• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pokran
  • शॉर्ट सर्किट से अस्पताल में सुबह चार बजे बिजली गुल, डेढ़ घंटे तक अंधेरा, मरीज-परिजन परेशान
--Advertisement--

शॉर्ट सर्किट से अस्पताल में सुबह चार बजे बिजली गुल, डेढ़ घंटे तक अंधेरा, मरीज-परिजन परेशान

शहर के राजकीय अस्पताल में गुरुवार की अल सुबह तेज हवा के कारण बिजली की तारें आपस में टकराने से शॉर्टसर्किट के बाद...

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2018, 06:25 AM IST
शॉर्ट सर्किट से अस्पताल में सुबह चार बजे बिजली गुल, डेढ़ घंटे तक अंधेरा, मरीज-परिजन परेशान
शहर के राजकीय अस्पताल में गुरुवार की अल सुबह तेज हवा के कारण बिजली की तारें आपस में टकराने से शॉर्टसर्किट के बाद करीब डेढ़ घंटे तक बिजली गुल रही। शार्ट सर्कि सुबह चार बजे हुआ। इसके बाद साढ़े पांच बजे बिजली चालू हो सकी।

अल सुबह बिजली गुल होने के कारण अस्पताल में भर्ती मरीजों और साथ में आने वाले परिजनों की गर्मी के कारण हाल बेहाल हो गया। देखते ही देखते अस्पताल परिसर में मरीजों और परिजनों की भीड़ जमा हो गई। मरीजों और परिजनों के अस्पताल से बाहर आने की सूचना देर सवेरे शहर में आग की तरह फैल गई।

इस बीच किसी ने अस्पताल में आग लगने के कयास लगा रहा था तो किसी ने अस्पताल में करंट आने के कयास लगाने शुरू कर दिए। बाद में पोकरण राजकीय अस्पताल के चिकित्सा प्रभारी डॉ. बाबूलाल गर्ग ने पूरे मामले को स्पष्ट किया।

पोकरण . शहर के राजकीय अस्पताल में डेढ़ घंटे बंद रही बिजली।

नीम के पेड़ में उलझे बिजली के तारों के कारण हुआ शॉर्ट सर्किट

शहर के राजकीय अस्पताल के पास बड़ा नीम का पेड़ है। इसमें से बिजली की तारें गुजर रही है। गुरुवार की अलसुबह 4 बजे तेज हवाओं के चलने के साथ ही नीम में फंसे बिजली के तार आपस में टकरा गए। इस कारण तेज आवाज के साथ बिजली की सप्लाई बाधित हो गई। जिसके कारण मरीजों को परेशानी उठानी पड़ी।

डेढ़ घंटे बाद बहाल हुई बिजली सप्लाई तो मिली राहत

शहर के राजकीय अस्पताल में अल सुबह 4 बजे शॉट सर्किट के कारण बिजली सप्लाई बंद हो गई। इसे कारण गर्मी में मरीजों और परिजनों का हाल बेहाल हो गया। लगभग डेढ़ घंटे बाद सुबह 5.30 बजे बिजली सप्लाई सुचारु होने पर उमस और गर्मी से बेहाल मरीजों और उनके परिजनों को राहत मिली।


X
शॉर्ट सर्किट से अस्पताल में सुबह चार बजे बिजली गुल, डेढ़ घंटे तक अंधेरा, मरीज-परिजन परेशान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..