परतापुर

--Advertisement--

बेटी के पास मोबाइल देख दामाद ने पीटा था

परतापुर/बांसवाड़ा। गढ़ी क्षेत्र के गोपीनाथ का गड़ा गांव के खेत में मंगलवार सुबह बबूल के पेड़ पर फंदे से लटका एक...

Dainik Bhaskar

Apr 04, 2018, 06:15 AM IST
बेटी के पास मोबाइल देख दामाद ने पीटा था
परतापुर/बांसवाड़ा। गढ़ी क्षेत्र के गोपीनाथ का गड़ा गांव के खेत में मंगलवार सुबह बबूल के पेड़ पर फंदे से लटका एक महिला का शव मिला। इत्तला पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव नीचे उतरवाकर शिनाख्त कराई। जिस पर मृतका की पहचान पड़ोसी डकारकुंडी पंचायत के उलाई गांव की 32 वर्षीय अनिता प|ी विजयपाल चरपोटा के रूप में हुई। अनिता के पति ने पुलिस को बताया कि प|ी की मानसिक दशा 4 दिन से ठीक नहीं थी। रात को भी बिना बताए वह घर से चली गई थी। वहीं पीहर पक्ष ने आरोप लगाया है कि बेटी के पास मोबाइल मिलने से दामाद ने मारा था। जिससे वह घर से निकल गई थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। थानाधिकारी भैयालाल ने मौके पर ही अनिता के पति विजयपाल से बात की तो वियजपाल ने बताया कि इन दिनों उसकी प|ी की मानसिक दशा ठीक नहीं थी। इलाज कराने उसके पास रुपए नहीं थे। तड़के 4 बजे घर से निकल गई। इस पर अनिता के मामा शंभुलाल का कहना था कि दामाद विजयपाल ने सुबह 4 बजे कॉल किया था। तब उन्होंने बताया था कि अनिता के पास मोबाइल देख मैंने उसे मारा था। इसलिए वह अभी घर से निकल गई है।

मां का शक: हमेशा गहने पहनी थी, अभी नहीं

अनिता की मां कमला ने बताया कि उनकी बेटी हमेशा गहने पहने रहती थी। उसने खुदकुशी ही की होती तो गहने तो पहने होती। पेड़ से झूलने के लिए घर से इतनी दूर आने की जरूरत भी नहीं थी। मौके पर डकारकुंडी सरंपच पंकज चरपोटा और अडोर सरपंच गुणवन्त सिंह ने समझाइश की।

पति से पूछताछ करती पुलिस और इस दौरान जमा ग्रामीणों की भीड़।

X
बेटी के पास मोबाइल देख दामाद ने पीटा था
Click to listen..