• Hindi News
  • Rajasthan
  • Pokran
  • भीषण गर्मी ; पशु के लिए न चारा न ही पानी चारा नहीं मिलने से पशुओं की अकाल मौत
--Advertisement--

भीषण गर्मी ; पशु के लिए न चारा न ही पानी चारा नहीं मिलने से पशुओं की अकाल मौत

Pokran News - भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक) राज्य सरकार द्वारा जैसलमेर जिले को अकालग्रस्त घोषित करने के बाद भी क्षेत्र में...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 06:35 AM IST
भीषण गर्मी ; पशु के लिए न चारा न ही पानी चारा नहीं मिलने से पशुओं की अकाल मौत
भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक)

राज्य सरकार द्वारा जैसलमेर जिले को अकालग्रस्त घोषित करने के बाद भी क्षेत्र में चारा डीपो ो व पशु शिविर नहीं खोले गए है। जिसके कारण आए दिन पशुओं की अकाल मौत हो रही है। वहीं जिला प्रशासन द्वारा इस संबंध में कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे है। इसके बाद भी प्रशासन द्वारा चारा डीपो ो के लिए प्रस्ताव भी नहीं लिए जा रहे है। जिसके चलते ग्रामीण क्षेत्रों में जहां एक ओर ग्रामीण स्वयं के खर्चे पर आवारा पशुओं को जिंदा रखने की जद्दोजहद में जुटे हुए है। वहीं दूसरी ओर कई आवारा पशु चारे व पानी के अभाव में काल का ग्रास बन रहे है। उपखंड क्षेत्र सहित पूरे जिले में अकाल राहत के तहत चारा डीपो ो व पशु शिविर नहीं खुलने के कारण क्षेत्र के पशुओं की दिनों दिन मौत हो रह है। इस संबंध में अभी तक प्रशासन द्वारा क्षेत्र में पशु शिविर व चारा डीपो ो नहीं खोला जा रहा है। जिसके कारण क्षेत्र के कई पशुओं की अकाल मौत हो रही है। अभी तक प्रशासन द्वारा इस ओर कोई ठोस कदम नहीं उठाने के कारण पशुपालकों में भी प्रशासन के प्रति दिनों दिन रोष बढ़ता जा रहा है। प्रशासन द्वारा समय पर क्षेत्र में पशु शिविर व चारा डीपो नहीं खोलने के कारण पशुओं के हाल बेहाल हो रहे है।

प्रशासन ने अभी तक नहीं खोले पशु शिविर व चारा डिपो

उपखंड क्षेत्र सहित पूरे जिले में प्रशासन द्वारा अभी तक चारा डीपो व पशु शिविर नहीं खुलने के कारण पशुपालकों के साथ आवारा पशुओं की दयनीय स्थिति दिनों खराब होती जा रही है। उपखंड क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में बरसात नहीं होने के कारण वहां पर हरा चारा भी नहीं उपलब्ध हो रहा है। जिसके कारण यहां पर चारा नहीं मिलने के कारण पशुओं की हालत दिनों दिन गंभीर होती जा रही है। प्रशासन द्वारा समय पर चारा डिपो व पशु शिविर नहीं खोलने से पशुओं को स्थिति खराब हो रही है। समय पर प्रशासन द्वारा पशु शिविर व चारा डिपो खोला जाता है तो पशुओं की अकाल मौत पर अंकुश लग सकता है।

सैकड़ों की संख्या में घूम रहे आवारा पशु

उपखंड क्षेत्र में सैकड़ों की संख्या में पशु आवारा घूम रहे है। इसको लेकर प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने के कारण क्षेत्र के सैकड़ों पशु आवारा पशु घूमते है तथा चारे के अभाव में पशुओं को दिन दिनो दयनीय स्थिति हो रही है। जिसके कारण सैकड़ों पशु आवारा इस भीषण गर्मी में हाल बेहाल हो रहे है। आवारा पशुओं को लेकर प्रशासन द्वारा क्षेत्र के संचालित गौशालाओं में भी नहीं भेजा रहा है। जिसके कारण क्षेत्र के सैकड़ों पशु आवारा घूमते दिखाई दे रहे है।



X
भीषण गर्मी ; पशु के लिए न चारा न ही पानी चारा नहीं मिलने से पशुओं की अकाल मौत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..