• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • पुलिस ने माना ; सैन्य अभ्यास के दौरान भादरिया माता ट्रस्ट की ओरण जमीन पर हुआ नुकसान
--Advertisement--

पुलिस ने माना ; सैन्य अभ्यास के दौरान भादरिया माता ट्रस्ट की ओरण जमीन पर हुआ नुकसान

भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक) क्षेत्र के शक्तिपीठ भादरिया माता की निजी संपति व ओरण भूमि पर नुकसान को लेकर...

Danik Bhaskar | May 22, 2018, 06:15 AM IST
भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक)

क्षेत्र के शक्तिपीठ भादरिया माता की निजी संपति व ओरण भूमि पर नुकसान को लेकर जगदम्बा सेवा समिति ने लाठी थाने में शिकायत दर्ज करवाई। थाने में शिकायत दर्ज होते हुए पुलिस अधिकारियों द्वारा इस मामले की जांच शुरू की। पुलिस अधिकारियों ने भादरिया माता की निजी संपति व ओरण भूमि पर हुए नुकसान को लेकर घटना स्थल पर पहुंचे तथा वहां पर घटना स्थल का मौका मुआयना किया। पुलिस ने बताया कि शक्तिपीठ भादरिया माता मंदिर की ओरण भूमि पर सेना द्वारा रात्रि में अभ्यास किया जा रहा है। इस दौरान टैंकों की चपेट से आने से पांच पशुओं के शव मौके पर मिले। जिसमें 3 बछड़े व 2 गायों के शव मिले। जिस पर पशु चिकित्सा विभाग द्वारा मेडिकल करवाया गया। पुलिस ने बताया कि दो बछड़े टैंकों के नीचे दबने से मौत हो गई है। पुलिस ने बताया कि रात्रि में अभ्यास के दौरान टैंकों की जोर-जोर से आवाज व तेज रोशनी से पशु तारबंदी से उलझने से पशुओं की मौत हो गई है। कई पशु भगाने की कोशिश के दौरान घायल हो गए है। सेना के अभ्यास के दौरान जगदम्बा समिति को हुए नुकसान को लेकर पुलिस द्वारा मौका मुआयना किया तथा मौका फर्द भी तैयार की गई। पुलिस ने बताया कि भादरिया माता मंदिर ट्रस्ट के खसरा नंबर 3, 6, 13 में लगी पत्थर की पट्टियां व तारबंदी तथा जाली को तोड़ दिया गया है।

जल्द ही समिति के सदस्यों को मिलेगा न्याय : पुलिस ने बताया कि जगदम्बा सेवा समिति द्वारा लिखित में प्रस्तुत की गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस द्वारा इनकी छानबीन की जा रही है। वहीं इस मामले की सही व पूर्ण रूप से जांच करने के लिए अलग से टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा इस मामले को पूर्ण रूप तरीके से सुलझाने में लगी हुई। समिति द्वारा की गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस थाने के हैड कांस्टेबल कालू सिंह द्वारा इसकी संपूर्ण जांच की जा रही है। जल्द ही शिकायत का निस्तारण कर जगदम्बा समिति को न्याय दिया जाएगा।


पोकरण (आंचलिक) भूमि पर हुए नुकसान का मौका मुआयना करती पुलिस