• Home
  • Rajasthan News
  • Pokran News
  • सीधा संवाद कार्यक्रम में महिलाएं हुई लाभान्वित
--Advertisement--

सीधा संवाद कार्यक्रम में महिलाएं हुई लाभान्वित

ग्राम पंचायत ऊजलां में जैसाणा एम पावर राजविकास महिला बहुउद्देश्य सहकारी समिति द्वारा प्रधानमंत्री का स्वयं...

Danik Bhaskar | Jul 13, 2018, 06:25 AM IST
ग्राम पंचायत ऊजलां में जैसाणा एम पावर राजविकास महिला बहुउद्देश्य सहकारी समिति द्वारा प्रधानमंत्री का स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं से सीधा संवाद कार्यक्रम फैडरेशन कार्यालय में हुआ। इसमें गांव संगठनों व समूह की सैकड़ों महिलाओं ने भाग लिया तथा दूरदर्शन से कार्यक्रम को दिखाया गया। फैडरेशन के कार्यक्षेत्र ऊजलां में गांव संगठन रामदेवरा व डालीबाई ऊजलां संगठन, जय हनुमान भाखरी, रामरहीम व मां चामुंडा झलारिया, श्रीहनुमान व मां भवानी भणियाणा, श्रीराम व रामदेव लंवा, महादेव पदरोड़ा, रामदेव इंद्रानगर पर भी सीधा प्रसारण करवाया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में समदा, प्रियंका, मनु कंवर, कमला, भंवरीदेवी, भूरी, बसंती, जसोदा, नकतु आदि ने कार्यक्रम में सहयोग दिया। संपूर्ण कार्यक्रम का दिशा-निर्देश फैडरेशन प्रबंधक छैलू कंवर भाटी व मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामदयाल ने किया।

सरपंच ने महिलाओं से सुनीं शिकायतें, अधिकारियों को लताड़ा

राजमथाई दीनदयाल अंत्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका के तहत गुरुवार को प्रधानमंत्री ने प्रत्येक स्वयं सहायता समूह केन्द से समूह के लाभार्थियों से सीधा लाइव टेलीकास्ट किया। इस अवसर पर राजमथाई केंद्र के सीईओ सी. एस. राजपुरोहित ने समूह के योजनाओं के बारे में जानकारी दी। इस मौके पर राजमथाई सरपंच मदन सिंह राठौड़ अचानक केंद्र पहुंचकर समूह के लाभार्थियों को मिलने वाली सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी ली। इस मौके पर प्रत्येक समूह ने बताया कि हमें आज तक कोई योजनाओं का लाभ नहीं मिला और प्रत्येक महिला से 300 से लेकर 500 रुपए तक का लाभ नहीं लिया। न तो आने जाने की गाड़ियों का किराया दिया जाता है और न कोई पेंशन दी जा रही है। इस मौके पर सरपंच ने अधिकारियों को लताड़ लगाकर पाबंद किया कि प्रत्येक महिला को समूह का लाभ दिया जाए। कोई भी महिला समूह सरकारी योजनाओं से वंचित नहीं रहे। राजमथाई सरपंच मदन सिंह ने बताया आज से पहले समूह में जो कार्य हुए हैं उसकी जांच की जाए,तब आगे से समूह का कार्य शुरू करने दिया जाएगा अन्यथा कोई कार्य शुरू नहीं करने दिया जाएगा।