के पति दिलखुश मीणा को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां से उसे एक दिन के पुलिस रिमाण्ड पर भेज दिया गया।

रोडवेजकर्मियों का धरना

टोंक|राज्य सरकार की ओर से रोडवेज व कर्मचारियों की अनदेखी के विरोध में रोडवेज कर्मचारियों का धरना तीसरे दिन भी जारी रहा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Peplu

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×