• Home
  • Rajasthan News
  • Phagi
  • Phagi - स्कूल बस खटारा मिली तो पुलिस स्कूल संचालक के खिलाफ करेगी कार्रवाई
--Advertisement--

स्कूल बस खटारा मिली तो पुलिस स्कूल संचालक के खिलाफ करेगी कार्रवाई

फागी | स्कूल बसों की बढ़ती दुर्घटनाओं को देखते हुए सरकार ने स्कूल बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर 2020 तक दुर्घटना दर...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 05:41 AM IST
फागी | स्कूल बसों की बढ़ती दुर्घटनाओं को देखते हुए सरकार ने स्कूल बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर 2020 तक दुर्घटना दर पचास फीसदी तक कमी का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए अब पुलिस ने स्कूली बसों पर कार्रवाई का पूरा मन बना लिया है। स्कूली बसों में बच्चों का सफर सुरक्षित हो इसके लिए पुलिस अधीक्षक अजयपाल लांबा ने जिले के सभी थाना पुलिस को बाल वाहिनी सुरक्षा अभियान चलाने के आदेश दिए है। फागी थानाधिकारी शीशराम मीणा ने बताया कि लापरवाह स्कूल संचालकों की खैर नहीं है। विशेष पुलिस टीम गठित कर दी गई है जो 23 सितंबर तक स्कूली बसों के खिलाफ एक सघन अभियान चलाकर अनफिट स्कूली बसों के चालान काट कर चालक व संबंधित स्कूल संचालक पर कानूनी कार्रवाई करेगी।

बच्चों को भेड़-बकरियों की तरह ठूंसते है :

क्षेत्र में अधिकतर स्कूली बसें नियमों पर खरा नहीं उतर रही हैं। नियमों के मुताबिक स्कूली बसों में फस्ट एड सुविधा से लेकर फायर सेफ्टी टैंक सहित दस जरूरी सुविधाएं जरूरी हैं। मगर यहां हालात यह है कि कई बसों को स्कूल के चपरासी व मास्टर चला रहे हैं, वहीं कुछ बसों में स्कूली बच्चे ही गेट पर खड़े होकर परिचालक का दायित्व निभा रहे हैं। बसों में बच्चों को भेड़-बकरियों की तरह ठूंस कर ले जाना आम बात है। कुछ बसें यातायात नियम के मुताबिक ओवर एज हो चुकी है तो कुछ बसों का इंश्यारेंस तक नहीं है। अब पुलिस ने स्कूली बसों पर कार्रवाई के लिए कमर कस ली है।

इन सुविधाओं से लैस होनी चाहिए स्कूल बसें :

थानाधिकारी शीशराम मीणा ने बताया कि स्कूली बसों में स्पीड गर्वनर लगा होना चाहिए। स्कूल बस की आरसी में बाल वाहिनी वाहन दर्ज होना चाहिए। आगजनी से बचने के लिए अग्निशमन यंत्र लगा होना चाहिए। बच्चे ठीक ढंग से बैठ सके अच्छी सीटें होनी चाहिए। बस में पेरेंट्स सलाह बाॅक्स होना चाहिए।

अनफिट स्कूल बसों पर होगी कार्रवाई