Hindi News »Rajasthan »Pokran» 50 वर्ष के बाद पीड़ित खेमसिंह को मिला मालिकाना हक

50 वर्ष के बाद पीड़ित खेमसिंह को मिला मालिकाना हक

भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक) राज्य सरकार द्वारा शुरू किए गए राजस्व लोक अदालत न्याय आपके द्वार शिविर खेमसिंह...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 05:45 AM IST

50 वर्ष के बाद पीड़ित खेमसिंह को मिला मालिकाना हक
भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक)

राज्य सरकार द्वारा शुरू किए गए राजस्व लोक अदालत न्याय आपके द्वार शिविर खेमसिंह के लिए वरदान साबित हुआ। शिविर में कई वर्षों से लंबित पड़े प्रकरणों का निस्तारण कर ग्रामीणों को राहत पहुंचाई गई। ग्राम पंचायत भैसड़ा में सोमवार आयोजित हुआ शिविर में ग्रामीणों में खुशी देखने को मिली। ग्रामीणों ने उत्साह के साथ शिविर में पहुंचकर लंबे समय से लंबित पड़े राजस्व प्रकरणों का निस्तारण करवाकर राहत महसूस की। सोमवार को शिविर में एक सफलता की कहानी साबित हुई।

शिविर में 303 प्रकरणों का हुआ निपटारा : उपखंड भणियाणा क्षेत्र के ग्राम पंचायत भैसड़ा में सोमवार को राजस्व लोक अदालत न्याय आपके द्वार शिविर आयोजित किया। शिविर प्रभारी एवं एसडीएम रेणु सैनी ने बताया कि शिविर में धारा 136 के 2 प्रकरण, धारा 53 के एक प्रकरण, 251 के 2 प्रकरणों का निस्तारण कर ग्रामीणों को राहत पहुंचाई गई। सैनी ने बताया कि भणियाणा तहसीलदार द्वारा 5 बंटवारनामा, 130 नामान्तरकरण, 44 खाता दुरुस्ती, 105 राजस्व नकलें अन्य 46 प्रकरणों का निस्तारण कर ग्रामीणों को लाभान्वित किया गया। शिविर प्रभारी सैनी ने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 178 बच्चों का स्वास्थ्य जांच व मापतोल, 25 बच्चों को आयरन की गोलियां दी। सैनी ने बताया कि श्रम विभाग द्वारा 36 श्रमिकों को पंजीयन किया। इसी प्रकार कृषि विभाग द्वारा 89 स्वास्थ्य कार्ड जारी, 8 जल होद के आवेदन, एक बॉण्ड फार्म आवेदन लिए गए। इसी प्रकार आयोजन विभाग द्वारा 1 भामाशाह कार्ड संशोधन, आयुर्वेद विभाग द्वारा 5 मरीजों का उपचार किया। जलदाय विभाग द्वारा अंतिम छोर के 11 पाइंटों की जांच की गई। सैनी ने बताया कि सामाजिक एवं न्याय विभाग द्वारा 1 राज्य वृद्धवस्था व 1 राष्ट्रीयवृद्धावस्था, 1 पालनहार, बिजली विभाग द्वारा 2 बिजली कनेक्शन, 7 बिजली समस्या प्रकरण, 37 बिजली कनेक्शन आवेदन किए गए। सैनी ने बताया कि चिकित्सा विभाग द्वरा 50 घरों का सर्वे, 8 मरीजों का उपचार किया। पशुपालन विभाग द्वारा 1694 पशुओं का उपचार किया गया।

शिविर में खेमसिंह को मिला मालिकाना हक : शिविर प्रभारी एवं एसडीएम रेणु सैनी ने बताया कि सोमवार को ग्राम पंचायत भैसड़ा में राजस्व लोक अदालत शिविर आयोजित किया गया। शिविर में 50 वर्ष पूर्व का प्रकरण शिविर में हाथोहाथ निस्तारण कर पीड़ित परिवार को न्याय दिया गया। सैनी ने बताया कि ग्राम बेतीणा निवासी खेमसिंह, जालमसिंह पिसरान गोविन्दसिंह पिछले 50 वर्ष से उनका नाम राजस्व रिकार्ड में गोविन्ददास चल रहा था। खेमसिंह का रिकार्ड में नाम शुद्ध नहीं होने से उनको परेशानियों का सामना करना पड़ता था। सैनी ने बताया कि उनके राजस्व रिकार्ड में खेमसिंह की जगह सिमसिंह तथा उनके पिता गोविन्दसिंह के जगह पर गोविन्ददास 50 वर्षों से चल रहा था। सैनी ने बताया कि शिविर में सिमसिंह के स्थान पर खेमसिंह व गोविन्ददास के स्थान पर गोविन्दसिंह राजस्व रिकार्ड में दर्ज कर खेमसिंह को मालिकाना हक दिया गया। उनके द्वारा व उनके परिवार द्वारा शिविर प्रभारी सैनी व राजस्व अधिकारियों का आभार प्रकट किया। शिविर में भणियाणा तहसीलदार गुलाबसिंह चौहान, बीडीओ नारायणलाल सुथार, पंचायत समिति सदस्य आईदानसिंह भैसड़ा, सरपंच केवलराम, सामाजिक कार्यकर्ता, गेनाराम पंवार, प्रशासनिक सहायक अधिकारी सत्यनारायण पणिया सहित कई विभागीय अधिकारियों को ग्रामीणों की समस्याओं को सुनकर समस्या का समाधान किया।

पोकरण (आंचलिक) शिविर में लोगों की समस्याएं सुनती एसडीएम।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pokran

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×