• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • पोकरण में बिक रही है घटिया खाद्य सामग्री, बच्चों की सेहत से खिलवाड़
--Advertisement--

पोकरण में बिक रही है घटिया खाद्य सामग्री, बच्चों की सेहत से खिलवाड़

अगर आप बाजार से बच्चों के लिए वे पर्स या नूडल्स खरीद रहे हैं तो जरा उस आइटम के ब्रांड के साथ साथ उसकी गुणवत्ता के...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 06:00 AM IST
अगर आप बाजार से बच्चों के लिए वे पर्स या नूडल्स खरीद रहे हैं तो जरा उस आइटम के ब्रांड के साथ साथ उसकी गुणवत्ता के बारे में भी पूरी पुष्टि कर लें। ऐसा नहीं हो कि जो सामग्री बच्चों के लिए आप खरीद रहे हैं कहीं उनसे बच्चों की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़े। पोकरण शहर में दुकानों पर ऐसे ही खाद्य सामग्री बिक रही है, जिन पर न तो पैकिंग की तिथि दर्ज है और न ही इसे कब तक उपयोग में लिया जा सकता है इसकी कोई जानकारी है। इन खाद्य सामग्री के सेवन से अस्वस्थ हुए कुछ बच्चों का आयुर्वेदिक औषधालयों में उपचार भी किया गया। इस मामले में न तो प्रशासन ध्यान दे रहा है और न ही खाद्य विभाग।

शहर में किराणे की दुकान से लेकर छाेटे मोटे पान आदि की केबिनों में भी इस तरह के मिस ब्रांड आइटम देखे जा सकते हैं। इन आयटमों के पाउच पर न तो निर्माण तिथि लिखी होती है और न ही अवधिपार तारीख लिखी होती है। वहीं इन आयटमों पर किसी भी गुणवत्ता की जांच की जानकारी नहीं लिखी होती है।

पोकरण. शहर में बिक रही है घटिया किस्म की खाद्य सामग्री।

इन बीमारियों से पीड़ित हो रहे हैं बच्चे

शहर में बिकने वाली मिस ब्रांडेड आयटमों से होने वाले रोगों के बारे में जानकारी लेने पर चिकित्सकों ने बताया कि इस तरह के आइटम मैदे से बने होते हैं तथा यह आइटम आंतों में जम जाता है। जिससे पेट में कीड़े पड़ना, आंव बनना, पाचन क्रिया अनियमित होना, रुक रुक कर पेटदर्द होना, मुंह में छाले, खुजली आदि बीमारियां हो जाती है।

अधिकारी नहीं रहे हैं कार्रवाई

क्षेत्र में बिक रही मिस ब्रांडेड आयटमों की बिक्री को लेकर विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। मिस ब्रांडेड आयटमों की खरीद को लेकर कई बार स्थानीय लोगों द्वारा कार्रवाई की मांग की है। लेकिन अभी तक विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इस कारण क्षेत्र के बच्चों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है।