• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • तपती धूप में पानी के लिए जलदाय विभाग पहुंचे ग्रामीण, नहीं मिले अधिकारी, हंगामा और प्रदर्शन
--Advertisement--

तपती धूप में पानी के लिए जलदाय विभाग पहुंचे ग्रामीण, नहीं मिले अधिकारी, हंगामा और प्रदर्शन

भीषण गर्मी में जहां एक ओर लोगों का गर्मी और तपन से बुरा हाल है वहीं दूसरी ओर पेयजल संकट से बगा है। लोगों की समस्या...

Danik Bhaskar | May 29, 2018, 06:00 AM IST
भीषण गर्मी में जहां एक ओर लोगों का गर्मी और तपन से बुरा हाल है वहीं दूसरी ओर पेयजल संकट से बगा है। लोगों की समस्या खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है। जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्रों में जहां एक ओर जीएलआर सूखी पड़ी है वहीं दूसरी ओर पानी बेचने वाले इन दिनों जलदाय विभाग के अधिकारियों की उदासीनता का भरपूर लाभ उठाते हुए चांदी कूट रहे हैं। वहीं लम्बे समय से पीने के पानी की समस्या से जूझ रहे ओढ़ाणियां गांव के ग्रामीणों का सोमवार को सब्र का बांध टूट पड़ा। ओढ़ाणियां गांव के ग्रामीणों ने अपने आने की खबर जलदाय विभाग के अधिकारियों को दी। लेकिन जब ग्रामीण जलदाय विभाग के कार्यालय पहुंचे तो वहां पर कोई भी अधिकारी उपस्थित नहीं था। जिसके चलते ग्रामीणों का गुस्सा और गहरा गया। काफी संख्या में ग्रामीण एकत्रित होकर अपने साथ लाए मिट्टी के मटकों को फोड़ा और जलदाय विभाग कार्यालय के सामने विभागीय अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों में समाजसेवी भीखदान रतनू, जीवराज पालीवाल, सालगराम पालीवाल, डालचंद पालीवाल, उपसरपंच प्रद्युम्न रतनू, किशनलाल पालीवाल, गोपीलाल सुथार, भंवरलाल पालीवाल, नखताराम मेघवाल चांदनी, नैनूलाल पालीवाल, नरेन्द्र पालीवाल, शंकरलाल सुथार सहित कई ग्रामीण उपस्थित थे। क्षेत्र के राजस्व गांव ओढाणियां के ग्रामवासियों ने पिछले 1 माह से जलापूर्ति पूर्ण रूप से बंद होने कारण सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण एकत्रित होकर पोकरण उपखंड कार्यालय पहुंचे। जहां उपखंड अधिकारी रेणु सैनी को ज्ञापन सौंपा तथा समय पर पानी की आपूर्ति सुचारू करने की मांग की। उन्होंने ज्ञापन में बताया कि विगत एक माह से ओढाणियां गांव में जलापूर्ति पूर्ण रूप से बंद पड़ी है। जिससे 500 घरों की आबादी व लगभग 5000 पशुधन के पेयजल की गंभीर समस्या है। कई बार विभागीय अधिकारी को सूचित करने पर भी समस्या का उचित निराकरण नहीं किया गया। ग्राम चाचा से ओढाणियां जाने वाली पाइप लाइन पर सैकड़ों अवैध कनेक्शन किए हुए, जो कि विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत से किए हुए हैं। उन कनेक्शनों को हटाकर, कनेक्शन करने वालों पर पुलिस कार्रवाई करवाने की मांग की। इस गंभीर समस्या के कारण सैकड़ों पशुधन काल का ग्रास बन रहे हैं। इस पर उपखंड अधिकारी ने उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।

पोकरण (आंचलिक) ओढाणिया में पानी को लेकर जलदाय विभाग कार्यालय के आगे विरोध प्रदर्शन करते ग्रामीण