--Advertisement--

नगरपालिका की जेसीबी, ठेकेदार करा रहा काम

शहर में इन दिनों नगरपालिका द्वारा जगह जगह विकास कार्य करवाते हुए कहीं सीवरेज लाइन तो कहीं पर इंटरलॉकिंग सड़कों का...

Danik Bhaskar | May 08, 2018, 06:30 AM IST
शहर में इन दिनों नगरपालिका द्वारा जगह जगह विकास कार्य करवाते हुए कहीं सीवरेज लाइन तो कहीं पर इंटरलॉकिंग सड़कों का निर्माण करवाकर शहर की मूलभूत सुविधाओं को मुहैया करवाने की जद्दोजहद में जुटे हुए हैं। लेकिन हाल ही में नगरपालिका में चल रहे विकास कार्यों में पालिका की जेसीबी का निजी उपयोग लिया जा रहा है। जिसके चलते जहां एक ओर पालिका के वाहनों का निजी उपयोग हो रहा है वहीं दूसरी ओर पालिका की जेसीबी को विकास कार्यों पर पहुंचाकर सीधे रूप से ठेकेदारों को अधिकारियों द्वारा फायदा पहुंचाया जा रहा है। इस संबंध में स्थानीय लोगों द्वारा नगरपालिका के अधिकारियों को लिखित में ज्ञापन भी सौंपा गया। लेकिन अभी तक इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जिसके कारण स्थानीय लोगों में जहां पालिका के अधिकारियों के प्रति रोष बढ़ता जा रहा है। वहीं दूसरी ओर पालिका के वाहनों का धड़ल्ले से निजी उपयोग किया जा रहा है।

वार्डवासियों द्वारा ज्ञापन देने के बाद भी नहीं हुई कोई कार्रवाई : शहर के वार्ड संख्या 20 रेलवे स्टेशन पर सीवरेज लाइन बिछाने के दौरान नगरपालिका की जेसीबी का उपयोग किया जा रहा था। उस दौरान स्थानीय वार्डवासी मांगीलाल चौधरी व पुखराज सुथार ने उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर नगरपालिका की जेसीबी के हो रहे दुरुपयोग को रोकने की मांग की थी। उन्होंने ज्ञापन में बताया कि पिछले पांच दिनों से नगरपालिका की सरकारी जेसीबी का सीवरेज लाइन बिछाने में उपयोग लिया जा रहा है। ठेकेदार द्वारा किया जा रहा कार्य ठेकेदारी व्यवसाय के अंतर्गत आता है तथा ऐसे कार्यों में नगरपालिका की मशीनरी का इस्तेमाल बिना अधिकारियों की सहमति और मिलीभगत के बिना संभव नहीं है। इस संबंध में नगरपालिका के अधिकारियों को सूचित करने पर उन्होंने यह कहकर पल्ला झाड़ दिया कि इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने मांग की है कि इस मामले की जांच कर अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।