• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • डिस्कॉम की लापरवाही बबूल की झाड़ियोंं के बीच गुजर रहे तार से कभी हो सकता है हादसा
--Advertisement--

डिस्कॉम की लापरवाही बबूल की झाड़ियोंं के बीच गुजर रहे तार से कभी हो सकता है हादसा

पोकरण (आंचलिक) | डिस्कॉम द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचाई जाने वाली बिजली को लेकर अभी तक डिस्कॉम अधिकारी गंभीर...

Danik Bhaskar | May 14, 2018, 06:00 AM IST
पोकरण (आंचलिक) | डिस्कॉम द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचाई जाने वाली बिजली को लेकर अभी तक डिस्कॉम अधिकारी गंभीर नहीं है। डिस्कॉम द्वारा लगाई गई बिजली तार बबूल की झाड़ियों के बीचों बीच गुज रही है तथा कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है। इसको लेकर अभी तक डिस्कॉम के अधिकारी मूक दर्शक बन कर बैठे है। ग्रामीणों द्वारा इस संबंध में शिकायत की गई तो उनके द्वारा कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया। जिसके कारण ग्रामीणों में डिस्कॉम के प्रति दिनों दिन रोष बढ़ता जा रहा है। ग्राम पंचायत डिडाणिया के राजस्व गांव मोरानी से काली मगरी जाने वाले मार्ग पर बिजली लाइन बबूल की झाडिय़ों के बीचों बीच लगी हुई है। जिसके कारण आए दिन बिजली तार व बबूल की झाड़ियों के बीच टकराने के कारण बिजली लाइन फॉल्ट हो जाती है। जिसके कारण ग्रामीणों को तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है। बबूल की झाडिय़ों के बीचों बीच बिजली लाइन निकलने के कारण तेज हवा के झोंके के कारण बिजली तार आपस में टकराने के कारण बिजली लाइन आए दिन फॉल्ट होने की संभावना रहती है। जिससे कभी भी बड़ा हादसे से इंकार नहीं किया जा सकता है। बिजली लाइन फॉल्ट होने के बाद कई दिनों दिन बिजली सप्लाई सुचारू नहीं हो पाती है। जिससे ग्रामीणों इस भीषण गर्मी में परेशानी होती है।

बिजली की आंख मिचौली के कारण जले उपकरण : मोरानी से काली मगरी से जाने वाले मार्ग पर बबूल की झाड़ियों से ढकनी बिजली लाइन से आए दिन बिजली आंख मिचौली होने के कारण कई बिजली उपकरण जलने पूर्ण संभावना बनी रहती है। बिजली लाइन व बबूल की झाड़ियों के बीच निकलने के कारण इन दिनों दिन रही तेज आंधी के कारण बिजली लाइन आए दिन फॉल्ट होने के कारण घरों में लगे बिजली उपकरण जलने की संभावना बनी रहती है। इसके बाद भी डिस्कॉम के अधिकारियों द्वारा इस तरफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। डिस्कॉम समय पर इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया गया तो आने वाले दिनों में बड़ा हादसा घटित हो सकता है।

पोकरण (आंचलिक) पर बबूल की झाड़ियों के बीचो बीच निकलती बिजली लाइन