दलोट आदर्श अस्पताल में डॉक्टर के चार पद, एक कार्यरत होने से मरीजों को होना पड़ रहा है परेशान

Pratapur News - अरनोद उपखंड के प्रमुख कस्बे दलोट में 100 से 120 ओपीडी वाले आदर्श चिकित्सालय राम भरोसे चल रहा है। अस्पताल में महिला...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 06:56 AM IST
Arnod News - rajasthan news four posts of doctor in dalot adarsh hospital patients are suffering due to one working
अरनोद उपखंड के प्रमुख कस्बे दलोट में 100 से 120 ओपीडी वाले आदर्श चिकित्सालय राम भरोसे चल रहा है। अस्पताल में महिला डॉक्टर नहीं होने व महिला नर्स की कमी के चलते प्रसुताओं व महिला मरीजों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। वहीं सरकारी अस्पतालों में चिकित्सकों की लगातार घटती संख्या व स्थानांतरण से लोगों की परेशानी बढ़ती जा रही है।

अादर्श अस्पताल में पहले 70 से 90 डिलीवरी प्रतिमाह हाेती थी। दलोट आदर्श अस्पताल में चिकित्सा अधिकारी के 3 पद स्वीकृत हैं, लेकिन अभी 2 पद खाली हैं। अस्पताल में एक मात्र डॉ. प्रशांत चौहान सेवाएं दे रहे हैं। इसी तरह आदर्श चिकित्सालय औषधि केंद्र भी है लेकिन यहां पर आयुष डॉक्टर का पद भी खाली पड़ा है, जिसके चलते परिसर में हर्बल उद्यान उजाड़ हो रहा है। नर्सिंग कर्मी भी मात्र पांच है, जिनमें चार पुरुष कर्मी और व एक महिला नर्स है। महिला नर्स की कमी होने के कारण अस्पताल में आने वाली प्रसुताओं को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। एक मात्र महिला नर्स की 8 घंटे की नाैकरी के बाद नर्सिंग कर्मी बदलते हैं, उस वक्त में आने वाली प्रसूताओं को पुरुष नर्स द्वारा डिलीवरी करवाने पर मजबूर होना पड़ता है।

दलोट. दलोट आदर्श अस्पताल में है स्टाफ की कमी।

आदर्श अस्पताल में नहीं है मोर्चरी

दलोट आदर्श अस्पताल में मोर्चरी की सुविधा नहीं होने से कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उपखंड मुख्यालय पर सालमगढ़ थाना क्षेत्र के मुख्य कस्बे दलोट ओर आस-पास में होने वाली दुर्घटना में मृतकों के पोस्टमार्टम करने की सुविधा नहीं होने तथा मृतक के शव को रखने के लिए अस्पताल में मोर्चरी नहीं होने के कारण लोगों को परेशानी उठानी पड़ती है। मोर्चरी के अभाव में दुर्घटना में शव को पोस्टमार्टम के लिए सालमगढ़ या अरनोद ले जाना पड़ता है। इस समस्या के बाद भी न तो जनप्रतिनिधियों द्वारा इस ओर कोई ध्यान दिया जा रहा है और न ही अधिकारियों द्वारा कोई कार्रवाई की जा रही है। ग्रामीणों ने दलोट अस्पताल में मोर्चरी की व्यवस्था करवाने की मांग की है।

दलोट. अस्पताल और फार्मासिस्ट की खाली पड़ी कुर्सी ।


मलेरिया की जांच अरनोद में हो रही

कहने को तो यह अस्पताल आदर्श है, लेकिन सुविधाएं बद से बदतर है। दलोट अरनोद उपखंड का प्रमुख कस्बा है। जिसके चलते आसपास के ग्रामीण भी बेहतर चिकित्सा सुविधाएं लेने के लिए दलोट आदर्श हॉस्पिटल में आते हैं। लेकिन यहां मलेरिया सहित कई अन्य जांच करने के लिए ना ही लेब टेक्नीशियन है अाैर ना ही दवाई देने के लिए फार्मासिस्ट। स्थानांतरण के बाद दोनों पद खाली हैं। वर्तमान में लैब सहायक संजय सोनी लैब संभाल रहे हैं। हिमोग्लोबिन, ब्लड ग्रुप व शुगर की जांच की जा रही है। मलेरिया सहित विभिन्न जांच के लिए स्लाइड को एकत्रित कर जांच के लिए अरनोद सीएससी भेजा जा रहा है, वहां से जांच हो कर रिपाेर्ट आ रही है।


Arnod News - rajasthan news four posts of doctor in dalot adarsh hospital patients are suffering due to one working
X
Arnod News - rajasthan news four posts of doctor in dalot adarsh hospital patients are suffering due to one working
Arnod News - rajasthan news four posts of doctor in dalot adarsh hospital patients are suffering due to one working
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना