--Advertisement--

अनुपयोगी दुकानों से बेरोजगारों के साथ खिलवाड़

एक तरफ तो भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकार गांव-गांव, ढाणी- ढाणी के विकास के लिए पैसा बहा रही है, वहीं दूसरी ओर गौहन्दी...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:50 AM IST
अनुपयोगी दुकानों से बेरोजगारों के साथ खिलवाड़
एक तरफ तो भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकार गांव-गांव, ढाणी- ढाणी के विकास के लिए पैसा बहा रही है, वहीं दूसरी ओर गौहन्दी ग्राम पंचायत मुख्यालय पर प्रधानमंत्री स्वर्ण जयन्ती रोजगार योजना के तहत लाखों रुपए खर्च कर विकास के नाम पर अनुचित स्थानों पर दुकानों का निर्माण करवाकर सरकार की राशि का अनुचित उपयोग किया गया। अनुचित स्थान पर दुकानें बनाने से दुकानों में बेरोजगारों ने आज दिन तक दुकानें नहीं खोली। इससे दुकानों का उपयोग नहीं होने के कारण न तो योजना का लाभ बेरोजगारों को मिल पाया है और न ही सरकारी कोष से बनी दुकानों का लाभ ग्रामीण जनता को मिल पाया है।

ग्रामीणों का कहना कि उक्त दुकानें गलत जगह पर बनाकर बेरोजगारों के साथ खिलवाड़ किया गया है। साथ ही इन दुकानों का ग्रामीण जनता को भी लाभ नहीं मिल पाया है, लेकिन सरकार के कारिन्दों की घोर लापरवाही से सरकारी राशि का सदुपयोग नहीं करते हुए दुरूपयोग किया है। इसका खामियाजा आमजनता को भुगतना पड़ रहा है। और तो और दुकानों की पंचायत प्रशासन द्वारा देखभाल के अभाव में दुकानों की हालत जर्जर हो चुकी है। ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया कि सरकार के नकारा अधिकारियों व कर्मचारियों के कारण गलत जगह बनाकर सरकारी राशि का दुरूपयोग हुआ है। जिसका ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन भेजकर सम्पूर्ण प्रकरण की निष्पक्ष जांच करवाकर कडी़ कार्यवाही करते हुए उक्त राशि की वसूली करवाने की मांग की है।

गौहान्दी पंचायत मुख्यालय पर प्रधानमंत्री स्वर्ण जयंती रोजगार योजना की खुली पोल

फागी. गौहन्दी पंचायत मुख्यालय पर जर्जर अवस्था में बन्द पडी़ दुकानें।

भास्कर न्यूज | फागी

एक तरफ तो भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकार गांव-गांव, ढाणी- ढाणी के विकास के लिए पैसा बहा रही है, वहीं दूसरी ओर गौहन्दी ग्राम पंचायत मुख्यालय पर प्रधानमंत्री स्वर्ण जयन्ती रोजगार योजना के तहत लाखों रुपए खर्च कर विकास के नाम पर अनुचित स्थानों पर दुकानों का निर्माण करवाकर सरकार की राशि का अनुचित उपयोग किया गया। अनुचित स्थान पर दुकानें बनाने से दुकानों में बेरोजगारों ने आज दिन तक दुकानें नहीं खोली। इससे दुकानों का उपयोग नहीं होने के कारण न तो योजना का लाभ बेरोजगारों को मिल पाया है और न ही सरकारी कोष से बनी दुकानों का लाभ ग्रामीण जनता को मिल पाया है।

ग्रामीणों का कहना कि उक्त दुकानें गलत जगह पर बनाकर बेरोजगारों के साथ खिलवाड़ किया गया है। साथ ही इन दुकानों का ग्रामीण जनता को भी लाभ नहीं मिल पाया है, लेकिन सरकार के कारिन्दों की घोर लापरवाही से सरकारी राशि का सदुपयोग नहीं करते हुए दुरूपयोग किया है। इसका खामियाजा आमजनता को भुगतना पड़ रहा है। और तो और दुकानों की पंचायत प्रशासन द्वारा देखभाल के अभाव में दुकानों की हालत जर्जर हो चुकी है। ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया कि सरकार के नकारा अधिकारियों व कर्मचारियों के कारण गलत जगह बनाकर सरकारी राशि का दुरूपयोग हुआ है। जिसका ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन भेजकर सम्पूर्ण प्रकरण की निष्पक्ष जांच करवाकर कडी़ कार्यवाही करते हुए उक्त राशि की वसूली करवाने की मांग की है।

X
अनुपयोगी दुकानों से बेरोजगारों के साथ खिलवाड़
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..