अभयारण्य क्षेत्र की नदियों से चल रहा है बजरी का अवैध खनन, ईंटों के लिए कट रहे हैं जंगल

Pratapur News - धरियावद. बजरी से भरे ट्रैक्टर खुलेआम खड़े रहते हैं। भास्कर न्यूज| धरियावद क्षेत्र में बजरी का अवैध खनन खुलेआम...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:05 AM IST
Dhariyavad News - rajasthan news illegal mining of gravel is being run from the sanctuary area the forest is cut for bricks
धरियावद. बजरी से भरे ट्रैक्टर खुलेआम खड़े रहते हैं।

भास्कर न्यूज| धरियावद

क्षेत्र में बजरी का अवैध खनन खुलेआम किया जा रहा है। नगर के रावला बाग स्थित कर्ममोचिनी नदी किनारे रोजाना दर्जनों ट्रैक्टर बजरी से भरे खड़े रहते हैं। इनके यहां खड़े रहने से कई बार रास्ता जाम हो जाता है। सबसे ज्यादा खनन सीतामाता सेंचुरी तथा वन विभाग के अधीन नदियों से किया जा रहा है। खनिज और वन विभाग द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। अवैध खनन और आवागमन बाधित होने को लेकर नगर के मनीष वैष्णव, ओमप्रकाश शर्मा, महेन्द्र, रोहित माली, रमेश गायरी, अशोक नाथ, हेमंत वैष्णव सहित कई लोगों ने धरियावद तहसीलदार, पुलिस और वन विभाग को ज्ञापन देकर कार्रवाई करने की मांग की। कलेक्टर के नाम ज्ञापन भेजने के साथ ही संपर्क पोर्टल पर भी शिकायत की गई, लेकिन संबंधित विभाग द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई।

ईंट पकाने के लिए जंगल का कर रहे विनाश

सीतामाता वन्यजीव अभयारण्य और प्रादेशिक वनखंड अधीन क्षेत्र में ईंट भट्टे के कारोबार में लिप्त लोगों ईंट पकाने के लिए जंगल में पेड़ों की कटाई की जा रही है। जंगल से रोजाना ट्रैक्टरों के माध्यम से जलाऊ लकड़ी सहित सागवान की लकड़ियां काटकर ले जाई जा रही हैं। वन विभाग की ओर से हाल ही के दो महीने में 4 से 5 बार लकड़ी से भरे वाहनों पर कार्रवाई भी की, लेकिन इस पर अब तक पूरी तरह अंकुश नहीं लग पाया है।

X
Dhariyavad News - rajasthan news illegal mining of gravel is being run from the sanctuary area the forest is cut for bricks
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना