Hindi News »Rajasthan »Phalodi» हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु

हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु

भास्कर न्यूज | जिले के विभिन्न अंचलों से हरियाली अमावस्या का पर्व शनिवार को श्रद्धा एवं हर्षोल्लास से मनाया...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 12, 2018, 06:10 AM IST

  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
    भास्कर न्यूज | जिले के विभिन्न अंचलों से

    हरियाली अमावस्या का पर्व शनिवार को श्रद्धा एवं हर्षोल्लास से मनाया गया। इस अवसर पर लोगों ने दिनभर खूब दान-पुण्य किए। वहीं महिलाओं ने पेड़-पौधों की पूजा-अर्चना कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया।

    बिलाड़ा | महिलाओं ने पीपल, वटवृक्ष एवं अन्य पेड़ पौधों की पूजा अर्चना कर परिक्रमा की व पर्यावरण सुरक्षा का संदेश देने के लिए पौधे भी रोपे। उधर, कई जगह महिला संगठनों द्वारा हरियाली महोत्सव का आयोजन कर गीत-संगीत के कार्यक्रम आयोजित किए। नगर के विभिन्न मंदिरों में दिनभर हरिकीर्तन की धूम रही और कई धार्मिक कार्यक्रम आयोजित हुए।

    फलोदी | श्रावणी हरियाली अमावस्या पर इंदिरा कॉलोनी में रावणा राजपूत समाज व आनंदपाल युवा टाइगर फोर्स के संयुक्त तत्वावधान में पौधरोपण किया। इस दाैरान 50 पौधे लगाकर साफ-सफाई भी की। इस दौरान शहर अध्यक्ष सूर्यप्रकाशसिंह, मखनसिंह, युवा अध्यक्ष प्रदीपसिंह भाटी, नरेंद्रसिंह, जसवंतसिंह, रमेशसिंह, कंवरसिंह, प्रतापसिंह, नंदकिशोरसिंह, मुकेशसिंह, यशवंतसिंह सहित कई लोग मौजूद थे। हरियाली अमावस्या को राउप्रावि मालियों का बास में भी छात्रों के सहयोग से 30 पौधे स्कूल परिसर में लगाए।

    लोहावट आंचलिक | जंभेश्वर मंदिर साथरी में महंत मनीराम के सान्निध्य में 120 शब्दों का पाठ कर पाहल बनाया गया। श्रद्धालुओं ने हवन में घी व नारियल की आहुतियां देकर जमाने व खुशहाली की कामना की। कस्बे की मोरिया-मुंजासर रोड पर स्थित गौशाला में देवाराम ढाका, अनिल तुलछाणी, शंकरलाल, श्रवण ढाका, मनीष सायबाणी, पप्पूराम मांजू, फरसाराम गोदारा आदि युवाओं ने गायों को गुड़ खिलाया।

    बालेसर | कस्बे के आईसीआईसीआई आरसेटी द्वारा हरियाली अमावस्या पर केंद्र में पौधरोपण कर पर्यावरण सरंक्षण का संदेश दिया। इस दौरान मुख्य अतिथि हुक्मीचंद वाघेला, प्रजापति युवा एकता के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुरेश बादरपुरिया, फतेहसिंह इंदा, मनोहरसिंह इंदा, सेंटर हैड होशियारसिंह शेखावत, राजूसिंह इंदा, खेताराम सुथार, मालाराम कुमावत आदि मौजूद थे।

    बापिणी | श्री मेहोजी गोशाला परिसर में अमावस्या पर भजनमाला का आयोजन किया गया। गोसेवक तगसिंह ने बताया कि इस मौके भजन गायक पूनमचंद शर्मा, सुखाराम मेघवाल, ओमाराम सैन ने भक्तिरस की सरिता बहाई। इस दौरान गोसेवकों ने लापसी बना गायों को खिलाई। इस मौके अध्यक्ष दीपसिंह की अध्यक्षता में गोशाला समिति की आमसभा हुई, जिसमें विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई। इस मौके दिलीप महाजन, दुर्गसिंह, रतनाराम शर्मा, जेठूसिंह, हेमराज शर्मा, लखसिंह राव, शिवनारायण, राजू शर्मा, गंगाविशन, किशनाराम गर्ग आदि मौजूद थे।

    कापरड़ा | मंदिरों में श्रद्धालुओं ने भजन-कीर्तन करते हुए मारवाड़ में सुकाल की कामना की। इस दौरान भजनों पर महिलाएं भाव-विभोर होकर झूमने को मजबूर हुई। इस मौके कंवराई, पार्वती, कंचन शर्मा, इंद्रा, दमयंती, कलावती, पिस्ता शर्मा, लीला खींची, परिया देवी, धापुड़ी सरगरा आदि मौजूद थे।

    बिराई | श्री राम गोशाला में गोभक्तों ने हरियाली अमावस्या पर गायों को 201 किलो की लापसी बनाकर खिलाई। इस मौके बड़ी संख्या में गोभक्त मौजूद थे।

    बोरुंदा | पैराडाइज शिक्षण संस्थान की प्रधानाचार्या सरस्वती टाक के नेतृत्व में हरियाली अमावस्या पर संस्थान द्वारा संचालित रॉयल किड्स कैंपस में पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित हुआ। वहीं रॉयल किड्स एकेडमी के दो दर्जन से अधिक छात्र-छात्राओं ने विभिन्न किस्मों के पौधों का रोपण कर सार-संभाल व सुरक्षा का जिम्मा लिया। इस दौरान राजेंद्र टाक, कन्हैयालाल, संजय लालर, भरत वैष्णव, मोनिका जोशी, पूजा टाक आदि मौजूद थे।

    आऊ | हरियाली अमावस्या के दिन छितर बेरा में भोमियाजी मंदिर पर पौधरोपण किया। इस पर बगड़ूराम, किशनाराम, गणपतराम, सुनील, जोधाराम, हेतराम, बाबूराम, बन्नेसिंह, हजारी सारण, अनिल, सागर, भंवरी कालीराणा, चैनाराम, बुधराम आदि मौजूद थे।

    बिलाड़ा

    फलोदी

    आऊ

    बालेसर

    कापरड़ा

    बोरुंदा

    तेखला धाम पर मेले में उमड़े श्रद्धालु

    बालेसर | जिनजिनयाला गांव स्थित तेखला धाम पहाड़ी पर हरियाली अमावस्या के दिन मेला लगा। इसमें आसपास के गांवों के सैकड़ों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। तेखला धाम स्थित पहाड़ी पर महंत संतदास महाराज के सान्निध्य में हरियाली अमावस्या के दिन मेला आयोजित हुआ। सुबह चार बजे से ही आसपास के गांवों से सैकड़ों श्रद्धालु जिन्होंने आसपास के गांवों में रात्रि विश्राम किया। वे मेला स्थल पर पहुंचे व पहाड़ी पर स्थित अमृत सरोवर पर श्रद्धालुओं ने स्नान किया। वहीं मेले में महिलाओं व बच्चों ने खरीदारी की व हरि ऊं बापजी के समाधि स्थल के दर्शन किए।

    बिराई में आयोजित भजन संध्या: बिराई के सरपंच भंवरदान चारण सहित ग्रामीणों ने बताया कि मेले की पूर्व संध्या को श्रद्धालुओं के लिए बिराई राजाबंध में भजन संध्या का कार्यक्रम आयोजित हुआ व शनिवार को मेले वाले दिन भी श्रद्धालुओं के लिए महाप्रसादी की व्यवस्था की।

    लोहावट आचंलिक

    बापिणी

  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
  • हरियाली अमावस्या पर हुए धार्मिक कार्यक्रम, मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
    +8और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Phalodi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×