• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • पोकरण शहर की सड़कों पर रात में अंधेरा, स्ट्रीट लाइटें बंद, रात में आवारा पशुओ ंसे भिड़ते हैं वाहन
--Advertisement--

पोकरण शहर की सड़कों पर रात में अंधेरा, स्ट्रीट लाइटें बंद, रात में आवारा पशुओ ंसे भिड़ते हैं वाहन

शहर में इन दिनों रोड लाइटें बंद होने के कारण पोकरण की सड़कों पर पसरा अंधेरा आमजन तथा श्रद्धालुओं के लिए परेशानी का...

Danik Bhaskar | Jul 05, 2018, 05:50 AM IST
शहर में इन दिनों रोड लाइटें बंद होने के कारण पोकरण की सड़कों पर पसरा अंधेरा आमजन तथा श्रद्धालुओं के लिए परेशानी का कारण बनता जा रहा है। बाबा रामदेव की समाधि के दर्शनों के लिए आने वाले श्रद्धालु रात्रि में अंधेरे में अपने आप को जहां असुरक्षित महसूस करते हैं। वहीं दूसरी ओर रात्रि में सड़कों पर बंद रोडलाइटों के कारण फैले अंधेरे के चलते वाहन चालकों को भी काफी धीरे गति से वाहन चलाने पड़ते हैं। जिसके कारण वाहन चालकों के लिए शहर में दस मिनट का रास्ता आधे घंटे के मार्ग में तब्दील हो गया है। वहीं दूसरी ओर सड़क पर पसरे अंधेरे के कारण सड़क पर आने वाले आवारा पशु दिखाई नहीं देते और आए दिन वाहन चालक इन पशुओं से टकराने के कारण घायल हो रहे हैं। आमजन की इन सभी परेशानियों से दूर नगरपालिका द्वारा इस ओर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।


पोकरण. रात में सड़कों पर पसरा है अंधेरा।

शहर के प्रमुख चौराहों पर भी रोशनी के प्रबंध नहीं

शहर की रोड लाइटें बंद होने के कारण फलसूंड तिराहा से खिंवजपुरा मंदिर तक, जयनारायण व्यास सर्किल से फलसूंड तिराहा तक, व्यास सर्किल से किला रोड तक, व्यास सर्किल से रेलवे स्टेशन मार्ग, रेलवे स्टेशन मार्ग पर लगी हाईमास्क, जयनारायण व्यास चौराहा पर लगी हाईमास्क तथा जयनारायण व्यास सर्किल से जैसलमेर रोड स्थित मदरसा तक लगी रोड लाइटों में अधिकांश रोड लाइटें बंद पड़ी है। जिसके कारण वाहन चालकों तथा श्रद्धालुओं को परेशानी उठानी पड़ रही है।

बंद पड़ी है हाईमास्क लाइटें | शहर के मुख्य जयनारायण व्यास चौराहा तथा रेलवे स्टेशन पर यात्रियों तथा स्थानीय लोगों की सुविधा के लिए नगरपालिका द्वारा लगाई गई हाईमास्क लाइटों में से मात्र एक दो लाइट ही जलती है। जिसके कारण न तो सड़क पर पूरी रोशनी हो पाती है और न ही रोड लाइटों का लाभ मिल पाता है। ऐसे में रोडलाइटें बंद होने के कारण देर रात्रि में हर समय चोरों तथा अन्य असामाजिक तत्वों का डर बना रहता है।

रात्रि में असुरक्षित महसूस करते हैं शहरवासी

रात्रि के समय शहर में भ्रमण करने वाले शहरवासियों को प्रति रात को अंधेरे का सामना करना पड़ता है। शहर की मुख्य सड़क मार्ग गांधी चौक से लेकर जयनारायण व्यास चौराहा तक गिनती की ही रोड लाइटें जलती है बाकी सब बंद रहती है। वहीं अन्य सड़क मार्ग जिसमें मुख्य रूप से जैसलमेर सड़क मार्ग, जोधपुर सड़क मार्ग, फलसूंड सड़क मार्ग के साथ साथ अन्य मुख्य सड़क मार्ग जहां पर लोगों की आवाजाही रहती है। वहां पर इन दिनों रोड़ लाइटें बंद होने के कारण अंधेरा रहता है। ऐसे में रात्रि में पैदल चलने वाले शहरवासी सड़क के किनारे चलते हैं। लेकिन रोड लाइटों के अभाव में शहरवासियों को हर समय हादसे का भय लगा रहता है। इसके साथ सड़क के किनारे आराम करने से रात्रि में विषैले जीव जंतुओं का भी भय सताता रहता है।