--Advertisement--

महिला को बरामद करने आई पुलिस पर पथराव

पुलिस थाने में शनिवार को बांदर सिंदरी थाना प्रभारी ने फुलेरा स्थित होमगार्ड कार्यालय के पीछे बावरिया जाति की...

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 06:10 AM IST
महिला को बरामद करने आई पुलिस पर पथराव
पुलिस थाने में शनिवार को बांदर सिंदरी थाना प्रभारी ने फुलेरा स्थित होमगार्ड कार्यालय के पीछे बावरिया जाति की महिला को किसी मामले को लेकर दस्तयाब करने आई पुलिस टीम पर महिला के परिजनों ने गाली गलौच करते हुए पुलिस पर पत्थर व लाठियों सहित गिलोल के द्वारा घायल करने व उनकी गाड़ी के शीशे तोड़कर क्षतिग्रस्त कर डाली।इस संबंध में स्थानीय थाने में मामला दर्ज हुआ है। थाना प्रभारी हुकम सिंह ने बताया कि बांदर सिंदरी थाना प्रभारी विक्रम सेवावत पुत्र बहादुर दान चारण निवासी सूरतपुरा थाना मकराना जिला नागौर हाल थाना अधिकारी बांदर सिंदरी जिला अजमेर ने मामला दर्ज करवाया है। जिसमें बताया है कि सांभर रोड स्थित फुलेरा होमगार्ड कार्यालय के पीछे डेरा बनाकर रह रही पांची देवी प|ी रामदेव बावरिया को किसी प्रकरण के अनुसंधान के लिए एसएचओ के साथ चलने की पुलिस टीम द्वारा हिदायत दी गई। इस पर पांची देवी ने जोर जोर से आवाज देकर अपने परिजनों को जो उसके पास में ही रहते है, उनको बुला लिया व उनको उकसाने लगी कि यह उसे गिरफ्तार कर साथ ले जाएंगे, इन पर हमला करो। इस पर पांची देवी की पुत्री गोरा, उसका पति रामदेव व उसके नाबालिग गोद लिए हुए बेटे ने गालियां निकालते हुए एवं पुलिस टीम पर एससी एसटी व छेड़छाड़ सहित बलात्कार का झूठा मुकदमा दर्ज कराने की धमकियां देते हुए अपने जातिगत हथियार गिलोल, लाठियों व पत्थरों से मौके पर मौजूद थाना प्रभारी विक्रम सेवावत सहित पूरी पुलिस टीम पर हमला कर दिया। इससे पुलिसकर्मी सवाई सिंह सिर पर पत्थर लगने से घायल हो गया व शेष पुलिस कर्मियों सहित महिला पुलिस कर्मी पर लाठियों से वार करने पर चोटें आई है। इसके अलावा थाना प्रभारी द्वारा साथ लाए गए निजी वाहन के शीशे तोड़कर वाहन की बॉडी को क्षतिग्रस्त कर दिया। उपरोक्त आरेापियों ने राजकार्य में बाधा डालते हुए लोक सेवक को क्षति पहुंचाने की धमकियां देते हुए क्षतिकारित की है।

पुलिस ने महिला को पकड़ा

झगड़े व हमले के दौरान पांची देवी ने मौके से भागने की कोशिश की। इससे पांची देवी के हाथ पैरों के चोटें आई व पांची देवी को दस्तयाब करने के बाद उसकी बेटी गोरा देवी ने स्वयं को ही अपने आप चोटें पहुंचाते हुए अपने हाथों से कपड़े फाड़ लिए और पुलिस टीम पर मामला दर्ज कराने की धमकियां दी। पुलिस ने उक्त आरोपियों के खिलाफ राजकार्य में बाधा डालने व जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

X
महिला को बरामद करने आई पुलिस पर पथराव
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..