--Advertisement--

लोक सभ्यता का महाकुंभ

वागड़ के आंचलिक उत्सव में धार्मिक पर्यटन भी शामिल भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा ‘अरथूनामाही महोत्सव’ के तहत 7...

Dainik Bhaskar

Jan 06, 2018, 07:00 AM IST
वागड़ के आंचलिक उत्सव में धार्मिक पर्यटन भी शामिल

भास्कर संवाददाता | बांसवाड़ा

‘अरथूनामाही महोत्सव’ के तहत 7 जनवरी को आयोजित जिला दर्शन रैली कार्यक्रम के अन्तर्गत बसों की विशेष व्यवस्था की गई है। जिला दर्शन संयोजक मुजफ्फर अली ने बताया कि जिला दर्शन के लिए 2 बसें शताब्दी ट्रेवल्स शताब्दी मोड़ से 7 जनवरी को सुबह 8 बजे प्रस्थान करेंगी। यह बसें कागदी पिकअपवियर होते हुए प्रातः 10 बजे पौराणिक पर्यावरणीय महत्ता के स्थान घोटिया आंबाधाम पहुंचेगी। यह बसें 10.30 बजे घोटिया आंबा से रवाना होकर चोखला होते हुए ब्रह्माधाम छींच पहुंचेगी जहां पर्यटकों द्वारा दर्शन भ्रमण किया जाएगा। वहां से त्रिपुरा सुंदरी मंदिर पहुंचेगी, जहां दर्शन कर 1.30 बजे भोजन उपरांत तलवाड़ा, गढ़ी होते हुए सायं 4.30 बजे अरथूना पहुंचेंगे, जहां रंगारंग शास्त्रीय संगीत संध्या में भाग लेकर सभी यात्री रात्रि 10 बजे बांसवाड़ा पहुंचेंगे।

संयोजक मुजफ्फर अली ने बताया कि जिला दर्शन की बुकिंग आरक्षण के लिए इच्छुक व्यक्ति शताब्दी ट्रेवल्स बांसवाड़ा में स्थापित काउंटर पर शनिवार को सुबह 10 से 5 बजे तक करवा सकते हैं। उन्होंने सीटें सीमित होने के कारण ’पहले आओ पहले पाओ’ आधार पर दर्शनार्थी पर्यटकों से टिकिट यथाशीघ्र आरक्षित करने का अनुरोध किया है। उन्होंने बताया कि आरक्षण के लिए दूरभाष संख्या 02962-248482, 241682 तथा मोबाईल नंबर 9001583382 से सम्पर्क किया जा सकता है।

जिला दर्शन यात्रा के सह संयोजक हेमांग जोशी ने बताया कि जिला दर्शन यात्रा को आकर्षक बनाने की दृष्टि से जिला मुख्यालय से पचास से अधिक बुलेट्स पर युवा भी रैली के रूप में सम्मिलित होंगे। उन्होंने बताया कि बुलेट्स रैली के लिए युवाओं का दल स्वाधीन पंकज संग्राम पंकज के नेतृत्व में तैयारियां कर रहे हैं। ये बाइक राइडर्स सुबह 7.15 बजे कुशलबाग मैदान से एकत्र होकर गांधी मूर्ति, पीपली चौक, भोजापालिया, महालक्ष्मी चौक, आजाद चौक, नई आबादी, रातीतलाई, महाराणा प्रताप सर्किल, मोहन कॉलोनी, शताब्दी मोड़, कागदी पिकअपवियर होते हुए मुख्य बसों के साथ घोटिया आंबा, चोखला, छींच, त्रिपुरा सुंदरी परतापुर होते हुए अरथूना के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।

जिला प्रशासन की पहल पर 8 जनवरी को ‘बांसवाड़ा बर्ड फेस्टिवल’ मनाया जाएगा। कूपड़ा तालाब पर आयोजित बर्ड फेस्टिवल के तहत आमजन को पक्षियों के दर्शन करने में सहयोग के लिए उपवन संरक्षक कार्यालय के 6 वनरक्षक बायनोकूलर के साथ कूपड़ा तालाब पर तैनात रहेंगे।

उपवन संरक्षक ने राकेश बारोड़, राकेश पाटीदार, कल्पेश पाटीदार, प्रतापसिंह चूंडावत, सुधा मेहता, दीपा राठौर को 8 जनवरी को 7.30 से दोपहर 12 बजे तक कूपड़ा तालाब पर आमजन को पक्षियों की पहचान कराने में सहयोग करने के लिए निर्देशित किया है। फेस्टिवल के तहत बच्चों को दिए जाने वाले पक्षियों के फोल्डर का शुक्रवार को जिला कलेक्टर भगवतीप्रसाद उपखंड अधिकारी डॉ.भंवरलाल ने विमोचन किया। कलेक्ट्रेट में फोल्डर का विमोचन करते हुए कलेक्टर ने इसमें शामिल पक्षी प्रजातियों के बारे में जानकारी ली। बर्ड फेस्टिवल संयोजक कमलेश शर्मा ने बताया कि फोल्डर में वागड़ अंचल में पाए जाने वाले 119 प्रजातियों के स्थानीय और प्रवासी पक्षियों की सचित्र जानकारी दी गई है। इसमें पक्षियों के अंग्रेजी प्रचलित नाम और स्थानीय नामों को लिखा गया है, ताकि बच्चों को पक्षी दर्शन दौरान पक्षियों को पहचानने में आसानी हो सके। इस दौरान पर्यटन उन्नयन समिति के संरक्षक जगमालसिंह, केंद्रीय सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक अनिमेश पुरोहित, सीओ स्काउट दीपेश शर्मा, पर्यटन अधिकारी अनिल तलवाड़िया, लियो संस्थान के निदेशक मनीष त्रिवेदी, हेमांग जोशी और सदस्य मौजूद थे।

रविवारसे मंगलवार तक ये होंगे आयोजन : महोत्सवमें रविवार को जिला दर्शन रैली का आयोजन सुबह 8 बजे कागदी पिकअपवियर पर रंगारंग शास्त्रीय संगीत निशा का आयोजन शाम 5 बजे माहीडैम आईलैंड पर किया जाएगा। सोमवार को आईलैंड फेस्टिवल का आयोजन शाम 5 बजे माहीडैम आईलैंड पर किया जाएगा। मंगलवार को एडवेंचर स्पोर्ट्स सुबह 8 बजे से समाई माता मंदिर पर, नौकायन प्रतियोगिता दोपहर 2 बजे से गेमन पुल पर और सांस्कृतिक संध्यान शाम 7 बजे से कुशलबाग मैदान पर होगी।

पक्षी मेले के फोल्डर का विमोचन करते कलेक्टर, एसडीएम और गणमान्य नागरिक।

बाल अधिकार आयोग की अध्यक्ष कल आएंगी, 3 दिन गांवों का दौरा करेंगी

बांसवाड़ा.राज्य बाल अधिकार-संरक्षण आयोग की अध्यक्ष मनन चतुर्वेदी कुपोषण से मुक्ति के लिए शुरू किए जा रहे अभियान संकल्प-2018 के तहत रविवार शाम को बांसवाड़ा पहुंचेंगी। इस अभियान का आगाज बर्ड फेस्टिवल के साथ किया जाएगा। इसे लेकर लेकर सभी ब्लॉक और ग्राम पंचायतों में बाल संरक्षण समितियों के माध्यम से प्रभावी बनाने के लिए विकास अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। 8 से 10 जनवरी के बीच अध्यक्ष ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा कर ब्लॉक एवं ग्राम पंचायत स्तरीय बाल संरक्षण समितियों की सक्रिय भूमिका तय करेंगी। जिला बाल कल्याण समिति के सदस्य मधुसूदन व्यास ने बताया कि आयोग की अध्यक्ष चतुर्वेदी 7 जनवरी को रात्रि 8 बजे बांसवाड़ा पहुंचेंगी। 8 जनवरी को सुबह 9 बजे जिला प्रशासन की ओर से आयोजित बर्ड फेस्टिवल का आगाज हजारों बालकों की किलकारियों के बीच करेंगी। दोपहर 2 बजे छाजा, बरजड़िया, रोहिड़ा, आसोड़ा, मेतवाला गांवों में कुपोषित बच्चों से मिलेंगी। 9 जनवरी तलवाड़ा ब्लॉक के गामड़ी, सुरवानिया, जगतराम का पारड़ा जाएंगी। शाम को 4 बजे सर्किट हाउस में बाल अधिकारों के विषय पर सीईओ डीईओ, सामाजिक न्याय विभाग, बाल कल्याण समिति, परिवहन, चिकित्सा, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, मानव तस्करी विरोधी यूनिट आदि विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..