--Advertisement--

5 माह में ट्रेन से कटकर 300 से अधिक पशुओं की हुई मौत

भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक) नवसृजित ग्राम पंचायत ओढाणिया में इन दिनों रेल से कट कर मर रहे पशुओं की संख्या...

Danik Bhaskar | Jun 04, 2018, 05:50 AM IST
भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक)

नवसृजित ग्राम पंचायत ओढाणिया में इन दिनों रेल से कट कर मर रहे पशुओं की संख्या में दिन ब दिन बढ़ोतरी हो रही है। जिसके चलते स्थानीय पशुपालकों को लाखों रुपयों तथा पशुधन का नुकसान उठाना पड़ रहा है। विभाग द्वारा जैसलमेर पोकरण रेलवे स्टेशनों के बीच में कई जगहों पर पशुओं के निकलने के लिए अंडरब्रिज का निर्माण करवाया है। लेकिन ओढाणियां चाचा क्षेत्र में विभाग द्वारा कोई अंडरब्रिज का निर्माण नहीं करवाने के कारण आए दिन रेल से पशुओं की मौत हो रही है। पशुओं की मौत को लेकर विभाग कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रहा है।

लाठी रेलवे स्टेशन से लेकर ओढाणियां रेलवे स्टेशन तक बिछी लाइन चारागाह भूमि में से होकर निकलती है। जिसके चलते ओढाणियां क्षेत्र का चारागाह क्षेत्र दो भागों में बंट गया है। ऐसे में पशुओं को रेलवे लाइन क्रॉस कर दूसरे भाग में जाना पड़ता है। रेलवे लाइन पर रेल के आने के साथ ही कई बार पशु इसकी चपेट में आ जाते है।



पशुपालक परेशान, अधिकांश गायों की मौत : ओढाणियां क्षेत्र में रेल से कटकर मरने वाले पशुओं की संख्या में हो रही बढ़ोतरी पशुपालकों के लिए चिंता का विषय बनी हुई है। पिछले पांच माह में रेल की चपेट में आने से 300 पशुओं की मौत हो चुकी है। जिसमें अधिकांश गाय है। जहां एक ओर पशुओं की मौत को लेकर पशुपालक चिंतित है वहीं दूसरी ओर विभाग द्वारा अभी तक कोई कदम नहीं उठाए गए हैं।