• Home
  • Rajasthan News
  • R Mandi News
  • आज गुप्त मतदान से तय होगा दोनों संरक्षकों का भविष्य
--Advertisement--

आज गुप्त मतदान से तय होगा दोनों संरक्षकों का भविष्य

क्षेत्र के कोटा स्टोन व्यापारियों की संस्था कोटा स्टोन स्मॉल स्केल इंडस्ट्रीज एसोसिएशन(केएसएसएसआईए) के दोनों...

Danik Bhaskar | May 02, 2018, 06:00 AM IST
क्षेत्र के कोटा स्टोन व्यापारियों की संस्था कोटा स्टोन स्मॉल स्केल इंडस्ट्रीज एसोसिएशन(केएसएसएसआईए) के दोनों संरक्षकों की नियुक्ति के अनुमोदन के लिए बुधवार को गुप्त मतदान होगा। इससे तय होगा कि दोनों संरक्षक अपने पद पर बने रहेंगे या नहीं।

केएसएसएसआईए की पांच फरवरी 2007 में हुई बैठक में एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष हुकम बापना और उनके बाद अध्यक्ष बने यतीश अग्रवाल को संरक्षक नियुक्त किया गया था। तब से दोनों लगातार संरक्षक हैं। इसके बाद कुछ समय पूर्व एसोसिएशन के सदस्य राजकुमार पारख ने एसोसिएशन में बनाए गए दो संरक्षक के संबंध में रजिस्ट्रार को शिकायत की थी। इसमें दोनों की नियुक्ति को संविधान के विरुद्ध बताया था। रजिस्ट्रार ने इस मामले में जवाब मांगा था।

कोर्ट के आदेश पर हो रहा चुनाव, सुबह 8 बजे शुरू होगा मतदान

इसको लेकर पारख ने स्थानीय कोर्ट में स्टे के लिए याचिका भी लगाई थी, जिसे कोर्ट ने गत पांच अक्टूबर को खारिज कर दिया था। पारख व प्रमोद कुमार ने इस संबंध में राजस्थान हाईकोर्ट में वाद दायर किया था। इस पर हाईकोर्ट ने गत 13 अक्टूबर को राजस्थान नॉन ट्रेडिंग कंपनीज नियम 1962 के नियम 15 के तहत प्रकरण का निस्तारण छह माह में करने के रजिस्ट्रार को निर्देश दिए थे। इसकी पालना में रजिस्ट्रार ने गत 21 मार्च को इस मामले में फैसला दिया।फैसले में कहा गया था कि पांच फरवरी 2007 की बैठक में संरक्षकों की नियुक्ति के संबंध में लिए गए निर्णय का अनुमोदन आदेश प्राप्ति के 45 दिनों के अंदर एसोसिएशन की आमसभा में कराया जाए। रजिस्ट्रार के फैसले के बाद गत 21 अप्रैल को एसोसिएशन की बैठक अध्यक्ष जगदीशसिंह शक्तावत की अध्यक्षता में हुई थी। इसमें निर्णय के अनुमोदन के लिए दो मई की तिथि तय की गई थी। एसोसिएशन के सचिव अकलेश मेड़तवाल ने बताया कि अनुमोदन गुप्त मतदान के आधार पर होगा। बुधवार को कुदायला स्थित एसोसिएशन भवन में सुबह आठ बजे से मतदान शुरू होगा, जो तीन बजे तक चलेगा। मतदान पूरा होने के बाद मतों की गिनती कर परिणाम घोषित किया जाएगा। इसमें संरक्षकों को अपने पदों पर रखने या नहीं रखने के लिए मतदान होगा। ऐसे में मतदान से दोनों संरक्षकों के बने रहने या नहीं रहने का फैसला होगा। मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। इसमें कुल 1708 मतदाता हैं।