पीपलू

--Advertisement--

भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा

रानोली में हनीफगंज मार्ग स्थित राधामाधव मंदिर में आठ दिवसीय श्रीमद््भागवत कथा एवं प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की...

Dainik Bhaskar

Jun 19, 2018, 05:40 AM IST
भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
रानोली में हनीफगंज मार्ग स्थित राधामाधव मंदिर में आठ दिवसीय श्रीमद््भागवत कथा एवं प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव की शुरुआत सोमवार को शोभायात्रा से हुई। तेजाजी चौक में मार्गदर्शक संत रामदास महात्यागी एवं कथावाचक पं. कैलाश शास्त्री के सान्निध्य में शोभायात्रा के कलश एवं ध्वज की पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद शोभायात्रा में ध्वज रानोली ग्राम सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष भंवरसिंह राजावत, भागवत ग्रन्थ को सिर पर जगदीश यादव लेकर चले। वहीं 251 महिलाएं सिर पर कलश धारण किए मंगल गीत गाती हुई पीछे पीछे चली। शोभायात्रा रानोली गांव के प्रमुख मार्गों से होते हुए बैण्ड बाजे की धुन पर भक्तिमय भजनों के साथ आगे बढी, जिसमें महिला पुरुष श्रद्धालु नाचते गाते, गुलाल उड़ाते एवं पुष्पवर्षा करते हुए चले। शोभायात्रा मारूति नन्दन आश्रम पहुंचकर विसर्जित हुई। इसके बाद शुरु हुईकथा में कथावाचक पं. कैलाश शास्त्री ने भागवत कथा का सार सुनाया। शोभायात्रा में सरपंच बाबूलाल मीणा, समाजसेवी श्योजीराम यादव, सुवालाल, लालाराम यादव, जगदीश प्रसाद टेलर, सुमेरसिंह राजावत, सुरेश जांगिड, रामबक्ष मीणा, हरिराम यादव व्यवस्था में सहयोग करते हुए दिखे। इससे पहले संत रामदास ने रानोली के सभी मंदिरों में पहुंचकर भागवत कथा में आने का निमंत्रण दिया। कथा का समापन 25 जून को राधा माधव, हनुमान, शंकर की प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठापना एवं भंडारा प्रसादी के साथ होगा। शोभायात्रा में रानोली, हनीफगंज, कठमाणा, रसूलपुरा, इनायतगंज, सीतारामपुरा, हमिरिया समेत दर्जनों गांवों के श्रद्धालुओं ने हिस्सा लेकर धर्मलाभ लिया हैं।

पीपलू. रानोली में भागवत कथा को लेकर निकाली गई कलशयात्रा व उमड़े श्रद्धालु

सोहेला में तेजाजी जागरण में कलाकारों ने दी प्रस्तुतियां

पीपलू|सोहेला गांव में तेजाजी चौक में रविवार रात को बारिश की कामना को लेकर जागरण हुआ। जिसमें जौंला, डूसरी, बरौनी गांव के लोक कला मण्डल के कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। जिसमें हैरतअंगेज करतबों ने सबको रातभर बांधे रखा। सत्संग का समापन सोमवार को भंडारा प्रसादी के साथ हुआ। इस मौके भंवरलाल रोलाणियां, पन्नालाल, पोखर, रामावतार, बुद्धिप्रकाश, कैलाश, हरिनारायण समेत अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

इब्राहिमपुरा ठाठा में निकाली कलशयात्रा

पीपलू|इब्राहिमपुरा ठाठा में श्रीराधाकृष्ण-सीताराम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर सोमवार को कलशयात्रा निकाली गई। आचार्यपं.दिनेश शास्त्री कुरेडा ने पूजा अर्चना करवाई। कलशयात्रा में श्रद्धालु नाचते गाते हुए चले। प्रतिमाओं की प्रतिष्ठापना 22 जून को नगर परिक्रमा निकाले जाने, हवन कुण्ड में आहुति दिए जाने एवं संत ब्राह्मणों की विदाई, भंडारा प्रसादी के साथ होगी। इस मौके रतन गुर्जर, रामेश्वर यादव, बनवारी यादव, किशन यादव, आजाद गुर्जर, लालू, कंवरीलाल, राधाकिशन यादव समेत अन्य ग्रामीण श्रद्धालु उपस्थित रहे।

पीपलू|सिसोला में शब्द कीर्तन व जल सरोवर पूजन का कार्यक्रम हुआ। आश्रम के महंत बालकानन्द ने श्रद्धालुओं को शब्द कीर्तन के माध्यम से गुरू महिमा व जल संरक्षण का महत्व बताया। कार्यक्रम में देव शिक्षा समिति डारड़ा संयोजक प्रधान गुर्जर, शिक्षाविद भंवरलाल, आदि श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया।

इब्राहिमपुरा ठाठा में निकाली गई कलशयात्रा

पीपलू|सोहेला गांव में तेजाजी चौक में रविवार रात को बारिश की कामना को लेकर जागरण हुआ। जिसमें जौंला, डूसरी, बरौनी गांव के लोक कला मण्डल के कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। जिसमें हैरतअंगेज करतबों ने सबको रातभर बांधे रखा। सत्संग का समापन सोमवार को भंडारा प्रसादी के साथ हुआ। इस मौके भंवरलाल रोलाणियां, पन्नालाल, पोखर, रामावतार, बुद्धिप्रकाश, कैलाश, हरिनारायण समेत अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

इब्राहिमपुरा ठाठा में निकाली कलशयात्रा

पीपलू|इब्राहिमपुरा ठाठा में श्रीराधाकृष्ण-सीताराम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर सोमवार को कलशयात्रा निकाली गई। आचार्यपं.दिनेश शास्त्री कुरेडा ने पूजा अर्चना करवाई। कलशयात्रा में श्रद्धालु नाचते गाते हुए चले। प्रतिमाओं की प्रतिष्ठापना 22 जून को नगर परिक्रमा निकाले जाने, हवन कुण्ड में आहुति दिए जाने एवं संत ब्राह्मणों की विदाई, भंडारा प्रसादी के साथ होगी। इस मौके रतन गुर्जर, रामेश्वर यादव, बनवारी यादव, किशन यादव, आजाद गुर्जर, लालू, कंवरीलाल, राधाकिशन यादव समेत अन्य ग्रामीण श्रद्धालु उपस्थित रहे।

पीपलू|सिसोला में शब्द कीर्तन व जल सरोवर पूजन का कार्यक्रम हुआ। आश्रम के महंत बालकानन्द ने श्रद्धालुओं को शब्द कीर्तन के माध्यम से गुरू महिमा व जल संरक्षण का महत्व बताया। कार्यक्रम में देव शिक्षा समिति डारड़ा संयोजक प्रधान गुर्जर, शिक्षाविद भंवरलाल, आदि श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया।

पीपलू. भागवत कथा में निकाली गई कलशयात्रा।

महंत का मंगल प्रवेश

पीपलू|सोहेला गांव में तेजाजी चौक में रविवार रात को बारिश की कामना को लेकर जागरण हुआ। जिसमें जौंला, डूसरी, बरौनी गांव के लोक कला मण्डल के कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। जिसमें हैरतअंगेज करतबों ने सबको रातभर बांधे रखा। सत्संग का समापन सोमवार को भंडारा प्रसादी के साथ हुआ। इस मौके भंवरलाल रोलाणियां, पन्नालाल, पोखर, रामावतार, बुद्धिप्रकाश, कैलाश, हरिनारायण समेत अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।

इब्राहिमपुरा ठाठा में निकाली कलशयात्रा

पीपलू|इब्राहिमपुरा ठाठा में श्रीराधाकृष्ण-सीताराम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव को लेकर सोमवार को कलशयात्रा निकाली गई। आचार्यपं.दिनेश शास्त्री कुरेडा ने पूजा अर्चना करवाई। कलशयात्रा में श्रद्धालु नाचते गाते हुए चले। प्रतिमाओं की प्रतिष्ठापना 22 जून को नगर परिक्रमा निकाले जाने, हवन कुण्ड में आहुति दिए जाने एवं संत ब्राह्मणों की विदाई, भंडारा प्रसादी के साथ होगी। इस मौके रतन गुर्जर, रामेश्वर यादव, बनवारी यादव, किशन यादव, आजाद गुर्जर, लालू, कंवरीलाल, राधाकिशन यादव समेत अन्य ग्रामीण श्रद्धालु उपस्थित रहे।

पीपलू|सिसोला में शब्द कीर्तन व जल सरोवर पूजन का कार्यक्रम हुआ। आश्रम के महंत बालकानन्द ने श्रद्धालुओं को शब्द कीर्तन के माध्यम से गुरू महिमा व जल संरक्षण का महत्व बताया। कार्यक्रम में देव शिक्षा समिति डारड़ा संयोजक प्रधान गुर्जर, शिक्षाविद भंवरलाल, आदि श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया।

भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
X
भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
भागवत कथा के लिए निकाली कलशयात्रा
Click to listen..