Hindi News »Rajasthan »Pokran» हाइटेंशन लाइन से टकराकर गोडावण की मौत

हाइटेंशन लाइन से टकराकर गोडावण की मौत

भास्कर संवाददाता | रामदेवरा राजस्थान के राज्य पक्षी ग्रेट इंडियन बास्टर्ड (गोडावण) की मौत का सिलसिला थमने का नाम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 28, 2018, 05:30 AM IST

हाइटेंशन लाइन से टकराकर गोडावण की मौत
भास्कर संवाददाता | रामदेवरा

राजस्थान के राज्य पक्षी ग्रेट इंडियन बास्टर्ड (गोडावण) की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। कस्बे के पास बुधवार सुबह एक राज्य पक्षी नर गोडावण मृत मिला। कस्बे से लखसिंह की ढाणी जाने वाले कच्चे मार्ग पर बुधवार को अलसुबह यहां से गुजर रहे ग्रामीणों ने मृत पड़े गोडावण को देखा और वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी। लखसिंह की ढाणी जाने वाले मार्ग के ऊपर से बिजली की हाइटेंशन लाइन गुजर रही है। जिससे टकराने से मंगलवार रात्रि को गोडावण की मौत हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर क्षेत्रीय वन अधिकारी पूरणसिंह और वनकर्मी मौके पर पहुंचे और मौका मुआयना किया। इसके बाद उन्होंने नर गोडावण को अपने कब्जे में लिया। गोडावण की मौत की सूचना सोशल मीडिया पर भी फैल गई। जिससे घटनास्थल पर काफी संख्या में ग्रामीण भी जमा हो गए। देश के गोडावण विशेषज्ञों के अनुसार पूरी दुनिया में गोडावण सिर्फ रामदेवरा, पोकरण, जैसलमेर के कुछ क्षेत्र में ही बचा है। राज्य सरकार एक तरफ तो इसके संरक्षण के लिए करोड़ों रुपए खर्च कर रही है। वहीं जैसलमेर जिले में हाइटेंशन लाइन गोडावण के लिये जानलेवा साबित हो रही है।

वन्यजीवप्रेमी युवाओं ने बिजली के पोल पर चढ़कर किया विरोध : कस्बे में बुधवार को तीन वन्यजीव प्रेमी जैसलमेर जिले में लगातार हो रही गोडावण की मौतों के विरोध में बिजली की हाइटेंशन लाइन के पोल के ऊपर चढ़ गए और विरोध प्रदर्शन किया। मंगलवार रात्रि को कस्बे से लखसिंह की ढाणी जाने वाले मार्ग पर बिजली की हाइटेंशन लाइन से टकराने से एक नर गोडावण की मौत हो गई थी। जिसके विरोध में बिजली की लाइनों पर बर्ड डायवर्टर लगाने की मांग करते हुए धोलिया निवासी राधेश्याम विश्नोई, शेखर साउ और अनिल जाजूदा घटनास्थल के पास लगे बिजली की हाइटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ गए। इस दौरान उन्होंने वन विभाग और बिजली विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन कर विरोध जताया। सूचना मिलने पर पुलिस हैडकांस्टेबल धन्नाराम विश्नोई मय जाब्ता मौके पर पंहुचे और तीनों को समझाईश करके नीचे उतारा गया। इस दौरान उनको आश्वासन दिया गया कि पुलिस की और से बिजली विभाग को हाइटेंशन लाइन पर बर्ड डायवर्टर लगाने के लिये पत्र लिखा जाएगा। जिसके बाद वे पोल से नीचे उतरे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pokran

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×