• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pilani
  • पिलानी में ढाई साल पहले बुजुर्ग माता पिता की हत्या करने वाले को उम्रकैद
--Advertisement--

पिलानी में ढाई साल पहले बुजुर्ग माता पिता की हत्या करने वाले को उम्रकैद

बुजुर्ग माता-पिता की हत्या के आरोपी बेटे को अपर सेशन न्यायाधीश प्रेमप्रकाश गुप्ता ने आजीवन कारावास और 10 हजार रुपए...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:45 PM IST
पिलानी में ढाई साल पहले बुजुर्ग माता पिता की हत्या करने वाले को उम्रकैद
बुजुर्ग माता-पिता की हत्या के आरोपी बेटे को अपर सेशन न्यायाधीश प्रेमप्रकाश गुप्ता ने आजीवन कारावास और 10 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई है। न्यायाधीश गुप्ता ने बुधवार शाम आरोपी आनंद सारदा को ये सजा सुनाई, जो अभी जमानत पर था।

पिलानी के वार्ड आठ की गायत्री कॉलोनी स्थित घर पर सात जुलाई 2015 को जगदीश सारदा (88) व उनकी प|ी कैला देवी (80) के शव लहूलुहान हालत में मिले थे। शाम को स्कूल से लौटी पुत्रवधू चंचल ने मामला दर्ज किया था। रिपोर्ट में लिखा था कि सुबह स्कूल जाते वक्त चंचल अपने पति आनंद कुमार व सास-ससुर को छोड़ कर गई थी। वापस लौटने पर उसने अपने सास-ससुर को मृत अवस्था में पाया जबकि पति घर से गायब था। अभियोजन पक्ष की ओर से 11 गवाह और 47 दस्तावेजी साक्ष्य प्रस्तुत किए गए। एडीपी विनोद कुमार वर्मा की दलीलें सुनने के बाद न्यायाधीश ने आनंद सारदा को आजीवन कारावास व अर्थदंड की सजा सुनाई।

आरोपी ने किया था आत्महत्या का प्रयास : बुजुर्ग माता-पिता की ईंट मार कर हत्या करने के बाद आनंद सारदा ने हिमाचल के कांगड़ा स्थित डैम में कूद कर जान देने का प्रयास किया था। उसके बच जाने पर हिमाचल पुलिस ने उसे पकड़ लिया था। इसकी सूचना मिलने पर पिलानी पुलिस ने हत्या की वारदात के चार-पांच दिन बाद उसे हिमाचल से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा की गई जांच रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी आनंद पिलानी की एक स्कूल में नौकरी करता था। वह पूना में रह रहे अपने बेटे को फ्लैट दिलवाना चाह रहा था। इसके लिए वह अपने रिटायर्ड पिता से रुपए मांगे थे, लेकिन पिता ने रुपए नहीं दिए थे।

आरोपी आनंद

दहेज हत्या के आरोप में सास को सात वर्ष की कैद

झुंझुनूं. अपर सेशन न्यायाधीश महावीर प्रसाद गुप्ता ने विवाहिता की दहेज हत्या के मामले में उसकी सास संतरा देवी (निवासी केशरीपुरा गुढ़ागौडज़ी) को सात वर्ष के साधारण कारावास की सजा दी है। विवाहिता प्रमिला के पिता केहरपुरा खुर्द निवासी करण सिंह ने गुढ़ागौडज़ी थाने में रिपोर्ट दी थी कि 18 दिसंबर 2008 को फोन पर सूचना दी गई कि प्रमिला 17 दिसंबर को किसी समय कुएं में गिर गई। उसने कहा कि उसकी लड़की को मानसिक तौर पर दहेज के लिए परेशान किया जाता था। वह लड़की को खर्च के लिए रुपए भी देता था। उसे प्रमिला ने उसे बताया था कि उसकी सास बक्से व पर्स में से उसके रुपए निकाल लेती थी। प्रमिला के कमरे से एक पर्ची भी मिली। पुलिस ने संतरा देवी के विरुद्ध न्यायालय में चालान पेश किया था।

X
पिलानी में ढाई साल पहले बुजुर्ग माता पिता की हत्या करने वाले को उम्रकैद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..