Hindi News »Rajasthan »Pokran» ओरण क्षेत्र में टैंकरों से किया हरिणों के लिए पानी का प्रबंध

ओरण क्षेत्र में टैंकरों से किया हरिणों के लिए पानी का प्रबंध

क्षेत्र के भादरिया गांव में स्थित जगदम्बा सेवा समिति के द्वारा आस-पास के ओरण भूमि क्षेत्र में पानी की समस्या को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 29, 2018, 05:45 AM IST

ओरण क्षेत्र में टैंकरों से किया हरिणों के लिए पानी का प्रबंध
क्षेत्र के भादरिया गांव में स्थित जगदम्बा सेवा समिति के द्वारा आस-पास के ओरण भूमि क्षेत्र में पानी की समस्या को दूर करने के लिए जगह-जगह पानी की खेळियां बना कर टैंकरों से पानी की आपूर्ति की गई। ओरण क्षेत्र में पानी की सुविधा न होने के कारण जानवरों को पानी की तलाश में इधर-उधर भटकना पड़ता है। इस कारण शिकारी कुत्ते हरिण को अपना शिकार बनाते हैं। पिछले काफी समय से लाठी, धोलिया, भादरिया, खेतोलाई गांव में पानी की तलाश में विचरण कर रहे हिरणों के झुंड को शिकारी कुत्तों ने अपना शिकार बनाया। इसके चलते हरिणों की मौत हुई। रहवासी आबादी इलाकों में हरिण आदि जानवरों को शिकारी जानवरों के शिकार में जल्दी आते हैं। पानी की समस्या इन गांवों के वन क्षेत्र में काफी ज्यादा है। जगदम्बा सेवा समिति ने पानी की समस्या को दूर करने के लिए ओरण वन क्षेत्र में अस्थाई 24 खेलियों तथा 10 नाड़ी का निर्माण कर ट्रैक्टर टैंकर की सहायता से पानी की आपूर्ति कर जानवरों को राहत दिलाई। इस कार्य में सहयोग के लिए जगदम्बा सेवा संस्था के संचालक जुगलकिशोर आसेरा, घनश्याम पालीवाल, पप्पूसिंह, वन विभाग के कर्मचारी बाघसिंह, गेम्पराराम, नाथूसिंह, तगसिंह आदि उपस्थित रहे।

परोपकार

जगदम्बा सेवा समिति ने वन्यजीवों के लिए शुरू किया काम, जगह जगह लोहे की खेळियां बनवाकर भरा पानी

पोकरण (आंचलिक) वन्यजीवों की प्यास बुझाने के लिए लगाए लोहे की खेलियां

वन्यजीवों की प्यास बुझाने के लिए लगाए पानी कुंड

पोकरण (आंचलिक) | जगदम्बा सेवा समिति भादरिया द्वारा ओरण व गोचर भूमि पर वन्य जीवों की प्यास बुझाने के लिए जगह-जगह पर पानी के कुंड लगाए गए। जगदम्बा सेवा समिति के मंत्री जुगलकिशोर आसेरा ने बताया कि इन दिनों भीषण गर्मी को देखते हुए वन्य जीवों की प्यास बुझाने के लिए ओरण व गोचर भूमि पर जगह-जगह पर पानी कुंड लगाए गए है। आसेरा ने बताया कि कोई भी पशु अपनी प्यास बुझाने के लिए लगाए गए पानी कुंड से पानी की प्यास बुझाई जाएगी। उन्होंने बताया कि इन दिनों भीषण गर्मी को देखते हुए आए दिन वन्य जीवों की अकाल मौत हो रही है। इसको लेकर जगदम्बा सेवा समिति भादरिया द्वारा कई जगहों पर पानी कुंड बनाकर उसमें पानी डाला जा रहा है। उन्होंने बताया कि दिन में तीन-चार वार पानी में डालकर वन्य जीवों की प्यास बुझाई जा रही है। आसेरा ने बताया कि भादरिया महाराज द्वारा हमेशा वन्यजीवों की रक्षार्थ रहते थे। उन्होंने बताया कि वन्य जीवों व पशुओं के लिए हर समय पर चारे पानी की व्यवस्था की जाती थी। महाराज द्वारा बताए गए कार्यों को लेकर आज भी कार्य किए जा रहे है। आसेरा ने बताया कि पशुओं व वन्य जीवों के लिए रक्षा के लिए हर समय संस्था समर्पित है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Pokran

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×