--Advertisement--

गोचर भूमि पर कब्जा कर पक्के मकान बनाए

भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक) ग्राम पंचायत डिडाणिया के राजस्व गांव मोरानी गांव के पास गैर मुमकिन गोचर भूमि...

Danik Bhaskar | Jul 14, 2018, 06:40 AM IST
भास्कर संवाददाता | पोकरण (आंचलिक)

ग्राम पंचायत डिडाणिया के राजस्व गांव मोरानी गांव के पास गैर मुमकिन गोचर भूमि पर भू-माफियाओं द्वारा किए गए अतिक्रमण हटाने की मांग है। समाजसेवी मांगीलाल गहलोत ने उपखण्ड अधिकारी ज्ञापन सौंपकर बताया कि ग्राम मोरानी एवं आस-पास क्षेत्र में लगभग 550-600 छोटे मोटे मवेशियों की संख्या है। उन्होंने बताया कि पशुओं के चरने के लिए मोराणी गांव की पूर्व दिशा में खसरा नंबर 1347 में रकबा 252.11 बीघा गोचर भूमि आरक्षित की गई है। गहलोत ने बताया कि आरक्षित की गई भूमि पर भू-माफियाओं ने अतिक्रमण कर एक पक्का कमरा, चार दीवारी, टीन शैड, बाडा एवं टांका का निर्माण कर गोचर भूमि को हड़प रहे है। गहलोत ने बताया कि भू-माफियाओं की राजनैतिक दबदबा होने के कारण एवं आदतन आपराधिक अतिक्रमी होने के कारण किसी की नहीं सुनते है। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि गोचर भूमि पर किए गए अतिक्रमण को हटाकर राजस्व विभाग का बोर्ड लगाया जाएं। ज्ञापन देने वालों में रामेश्वर, पप्पूलाल, रतनलाल, भंवरलाल सहित कई लोगों के हस्ताक्षर थे।

बरसाती नाला व श्मशान भूमि पर अवैध कब्जा : पोकरण शहर के बागवानों का वास निवासी भगवानाराम ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंप बरसाती नाला व बाल श्मशान भूमि पर भू माफियाओं द्वारा किए जाने वाले अतिक्रमण को हटाने की मांग की।

उन्होंने ज्ञापन में बताया कि कंवरलाल पुत्र नथूराम माली द्वारा रामदेवसर तालाब में आ रहे बरसाती नदी को रोककर अतिक्रमण कर दिया है। जिससे कि बरसात होने पर मोहल्ले के पूरे घरों में पानी भर जाता है। रामदेवसर तालाब के पास बाल श्मशान भूमि आई हुई है। इस पर भी भू माफियाओं द्वारा रातों रात कमरों का निर्माण कर दिया गया है। नगरपालिका प्रशासन को कई बार मौखिक रूप से सूचना दी गई है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। अतिक्रमी झगड़ालू व ऊंची पहुंच वाले होने के कारण इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। उन्होंने मांग की है कि रामदेवसर तालाब के सौंदर्य को देखते हुए अतिक्रमी पर सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए बाल श्मशान की भूमि भी अतिक्रमण मुक्त करवाई जाए।

आम रास्ते पर किए गए अतिक्रमण को हटाने की मांग : पोकरण शहर के वार्ड संख्या 2 निवासी रामेश्वर माली ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंप आम रास्ता की भूमि पर भू माफियाओं द्वारा किए गए अतिक्रमण को हटाने की मांग की। उन्होंने बताया कि बागवानों का वास वार्ड संख्या 2 में सेवापुरी महाराज का धूणा स्थित है। जहां सुबह और शाम दर्शनार्थियों का तांता लगा रहता है। धूणा आने जाने के आम रास्ते पर रमेश पुत्र गोपालराम व नखताराम पत्र नारायणराम माली निवासी डिडाणिया ने अनधिकृत रूप से अवैध कब्जा कर दिया है। जिससे कि श्रद्धालुओं को काफी कठिनाइयां होती है व आने जाने के लिए अन्य रास्तों का उपयोग करना पड़ता है। उन्होंने मांग की है कि आम रास्ते से अतिक्रमण हटाया जाए।

अतिक्रमण

ग्राम पंचायत डिडाणिया के राजस्व गांव मोरानी गांव के पास गोचर भूमि पर किया कब्जा