--Advertisement--

जलदाय विभाग की अनदेखी से सूखी पड़ी है जीएलआर

उपखण्ड भणियाणा के बारहठ का गांव ग्राम पंचायत के पडरोडा गांव के आबादी क्षेत्र के बीचों बीच बनी जीएलआर व पशु कुंड...

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 06:25 AM IST
उपखण्ड भणियाणा के बारहठ का गांव ग्राम पंचायत के पडरोडा गांव के आबादी क्षेत्र के बीचों बीच बनी जीएलआर व पशु कुंड पिछले कई दो सालों से सूखा पड़ा है। इसके कारण आमजन को मजबूरी में महंगे दामों पर पानी के टैंकर मंगवाकर प्यास बुझानी पड़ती है। लेकिन पशु का पानी का कुंड खाली रहने से वह इधर उधर भटकते नजर आते हैं।

ग्रामीण जसवंत सिंह ने बताया कि इस टंकी पर दिनभर हजारों की तादाद में पशु पानी की तलाश में आते हैं, लेकिन जलदाय विभाग की हठधर्मिता की वजह से इस टंकी में पानी चालू नहीं करते हैं। इससे यह टंकी व पशु खेली दो साल से खाली ही पड़ी है। उन्होंने कहा कि इस टंकी में पहले पानी की सप्लाई होती थी। तब पूरे गांव व आसपास की ढाणियों मे पानी की किल्लत दूर हो जाती थी, लेकिन अब जलदाय विभाग के कुछ स्थानीय कर्मचारियों की हठधर्मिता व उनके ही द्वारा कुछ अपने खास व्यक्तियों के घरों पर अवैध कनेक्शन करने के कारण इस टंकी तक पानी नहीं पहुंचता है। उन्होंने जलदाय विभाग को चेतावनी देते हुए कहा कि जल्द से जल्द इस टंकी तक पानी पहुंचाया जाए नहीं तो ग्रामीणों को मजबूरन धरने प्रदर्शन को मजबूर होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर अगले सात दिन में इस टंकी तक पानी नहीं आया तो ग्रामीण गांव से होकर गुजरने वाली सड़क पोकरण से सेतरावा को जाम कर दिया जाएगा।

परेशानी

बारहठ का गांव ग्राम पंचायत के पडरोडा गांव में पानी की समस्या, दो साल से जीएलआर में नहीं आया पानी

रातड़िया. पानी के अभाव में सूखी पडी पशुखैली