• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • कलेक्टर से मिले एजेंट और निवेशक, कार्रवाई की मांग
--Advertisement--

कलेक्टर से मिले एजेंट और निवेशक, कार्रवाई की मांग

जैसलमेर | पिछले दिनों से पुलिस में एफआईआर दर्ज होने े के बाद भी कार्रवाई नहीं होने को लेकर एजेंट व निवेशकों ने...

Danik Bhaskar | May 13, 2018, 06:05 AM IST
जैसलमेर | पिछले दिनों से पुलिस में एफआईआर दर्ज होने े के बाद भी कार्रवाई नहीं होने को लेकर एजेंट व निवेशकों ने कलेक्टर अनुपमा जोरवाल से मिलकर ज्ञापन दिया। फर्जी सोसायटियों द्वारा गरीब परिवारों की जमा पूंजी हड़पने को लेकर कोतवाली में दर्ज हुए मुकदमों के बाद एजेंटों व निवेशकों ने कलेक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि एजेंटों व निवेशकों द्वारा कई शिकायतों व एफआईआर दर्ज होन के बाद भी पुलिस द्वारा शिथिलता बरतते हुए सोसायटी के सुरेंद्रसिंह, पवन कंवर, दिनेशपालसिंह व रामचंद्रसिंह सहित अन्य जिम्मेदारों के प्रति पुलिस नरम रूख अपनाए हुए है। ज्ञापन में बताया कि करीब एक साल पहले पोकरण में इस जालसाजी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी। जिस पर भी कोई कार्रवाई नहीं होकर पुलिस टालमटोल रवैया अपनाए हुए है। ज्ञापन देते समय कमल व्यास, गिरीश व्यास, गिरधर पुरोहित, कैलाश भाटिया, विशाल भाटिया, अविनाश पुरोहित, देवेंद्र पुरोहित, विजय पुरोहित, मनमोहन चूरा, जगदीश माली, मोहिनी बिस्सा, नीतू व्यास, कमलेश भाटिया, निशा श्रीपत व आशा श्रीपत के साथ कई लोग उपस्थित रहे।

जैसलमेर. कलेक्टर को ज्ञापन देते ऐजेंट व निवेशक।

जैसलमेर | पिछले दिनों से पुलिस में एफआईआर दर्ज होने े के बाद भी कार्रवाई नहीं होने को लेकर एजेंट व निवेशकों ने कलेक्टर अनुपमा जोरवाल से मिलकर ज्ञापन दिया। फर्जी सोसायटियों द्वारा गरीब परिवारों की जमा पूंजी हड़पने को लेकर कोतवाली में दर्ज हुए मुकदमों के बाद एजेंटों व निवेशकों ने कलेक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन में बताया कि एजेंटों व निवेशकों द्वारा कई शिकायतों व एफआईआर दर्ज होन के बाद भी पुलिस द्वारा शिथिलता बरतते हुए सोसायटी के सुरेंद्रसिंह, पवन कंवर, दिनेशपालसिंह व रामचंद्रसिंह सहित अन्य जिम्मेदारों के प्रति पुलिस नरम रूख अपनाए हुए है। ज्ञापन में बताया कि करीब एक साल पहले पोकरण में इस जालसाजी के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी। जिस पर भी कोई कार्रवाई नहीं होकर पुलिस टालमटोल रवैया अपनाए हुए है। ज्ञापन देते समय कमल व्यास, गिरीश व्यास, गिरधर पुरोहित, कैलाश भाटिया, विशाल भाटिया, अविनाश पुरोहित, देवेंद्र पुरोहित, विजय पुरोहित, मनमोहन चूरा, जगदीश माली, मोहिनी बिस्सा, नीतू व्यास, कमलेश भाटिया, निशा श्रीपत व आशा श्रीपत के साथ कई लोग उपस्थित रहे।