--Advertisement--

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण संपन्न

पोकरण | एकीकृत कुपोषण प्रबंधन कार्यक्रम के लिए आशा सहयोगिनियों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के प्रथम व द्वितीय बैच के...

Danik Bhaskar | May 28, 2018, 05:30 AM IST
पोकरण | एकीकृत कुपोषण प्रबंधन कार्यक्रम के लिए आशा सहयोगिनियों व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के प्रथम व द्वितीय बैच के दो दिवसीय प्रशिक्षण के सफल समापन के बाद रविवार को तृतीय बैच का प्रशिक्षण भी उत्साह पूर्वक श्री हरी पैलेस होटल में संपन्न हुआ। गौरतलब है कि 22 मई से 27 मई तक चलने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य अति गंभीर कुपोषित बच्चों को समुदाय स्तर पर पोषित कर स्वस्थ जीवन प्रदान करना है। कार्यक्रम के तहत आशा सहयोगिनियों द्वारा घर-घर जाकर 6 माह से 59 माह तक के बच्चों की स्क्रीनिंग की जाएगी। तत्पश्चात कुपोषित बच्चों की पहचान करने के बाद पोषण अमृत देने के साथ ही इन बच्चों का फाॅलोअप कर सुधार किया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार के स्तर पर कुछ संस्थानों द्वारा भी सहयोग दिया जा रहा है। कार्यक्रम के अन्तर्गत पोकरण ब्लाॅक के चयनित 20 उप स्वास्थ्य केन्द्रों के अधीन आंगनबाड़ी क्षेत्र में इस कार्यक्रम का कुपोषण के विरुद्ध युद्घ स्तर पर संचालन किया जाना है। राज्य सरकार द्वारा नियुक्त आईएमएएम कार्यक्रम के पोकरण ब्लाॅक प्रभारी आर. सी. जाट, गेन इंडिया कंसलटेंट के निर्देशन में एनयूएचएम डीपीएम विजयसिंह, डाॅ सुरेश, आशा समन्वयक उमेश पारीक तथा आशा फेसिलिटेटर गिरिराज व्यास द्वारा लगातार छः दिवस तक प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान बीसीएमओ डाॅ प्रकाश चौधरी, सीडीपीओ पोकरण भैंराराम गेंवा, जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आर.पी. गर्ग, एनआरएचएम डीपीएम अजय सिंह और भारत सरकार द्वारा गठित जैसलमेर जिले की नीति आयोग टीम द्वारा समय-समय पर प्रशिक्षण का निरीक्षण किया गया। बीसीएमओ डाॅ प्रकाश चौधरी ने बताया कि कार्यक्रम में द्वितीय स्तर पर चिकित्सकों एवं एएनएम का प्रशिक्षण कार्यक्रम जून माह में आयोजित किया जाएगा।